Any Guesses...ये एक्टर फिर से बनने वाले हैं पापा

बधाइयों का सिलसिला एक बार फिर शुरू हो गया है!

एक्टर फरदीन खान पिछले कुछ समय से गायब थे लेकिन वो अब सामने आए हैं और वो भी एक खुश खबरी के साथ । 43 वर्षीय अभिनेता अपनी पत्नी नताशा माधवानी (पुराने जमाने की एक्ट्रेस मुमताज की बेटीके साथ लंदन में शिफ्ट हो चुके हैं और अब दूसरी बार पिता बनने जा रहे हैं। जी हां आपने बिल्कुल सही पढ़ा।

दूसरी बार पिता बनने वाले हैं फरदीन खान

ये कपल पहले से साल की बेटी डियानी इसाबेल खान के माता पिता हैं और फिलहाल काफी खुश हैं। दोनों जल्द ही जुलाई में बेबी के जन्म के बाद भारत भी लौटने वाले हैं।

 

A post shared by @cineblitz on

एक दैनिक अखबार से बातचीत में फरदीन खान ने कहा कि "मैं सातवें आसमान पर हूं। नताशा महीने की प्रेग्नेंट है (अभी 8-9 महीनेऔर मेरे साथ मुंबई नहीं आ सकती हैं कि क्योंकि यहां काफी गर्मी है। मॉनसून आ जाने के बाद वो यहां आएंगी। मैं हर तीन-चार सप्ताह में मुंबई आते रहता हूं और आधा समय मुंबई में बिताता हूं।"

उन्होंने ये भी कहा कि नताशा काफी अच्छी और हेल्दी हैं। दोनों दूसरे बेबी के स्वागत के लिए पूरी तरह से तैयार हैं।

दूसरी बार पापा बनने जा रहे फरदीन खान ने कहा कि "अगर आप जिम्मेदारी के लिए तैयार नहीं हैं तो उसे दुनिया में ना लाएं। ये बहुत बड़ी जिम्मेदारी होती है। आप एक जिंदगी को इस दुनिया में लेकर आते हैं। ये कुछ स्टाइलिश चीज नहीं है ये पूरी तरह से तैयार होने की बात है। आपको सुनश्चित करना होगा कि आप अपनी क्षमता के अनुसार बच्चे को सबकुछ बेस्ट दें। किसी भी चीज से बढ़कर वो सबसे ज्यादा आपका प्यार चाहते हैं इसलिए आपको अपना समय और ढेर सारा प्यार उन्हें देना होगा। बाकी सब बाद की बाते हैं।"

गर्भपात से गुजरना पड़ा

चार साल पहले ये कपल डियानी के माता-पिता बने थे और अब दूसरी बार पैरैंट्स बनने के लिए पूरी तरह से तैयार हैं लेकिन शायद कइयों को नहीं पता कि डियानी के पहले नताशा दो जुड़वा बच्चों की मां बनने वाली थीं लेकिन अफसोस ये हो ना सका।

नताशा को पांचवें महीने में गर्भपात का सामना करना पड़ा और उन्होंने अपने जुड़वा बच्चे खो दिए। लेकिन डियानी के आने के बाद उनकी दुनिया पूरी हो गई और अब इस खूबसूरत परिवार में एक और नन्हा सदस्य आने वाला है।

 

A post shared by Pinkvilla (@pinkvilla) on

फरदीन खान ने कहा था कि "मुझे और नताशा को अपने हिस्से की चुनौतियों का सामना करना पड़ा था इसलिए हम लंदन में थे और भारत भी हमारा लगातार आना-जाना था। अब हम काफी खुश हैं। हमारा परिवार पूरा होने वाला है। हम हमेशा से दो बच्चे चाहते थे और इसलिए हमारी खुशी का ठिकाना नहीं है। मेरी बेटी डियानी भी अपने आने वाले भाई/बहन का बेसब्री से इंतजार कर रही है।"

लंदन में रहना स्थाई नहीं

दुबारा पैरेंट्स बनने जा रहे फरदीन वापस मुंबई में शिफ्ट करना चाह रहे हैं। वो चाहते हैं कि उनकी बेटी अपनी पढ़ाई मुंबई में ही करे। डियानी इस साल से स्कूल जाएंगी।

पापा फरदीन खान ने कहा कि "फिलहाल वो लंदन में है लेकिन जैसे ही हमारा दूसरा बेबी होगा हम वापस भारत लौट आएंगे। डियानी अपनी स्कूल की शुरूआत मुंबई से ही करेगी। वो हमारा घर है। आमची मुंबईलंदन में रहना अस्थायी था। हम यहां बच्चों की वजह से थे क्योंकि एक कपल के तौर पर कुछ चिकित्सीय समस्याएं थी।"

 

A post shared by Bollywood (@bollywood) on

फरदीन खान ने कहा कि "उम्मीद तो यही है कि सबकुछ अच्छे से होगा। हमने डियानी के लिए मुंबई के स्कूल में अप्लाई करना भी शुरू कर दिया है। हम उसके यहां स्कूल ईयर खत्म होने का इंतजार कर रहे हैं। मैं पिछले तीन सालों से पिता की भूमिका पर अधिक ध्यान दे रहा था लेकिन अब मैं अपने काम को मिस करता हूं।"

दुबारा पैरेंट्स बनने की खुशखबरी के साथ फरदीन ने गर्भपात के बारे में भी चर्चा की। इस बारे में अधिक जानकारी के लिए हम आपको कुछ और भी लक्षण बता रहे हैं जिसपर हमेशा ध्यान दें कि कैसे पार्टनर की मदद कर सकते हैं।

गर्भपात के लक्षण

डॉ नीमा शर्मा फोर्टिस अस्पताल दिल्ली में प्रसुती विज्ञान की सीनियर कंसल्टेंट हैं। उन्होंने Theindusparent को बातचीत में बताया कि अगर महिला 30 साल से कम उम्र की हैं तो 10 में से केस में गर्भपात की संभावना होती हैं। 35-39 वर्ष के बीच की महिलाओं में 10 में से गर्भपात की संभावना होती है।अगर 45 साल से अधिक उम्र की महिला है तो आधे से अधिक प्रेग्नेंसी गर्भपात के साथ खत्म हो सकते हैं। जानिए इसके लक्षण:

  • मरोड़न: गर्भपात के सबसे सामान्य लक्षण में पेट में मरोड़न सबसे पहला लक्षण है। पेल्विक एरिया में दर्द होना खासकर अचलक्षण है। इसमें पीरियड जैसा दर्द और मरोड़न उठता है। डॉ शर्मा के अनुसार कभी कभी कम दर्द होने पर भी डॉक्टर से जरूर दिखाएं। इसके अलावा अगर रक्तस्त्राव भी दिखे तो ये गर्भपात की निशानी है।
  • रक्तस्त्राव: “रक्तस्त्राव होना भी गर्भपात का एक निशानी है। अगर हल्का और ब्राउन रंग में डिस्चार्ज हो और लगातार हो तो ये खून का थक्का या भ्रूणीय टिशू हो सकते हैं।“ प्रीमस सुपर स्पैशिलिटी अस्पताल की IVF डिपार्टमेंट की हेड डॉ (Brig) राकेश शर्मा ने जानकारी दी है। हालांकि हल्का रक्तस्त्राव 12 सप्ताह तक साधारण है।
  • पेट में दर्द: अगर पेट के नीचे दर्द हो तो इसे कभी इग्नोर ना करें। ये भी गर्भपात की निशानी है। हालांकि जैसे-जैसे भ्रूण बड़ा होता है वैसे वैसे आप अधिक असहज महसूस कर सकती हैं। शरीर की मांसपेशियों भ्रूण के हिसाब से फैलती हैं। लेकिन अगर आपका एकतरफा दर्द है तो महिला रोग विशेषज्ञ से दिखाएं।

हमेशा याद रखें कि गर्भपात का भावनात्मक असर ना सिर्फ महिलाओं पर बल्कि पति, परिवार और दोस्तों पर भी पड़ सकता है। इस तरह के केस में महिलाओं को लगातार भावनात्मक सपोर्ट की जरूरत होती है।