नए साल पर 7 Resolutions जो हर माँ को लेने चाहिए

lead image

एक और साल का अंत हो चुका है और आप नए साल की शुरुवात बिलकुल अलग करना चाहती हैं . ज्यादातर हमारे संकल्प वजन कम करने और ज्यादा काम करने को लेकर होते हैं. लेकिन अब इसे बदलने का समय आ गया है .ये हैं वो कुछ संकल्प जिससे आपको नयी शुरुवात करनी चाहिए .

चिल्लाना बंद करें

आप अपने बच्चे पर चीखना नहीं चाहती हैं लेकिन कई बार उनपर चिल्लाने के अलावा और कोई रास्ता भी नहीं बचता है . लकिन तथ्य यही है की आपके चिल्लाने से ना तो बच्चे को ही कोई फायदा होता है और ना ही आपको . इसीलिए नए साल में तय करें कि आप कम चिल्लायेंगी. इससे आप अपने बच्चे से साथ बेहतर समय बिता सकेंगी .

“ना” बोलना सीखें

हो कसता है आप एक सशक्त महिला हैं , आज़ाद हैं  और जानती हैं की कब किस बात के लिए मना करना है लेकिन जब बात बच्चों की आती है तो आप लाचार हो जाती हैं . नए साल में तय करें की सुपर मोम बनने की कोई जरूरत नहीं है . जरुरी नहीं है की आपके बच्चे को जितनी पार्टियों में बुलाया जाता है उन सबमे उसे भेजें ही .

src=http://hindi admin.theindusparent.com/wp content/uploads/sites/10/2016/03/mom 964597 1280.jpg नए साल पर 7 Resolutions जो हर माँ को लेने चाहिए

बच्चों की तरह खेलें

आपके बच्चे पेड़ों पर चढ़ना पसंद करते हैं , पागलों कि तरह दौड़-भाग करना पसंद करते हैं . आपको कौन रोक रहा है ? बच्चों के साथ बच्चों जैसे बन के खेलना शुरू करें . घरेलु कामों से समय निकाल कर अपने अन्दर के बच्चे को जागृत करें और बच्चों की तरह खेलें .

अपने पति पर थोड़ा ज्यादा ध्यान दें

माँ होने का मतलब नहीं है की अपनी सारी दुनिया आपके बच्चों के चारो ओर ही रहे . हो सकता है की आपको अपने बाल तक ठीक करने का समय ना हो लेकिन इसका मतलब ये नहीं है की आप अपने पति को ही भूल जाएँ . इस समय वही आपके सबसे बेहतर दोस्त हैं , इसीलिए जरुरी है की आप उनपर भी ध्यान दें .

आपको जो अच्छा लगे वो करें

चाहे किताबें पढ़ना हो या पेंटिंग करना या अपने दोस्तों के साथ घूमना , खुद को रोकिये मत . आपको जो करना पसंद है वो आप करें और पुरे मन से करें . अपने बच्चों का भी ख़याल रखें और अपने मन का काम भी करें .

src=http://hindi admin.theindusparent.com/wp content/uploads/sites/10/2016/03/dreamstime s 36566230.jpg नए साल पर 7 Resolutions जो हर माँ को लेने चाहिए

फ़ोन को थोड़ा आराम दें

अप कई काम एक साथ कर लेती हैं . हाँ ऐसे में कई बार ऐसा भी होता है जब आपको कोई  कॉल उठाना ही पड़ता है . लेकिन जरुरी नहीं है की आप हर कॉल का जवाब दें .

अपने आप के लिए कठोर न बनें

इमानदारी से बोलूं तो माँ होना एक कठिन काम है . ये एक ऐसी नौकरी है जिसकी तैयारी आपको कोई नहीं करवा सकता . आपको रोज नए नए तरीके सीखने पड़ते हैं , नए नए समस्याएं देखनी और उसका निदान ढूंढना होता है . लेकिन बिलकुल जैसे आप अपने बच्चे को अच्छा करते देखना चाहती हैं लेकिन उसे खुद पर ज्यादा बोझ नहीं लेने देना चाहती हैं उसी तरह उदाहरण पेश करें . खुद पे कठोर होना बंद करें . सब कुछ परफेक्ट हो ये जरुरी नहीं है .

नए साल के लिए आपके संकल्प क्या हैं ?

इस आर्टिकल के बारे में अपने सुझाव और विचार कॉमेंट बॉक्स में ज़रूर शेयर करें  

HindiIndusaparent.com   द्वारा ऐसी ही और जानकारी और अपडेट्स  केलिए हमें Facebook पर  Like करें