10 tips जिससे बच्चे की skin को रंगो के हमले से बचाया जा सकता है

lead image

होली रंगों का त्यौहार है और इन रंगों में  न जाने कैसे कैसे रसायनों यानी केमिकल की भरमार है। बच्चे रंगों से भरे वाटर बैलून्स और वाटर गन भी इस्तेमाल करते हैं। इससे पहले की आब इस रंगोत्सव में शामिल हों, एक बार सोच कर देखिये की इन केमिकल का बच्चे की मासूम त्वचा पर कितना भयानक असर होगा ।

दिल्ली के स्किन अलाइव में त्वचा विशेषज्ञ डॉ. चिरंजीव छाबड़ा बताते हैं “केमिकल और मेटालिक रंग स्वास्थ्य पर बहुत बुरा असर डालते हैं , इनसे एलर्जी, त्वचा पर राशेस, बाल नाज़ुक हो जाते हैं । अपने बच्चे से प्राकृतिक रंगों के साथ होली खेलने को कहें।इसके अलावा होली खेकने से वहले या तो औने बच्चे से हेयर कट कराने को कहें या बालों को बचाने के लिए टोपी पहना दें।”

त्वचा और सर को नुकसान होने से बचाने के लिए वो कुछ उपाय बताती हैं जो इस प्रकार हैं ।:

  • नारियल या सरसो के तेल को पुरे शरीर में लगा लें ताकि बाद में आसानी से रंग धोये जा सकें । आप सीओलड़ क्रीम लगाकर भी अपनी त्वचा की प्राकृतिक खूबसूरती वापस पा सकते हैं ।
  • शरीर को पूरी तरह से ढकने लायक कपडे पहनें। पुरे स्लीव वाले शर्ट, पेंट पहनें ताकि रंगों का संपर्क आपकी त्वचा से कम से कम हो ।
  • अब क्योंकि गर्मी और धुप भी बहुत तेज़ होगी इसीलिए आपके बच्चे को अल्ट्रा वायलेट किरणों से भी खतरा हो सकता है इसीलिए सन ग्लास और सन स्क्रीन लगा लें।
  • कुछ पेट्रोलियम जेली शरीर पर लगा लें जिससे त्वचा में सूखापन न आये ।
drinking water Brisbane 10 tips जिससे बच्चे की skin को रंगो के हमले से बचाया जा सकता है

होली खेलने जाने से पहले बच्चे को ज्यादा से ज्यादा पानी पिलायें ।

  • त्वचा पर केमिकल लगने से वो शरीर से पानी सोख लेते हैं जिससे शरीर में पानी की बहुत तेज़ी से कमी हो जाती है।इसीलिए आर्गेनिक रंगों का इस्तेमाल करना चाहिए जिससे त्वचा को उतना नुकसान नहीं होता है। इसीलिए होली खेलने जाने से पहले ढेर सारा पानी पियें।
  • चेहरे से रंग उतरने के लिए गुनगुने पानी का इस्तेमाल करें । थोडा ग्लिसरीन, सी साल्ट, एरोमा आयल मिलाकर लगाने से बैक्टीरिया या इन्फेक्शन से बचने में आसानी होती है ।
  • सूखे बालों के लिए रात में बालों में तेल लगा लें और अगले दिन अच्छे से धो के कंडीशनर लगा लें ।
  • आप रंग हटाने के लिए पके हुए केले को पीस कर भी लगा सकते हैं ।
  • बच्चों के नाखूनों को अच्छे से काट लें ताकि नाख़ून खतरणाल रंगों के संपर्क में न आएं ।
  • होंठों को बचाने के लिए लिप बाम लगा लें ।

होली रंगों का त्यौहार जरूर है लेकिन ये अपने साथ कई तरह के स्वास्थ्य समस्याएं साथ लेकर आता है। इसीलिए चलिए होली जरूर मनाएं लेकिन सुरक्षित अंदाज़ में ताकि आप और आपकी त्वचा दोनों की खूबसूरती बरकरार रहे ।

इस आर्टिकल के बारे में अपने सुझाव और विचार कॉमेंट बॉक्स में ज़रूर शेयर करें  

Hindi.indusparent.com द्वारा ऐसी ही और जानकारी और अपडेट्स के लिए  हमें  Facebook पर  Like करें