Earth Day: इस प्लेनेट को बचाना है तो अपने बच्चों को सिखाएं ये 5 बातें

lead image

इस अर्थ डे पर अपने बच्चों को वातावरण की महत्ता और इसे बचाये रखने की जरूरत के बारे में बताइये । उन्हें इसके लिए ये 5 तरीके अपनाना सिखाएं ।

कुछ लोग इस पृथ्वी पर पायी जाने वाले असीम सम्पदा को ऐसे इस्तेमाल करते हैं जैसे की ये हणेशा के लिए हो । लेकिन 90 के दशक में environmental सुपरहीरो कप्तान प्लेनेट इसे अपनी जिम्मेदारी माना करते थे । एक जिम्मेदार नागरिक और पेरेंट्स होने के नाते हमे ये समझना चाहिए की जिस तरह से हम प्राकृतिक सम्पदाओं को आँख मूंदकर इस्तेमाल कर रहे हैं उस हिसाब से आने वाली जनरेशन के पास ये सभी सम्पदाओं की आपार कमी होने वाली है ।
इसका मतलब ये है की हमे हर दिन को अर्थ डे की तरह जीना होगा ताकि हम दुसरे जीवों का भी सम्मान करते रहें । हमारे माइंडसेट में चीजों को तबाह करने की प्रवृत्ति कई सालों से रही है । ऐसे में आने वाली जनरेशन के लिए हमें अगर इन प्राकृतिक सम्पदाओं को बचाये रखना है तो फिर हमे आज ही उचित कदम उठाने होंगे। इसके लिए जरुरी है की हम भावी पीढ़ी को भी पर्यावरण को बचाने की जरूरतों के बारे में बताएं । तो आइये पढ़ते हैं ऐसी ही 5 बातों के बारे में जो आपको अपनेबच्चों को बतानी चाहिए ।

#1 खुद ही साफ़ सफाई रखें

ये न सिर्फ बच्चों के कमरे में अप्लाई होता है बल्कि इस पृथ्वी पर भी अप्लाई होता है । इसीलिए अगर आप उन्हें अपना कमरा साद रखना सिखाते हैं तो उन्हें पर्यावरण को भी साफ़ रखना सिखाइये । उन्हें बताये को वो किस तरह के सामानों को कहाँ फेंकते या रख देते हैं । उन्हें समझाएं की किस तरह की चीजें कहाँ रखनी चाहिए । उन्हें बताएं की कौन सी चीजें recycle हो सकती हैं और कौन सी नहीं।

#2 भविष्य के बारे में सोचें

अपने बच्चों को भविष्य के बारे में सोचना सिखाएं । उन्हें बताएं की आज के उनके किये हुए action का भविष्य में reaction क्या होने वाला है। आप जिस तरह उन्हें पढाई के लिए प्रेरित करते हैं उसी तरह पर्यावरण को भी समझने के लिए प्रेरित करें । जैसे उनसे पूछें की जब ये कुर्ता पहनना बंद कर दूंगा तो फिर इसका क्या होगा? या अगर मैं इन प्लास्टिक के डब्बों को बहार फेंक दूंगा तो ये decompose कैसे होंगे। या बिना बाल्टी के नहाने से कितना पानी बर्बाद होता है ? इससे उन्हें अपने एक्शन का रिएक्शन समझने में मदद मिलेगी ।

#3 सभी प्राणियों के प्रति दयालु बनें

आपको अपने बच्चों को हर ज़िन्दगी, हर जीव की महत्ता समझानी चाहिए । आज की दुनिया में हर चीज़ को उसकी कीमत से आंका जाता है लेकिन इस दुनिया में कई चीजें फायदे और नुकसान से ऊपर होती हैं ।
बच्चों को हर चीज़ की इज़्ज़त करना सिखाएं फिर चाहे वो उनका कोई पेट हो या फर्श पर चल रही चींटी ।उन्हें लाइफ के बड़े पिक्चर के बारे में बताएं । इससे वो सभी चीजों का असल मूल्य समझ पाएंगे और उसका सम्मान करेंगे । बच्चे बहुत भावुक होते हैं इसीलिए अगर आप उन्हें प्यार करना सिखाएंगे तो ये आदत उनमे हमेशा बनी रहेगी ।

#4 पानी बचाएं

भारत के कई हिस्सों में सूखे का प्रकोप है और ये हर साल होता है इसीलिए अपने बच्चों को जितना ज्यादा हो सके पानी बचाना सिखाएं । इसका मतलब ये है की ज्यादा देर तक न नहाएं, ब्रश करते हुए या मुँह ढोते हुए नल खुला न छोड़ें, ।
पानी कीमत और ज़िन्दगी में उसकी जरूरत बच्चों को समझाना बहुत ज्यादा जरूरी है । इसीलिए उन्हें ये सिखाने के लिए खुद ही एक उदाहरण बनें । उन्हें जल संरक्षण, पौधे लगाना, पौधे कैसे पानी की बर्बादी रोकते हैं आदि समझना शुरू कर दें  ।

#5 नेचर को हलके में न लें

हमने बच्चों को प्यार करने, शेयर करने और केअर करने के बारे में पहले ही बता दिया लेकिन ये हम ज्यादातर तभी अप्लाई करते हैं जब वो खिलौनों आदि से खेल रहे होते हैं । लेकिन अगर आप उन्हें समझाएं की वो हर रोज इस पृथ्वी के साथ कैसे जुड़ते हैं, कैसे पृथ्वी हमारा पोषण करती है तो वो प्रकृति को हलके में न लेकर गंभीर हो पाएंगे। जैसे ब्रश करते समय उन्हें याद दिलाएं की नल बंद रखना है क्योंकि आप उस पानी को जानवरों, पौधों और दुसरे लोगों के साथ भी शेयर करते हैं । सिर्फ क्योंकि आपको एक फूल पसंद आया आप उस तोड़ लें ये भी सही नही है। उन्हें इस तरह की प्राकृतिक सम्पदाओं का आदर और सम्मान करना सिखाएं । ये सिख उन्हें जीवन भर याद रहेगी ।
याद रखें की ये पृथ्वी हमारी है इसीलिए हने ही इसका ख्याल रखना है और आने वाली पीढ़ियों के लिए बचाये रखना है ।पर्यावरण और पृथ्वी को बचाना क्यों जरूरी है, बच्चों को ये समझाने के लिए ये वीडियो जरूर दिखाएँ । :

इस आर्टिकल के बारे में अपने सुझाव और विचार कॉमेंट बॉक्स में ज़रूर शेयर करें  

Hindi.indusparent.com द्वारा ऐसी ही और जानकारी और अपडेट्स के लिए  हमें  Facebook पर  Like करें