कल्कि कोएच्लिन से मेलिंडा गेट्स प्रभावित ।

कल्कि कोएच्लिन से मेलिंडा गेट्स प्रभावित ।

" महिलाओं के प्रति हिंसा,भेदभाव को सामने लाने के लिए शुक्रिया। आपकी आवाज़ इस मुद्दे को और मजबूत बनाती है और इसे दूर करने में सहयोग करती है ।" - मेलिंडा

जब कल्कि कोएचलिन ने जनवरी में एक वीडियो poem रिलीज़ किया, the printing machine, तब शायद उन्हें भी नहीं पता होगा की उन्हें दुनिया के जाने माने philanthropist और महिला अधिकारों के लिए लड़ने वाली मेलिंडा गेट्स का लैटर आएगा ।

हाँ कल्कि बहुत खुश थीं जब उन्हें बिल गेट्स की पत्नी और मेलिंडा गेट्स फाउंडेशन की को- फाउंडर मेलिंडा गेट्स की ये चिट्ठी मिली । मेलिंडा ने भारतीय महिलाओं की स्थिति पर ध्यान आकर्षित करने के लिए कल्कि की तारीफ़ की है ।

Came in the post this morning ????

A photo posted by Kalki (@kalkikanmani) on

ये है वो चिट्ठी :
प्रिय मिस कोएचलिन:
मेरे साथ भारतीय लड़कियों और महिलाओं के सशक्तिकरण में साथ आने के लिए आपका शुक्रिया । आपकी वीडियो poem the printing machine बहुत पावरफुल और सोचने पर मजबूर करने वाली है । भारतीय महिलाओं के साथ हो रहे भेदभाव और हिंसा पर ध्यान आकर्षित करने के लिए आपका धन्यवाद। आपकी आवाज़ इस मुद्दे को और मजबूत बनाती है और इसे दूर करने में सहयोग करती है । मै आपके इन कोशिशों के लिए आपकी आभारी हूँ । आपसे मिलना मेरे लिए ख़ुशी की बात थी ।
Sincerely
मेलिंडा गेट्स
इस बात को यहाँ जान लेना जरूरी है की मेलिंडा गेट्स भारत में कोई नया चेहरा नहीं हैं । उन्हें अपने पति बिल गेट्स के साथ 2015 में पद्म भूषण भी मिल चुका है । इसके अलावा वो भारत में महिलाओं के लिए कई कैम्पेन में हिस्सा ले चुकी हैं । वीडियो poem जनुअरी में जारी की गयी थे जिसमे महिलाओं की स्थिति को बहुत ही अनोखे तरीके से दिखाया गया था । उसमे ये भी दिखाया गया की कैसे समाज भी मीडिया में आने वाली इन खबरों को मूक दर्शक की तरह देखता रहता है । "
कल्कि बॉलीवुड की अकेली अभनेत्रि हैं जो असाधारण रोल के लिए जानी जाती हैं फॉर चाहे वो रील लाइफ में हों या रियल लाइफ में । वो कई सारे चैरिटी वर्क में भी शामिल रही हैं । कल्कि की इस वीडियो को आप यहाँ देख सकते हैं :

इस आर्टिकल के बारे में अपने सुझाव और विचार कॉमेंट बॉक्स में ज़रूर शेयर करें  

Hindi.indusparent.com द्वारा ऐसी ही और जानकारी और अपडेट्स के लिए  हमें  Facebook पर  Like करें 

 

Any views or opinions expressed in this article are personal and belong solely to the author; and do not represent those of theAsianparent or its clients.