गर्भ के दौरान माँ के द्वारा कितनी कॉफ़ी पीना बच्चे के लिए खतरनाक है ?

lead image

क्या गर्भ के दौरान कॉफ़ी छोड़ने का समय आ गया है ?

अगर आप गर्भवती हैं या गर्भवती होना चाहती हैं तो सबसे पहला सुझाव जो आपको मिलना शुरू हो जाएगा वो है की “ कॉफ़ी पीना छोड़ दो” अगर आप उन लोगों में से हैं जिन्हें रोज सुबह एक कॉफ़ी चाहिए ही होती है तो फिर आप 9 महीने तक बिना कॉफ़ी के कैसे रह पाएंगी ?

गर्भावस्था के दौरान कैफीन कितना नुकसानदायक है ? बेंगलुरु में डाइट अनलिमिटेड के डायटीशियन और को-फाउंडर अनंदिनी स्वामीनाथन बताती हैं “ कैफीन शरीर में आसानी से घुलकर भ्रूण तक आसानी से पहुँच जाता है “

एक अध्ययन के मुताबिक गर्भावस्था में 300 मिलीग्राम से ज्यादा कैफीन पिने वाली महिलाओं को गर्भ गिरने, कम वजन के बच्चे के जन्म लेने का खतरा बना रहता है । लेकिन हाल में देखा गया है कैफीन शरीर को गर्भावस्था के दौरान ऊर्जावान बनाए रखता है ।

कैफीन के श्रोत

[table id=2 /]

कैफीन के साइड इफ़ेक्ट जानने के लिए आगे पढ़ें .

गर्भावस्था के दौरान कैफीन लेने के साइड इफ़ेक्ट :

  • कैफीन एक उत्तेजक और एक मूत्रवर्धक चीज़ है । खून में इसकी अधिक मात्रा निम्नलिखित परेशानियां खड़ी कर सकती है ।
  • कैफीन की उत्तेजित कर देने वाली क्रिया से दिल की धड़कन तेज़ हो जाती है जिससे बेचैनी महसूस हो सकती है
  • इससे अनिंद्रा हो सकती है खासकर के अगर कैफीन दिन में देर तक लिया जाए तो ।
  • इसे पेशाब करने की आवृति बढ़ जाती है जिससे शरीर में पानी की कमी हो सकती है ।
  • ज्यादा कैफीन गर्भ के दौरान आपको सुबह-सुबह बीमार महसूस करवा सकता है साथ ही इससे आपको उल्टियां भी हो सकती हैं ।
  • इससे पेट में एसिड की मात्रा बढ़ने लगती है जिससे जलन बढ़ जाती है ।

कॉन्फेशन ऑफ़ अ डायटीशियन की लेखिका स्वामीनाथन बताती है की अगर इन सब परेशानिओं को माँ का शरीर झेलने लायक भी हो तब भी बच्चे में इन सभी चीजों से बचने की शक्ति का विकास नहीं हो पाटा है जिससे यह माँ से ज्यादा बच्चे के लिए नुकसान का कर्ण बन सकता है “

गर्भावस्था के दौरान कैफीन लेना कम कैसे करें ?

दिल्ली के फोर्टिस ला फेम्मे में स्त्री रोग तथा प्रसूति विज्ञान की डायरेक्टर डॉ त्रिपत चौधरी बताते हैं की जब तक आप अपने कैफीन की मात्रा को ठीक रखती हैं तबतक आपको चिंता करने की ज्यादा जरूरत नहीं है । 300 मिलीग्राम से कम कैफीन को एक सही मात्रा माना जाता है यानी दिन में एक या 2 कप जिससे कोई नुकसान न होने की संभावना बढ़ जाती है ।

लेकिन हाँ जितना कम कैफीन आप लेंगी आपको उतना ही ज्यादा फाएदा  होगा । इसीलिए अगर आप गर्भवती होना चाहती हैं तो अपने चाय और कॉफ़ी पिने की मात्रा को कम करें । इन बातों का ध्यान रखें :

  • फ़िल्टर कॉफ़ी पिने से बचें और साधारण कॉफ़ी पीयें
  • अगर कॉफ़ी मशीन काम कर रही है तो अपना कॉफ़ी पाउच अपने साथ ले जाएँ
  • कॉफ़ी में ज्यादा दूध मिलाने की कोशिश करें
  • जब आप कॉफ़ी को ब्रिऊ करें तो कम समय के लिए करें
  • अलग प्रकार के चाय आदि का सेवन करें इससे कैफीन की मात्रा में कमी आएगी
  • दिन में चॉकलेट खाने की मात्रा को नियंत्रित करें ।
  • जब भी थका हुआ महसूस हो सो जाएँ इससे आपको जागने के लिए कॉफ़ी पिने की जरूरत नहीं पड़ेगी
  • अगर आपको सॉफ्ट ड्रिंक पिने की आदत है तो अब फल का जूस पीना शुरू कर दें
  • कैफीन छोड़ने के लक्षण आने पर खुद को कण्ट्रोल करें । याद रखें आपके स्वास्थ्य से बढ़कर कोई भी चीज़ नहीं है ।

 

app info
get app banner