एक study के मुताबिक एक Overweight Mom, large baby जन्म देती है ।

lead image
अगर आप माँ बनने की तैयारी कर रहे हैं यो आपको जरूरत से ज्यादा खाने से बचना चाहिए क्योंकि नए रिसर्च के मुताबिक इससे आप ओवरवेट हो जाते हैं और इससे बच्चे बड़े जन्म लेते हैं। ये स्टडी ब्रिटिश यूनिवर्सिटी ऑफ़ ब्रिस्टल एंड एक्सेटर के रिसर्चर ने की जिसे जर्नल ऑफ़ अमेरिकन मेडिकल एसोसिएशन में छापा गया ।
स्टडी क्या कहती है :
शोधकर्ताओं ने करीब 30000 महिलाओं पर 18 स्टडी किये और पाया :
  • जेनेटिक्स वैरिएंट महिला के बॉडी मास इंडेक्स से सीधी तौर पर प्रभावित होती है । शरीर में बॉडी ग्लूकोस, ब्लड प्रेशर और लिपिड की मात्रा बच्चे के वजन को भी निर्धारित करती है ।
  • अगर माँ की बी.एम.आई 4 पॉइंट ज्यादा है तो बच्चे के वजन में 54 ग्राम की बढ़ोत्तरी होती है ।
  • माँ के खून में ग्लूकोस के बढ़ी हई मात्रा भी बच्चे का वजन बढ़ाती है ।
  • माँ के हाई ब्लड प्रेशर का असर भी बच्चे पर पड़ता है और उसका वजन कम हो जाता है
हालाँकि माँ के शरीर में फैट और लिपिड्स की मात्रा का बच्चे के साइज़ पर कोई असर नहीं पड़ता है ।मीडिया से बात करते हुए यूनिवर्सिटी ऑफ़ एक्सेटर मेडिकल स्कूल के रेचल फ्रीथी जो इस रिपोर्ट के को-राइटर हैं, बताया की "ज्यादा बड़ा या ज्यादा छोटा बच्चा पैदा होना, नवजात को हेल्थ से जुड़े रिस्क में डालता है"उन्होंने आगे बताया की हाई ब्लड प्रेशर या डायबिटीज के साथ हेल्थी माँ को भी बड़े बच्चे होने की संभावना है।

ओवरवेट होना बेबी को कैसे रिस्क में डालता है ?
अगर जन्मे बच्चे का वजन 4.5 किलो से ज्यादा हो और उनका साइज़ बड़ा हो तो उनके कंधे माँ के पेल्विक बोन में फंस सकते हैं जिससे उनके गर्दन की नर्व को नुकसान पहुँचने के साथ साथ उनकी बांह भी टूट सकती है ।

प्रेगनेंसी के दौरान सही वजन कैसे मेन्टेन करें ?
माँ बनने जा रही महिलाओं को रेगुलर डॉक्टर से मिलकर अपनी जांच कराते रहना चाहिए  । सबसे अच्छा तरीका है बैलेंस्ड डाइट लें, एक्सरसाइज करें ताकि आपका वजन कण्ट्रोल में रहे ।
दिल्ली के फिटनेस एक्सपर्ट किरण साहने ने इंदुसपरेन्ट से बात करते हुए बताया "माँ बनने जा रही महिलाओं को फिटनेस के प्रति एक समग्र दृष्टिकोण अपनाते हुए धीमी गति से बढ़ना चाहिए । उन्हें दैनिक रूप से व्यायाम करना चाहिए लेकिन जरूरत से ज्यादा खुद को थकाना नहीं चाहिए । लाइफस्टाइल में थोड़े बदलाव लाना जरुरी है इसीलिए सही खाएं, सही समय पर सोएं, वर्कआउट मो एन्जॉय करें और खुश रहें"

नियमित व्यायाम के अलावा माँ बनने जा रही महिलाओं को योग भी करना चाहिए जिससे उनके जॉइंट्स मजबूत हों,  उनके पोस्चर सही रहते हैं, ब्लड सर्कुलेशन बढ़ता है, गैस की समस्या कम होती है, फ्लेक्सिबिल्टी बढ़ती है और लेबर के दौरान आसानी होती है ।

इस आर्टिकल के बारे में अपने सुझाव और विचार कॉमेंट बॉक्स में ज़रूर शेयर करें  

Hindi.indusparent.com द्वारा ऐसी ही और जानकारी और अपडेट्स के लिए  हमें  Facebook पर  Like करें