WOW..पापा शाहिद कपूर हैं सुपर हैप्पी..बेटी मीशा के इस नए परिवर्तन से

lead image

ईयररिंग में मीशा बहुत ही प्यारी लग रही हैं!

अपनी बेटी के कान छिदवाना किसी भी पैरेंट्स के लिए बेहद खास लम्हा होता है और इसलिए ऐसा लगता है कि शाहिद कपूर भी अपनी खुशी छिपा नहीं पा रहे हैं।

जी हां आपने बिल्कुल सही पढ़ा! शाहिद कपूर की एक साल की बेटी मीशा ने अपने कान छिदवाए हैं और एक्साइटेड पापा शाहिद कपूर ने उनकी ईयररिंग के साथ पहली तस्वीर भी शेयर की।

शाहिद कपूर ने मीशा के कान छिदवाने के बाद इंस्टाग्राम पर तस्वीर शेयर की। शायद मीशा को शांत करने के लिए उनकी मम्मा मीरा ने उन्हें लॉलीपॉप दिया।

 

A post shared by Shahid Kapoor (@shahidkapoor) on

कान छिदवाते वक्त शाहिद मीशा के साथ नहीं थे इसलिए वो और भी एक्साइटेड लग रहा थे और मीशा की ईययरिंग के साथ तस्वीर शेयर की। उन्होंने लिखा कि आखिरकार मैंने कान छिदवाए! लॉलीपॉप ट्रीट के लिए थैंक्स मम्मा..आप बेस्ट हो

शाहिद कपूर बॉलीवुड के डॉटिंग डैड में से एक हैं और मीशा से जुड़े हर खास लम्हों को सोशल मीडिया पर शेयर करते हैं। उदाहरण के लिए जब मीशा ने पहली बार ताली बजाना सीखा या उनका पहला कदम सबकुछ उनके लिए स्पेशल था।

अगर आपको याद हो तो शाहिद कपूर ने सोशल मीडिया पर वीडियो शेयर किया था जिसमें मीशा ताली बजा रही थीं और उनके पापा बड़े ही प्यार से उन्हें देख रहे थे। उन्होंने वीडियो के साथ लिखा भी था कि अब वो ताली बजाना भी सीख गई है।

 

A post shared by Shahid Kapoor (@shahidkapoor) on

क्या करें क्या ना करें!

इन सब के बीच अगर आप भी अपनी बेटी के कान छिदवाना चाहती हैं तो कुछ बातों का ख्याल रखना बेहद जरूरी है।

कोलंबिया एशिया हॉस्पिटल की कंस्लटेंट त्वचा रोग विशेषज्ञ डॉ सलोनी काटोक्ष के अनुसार जब आप अपनी बेबी के कान छिदवाते हैं तो कई सावधानी बरतने की जरूरत होती है ताकि इंफेक्शन का खतरा ना रहे।

डॉ काटोक्ष ने इस दौरान हमें विस्तार से बताया कि अपनी बच्चियों के कान छिदवाने के दौरान क्या करें और क्या ना करें। आप भी डालिए एक नजर

  1. इस बात का ख्याल रखें कि piercing साफ सुथरे तरीके से की गई हो। अपने हाथों को धोएं और उस एरिया पर एंटीबैक्टेरियल सॉल्यूशन रूई से लगाएं।
  2. तव्चा रोग विशेषज्ञ जो भी लोशन दे उसे कम से कम दो तक सप्ताह लगाएं ताकि इंफेक्शन ना हो। डॉक्टर द्वारा दी गई सलाह को ही मानें।
  3. घाव पूरी तरह भर जाने के बाद ज्यादातर लोग बच्चियों की ईयररिंग को बदलना चाहते हैं लेकिन कम से कम 6 से 8 सप्ताह तक इंतजार करें क्योंकि Ear Walls को ठीक होने में समय लगता है।
  4. दबाने वाले ईयररिंग को ना पहनाए क्योंकि इससे एलर्जी का खतरा रहता है। दो महीने हो के बाद स्टील, प्लेटिनम , टिटेनियम, 15-18 कैरेट के सोने के ईयररिंग पहनाएं।
  5. हमेशा देखते रहे कि कहीं इंफेक्शन, डिस्चार्ज तो नहीं हो रहा अगर हां तो डॉक्टर के पास लेकर जाएं।
  6. गंदे हाथों से वहां कभी ना छुएं।
  7. धीरे धीरे ईयररिंग को घुमाएं ताकि वहां कुछ जमा ना हो और वो एरिया साफ रहे।
  8. अगर बेबी एक साल से छोटी है तो उसे लोकल छेद करने वाले के पास नहीं बल्कि सिर्फ डॉक्टर के पास ले जाएं।