12 साल के बेटे को पिता ने नग्न और चोटिल अवस्था में सड़क पर घसीटा

lead image

कुछ दिनों पहले चीन का वीडियो सामने आया जिसमें एक पिता अपने 12 साल के छोटे बेटे को नग्न अवस्था में पीट कर सड़क पर लेकर जा रहा था और बच्चा बारिश होने की वजह से कांप रहा था। उसके शरीर पर छड़ी से पीटे जाने के निशान साफ नजर आ रहे थे।

पहले के समय में अनुशासन सिखाने के कई तरीके काफी कठोर होते थे। अब ज्यादातर पैरेंट्स मानते हैं कि अधिक कठोर तरीके अपनाने से बच्चे सीखने की जगह अंदर से टूट जाते हैं। कई पैरेंट्स ऐसे भी हैं जो बहुत अधिक कठोर दंड देते हैं और इसके परिणाम काफी भयानक होते हैं।

कुछ दिनों पहले चीन का ऐसा ही वीडियो सामने आया जिसमें एक पिता अपने 12 साल के छोटे बेटे को नग्न अवस्था में पीट कर सड़क पर लेकर जा रहा था और बच्चा बारिश होने की वजह से कांप रहा था।उसके शरीर पर छड़ी से पीटे जाने के निशान साफ नजर आ रहे थे। वहां से गुजर रहे लोग भी काफी गुस्से में थे और पूछ रहे थे कि क्या वो अपने बेटे को इस तरह से पीट रहा है? 

https://www.youtube.com/watch?v=Hzd7q8HTO9s

जब पिता ने बताया कि वो उसका बेटा है तो वहां खड़े लोग आश्चर्यचकित रह गए कि कोई अपने ही खून को इतनी बर्बरता से कैसे पीट सकता है।

चोरी करते पकड़ा

Yunnan.c  की रिर्पोट के अनुसार ये बच्चा पैसे चोरी करते पकड़ा गया था और पिता अपने बच्चे को काबू में करने के लिए उसे पीट रहा था और अक्सर ये करता है।

 
src=https://sg.theasianparent.com/wp content/uploads/2017/07/rsz boy collage 1.jpg 12 साल के बेटे को पिता ने नग्न और चोटिल अवस्था में सड़क पर घसीटा

रिपोर्ट्स के अनुसार इस बच्चे की स्थिति दयनीय है। वो एक गरीब परिवार से आता है और उसकी मां सब्जियां बेच कर पैसे कमाती हैं।

साउथ चाइना मॉर्निंग पोस्ट के मुताबिक इस बच्चे को जब बिस्तर के नीचे से 100 यूनान यानि 20 डॉलर से थोड़े ज्यादा पैसे मिले तो वो इसे लेकर घर से कुछ दिनों के लिए भाग गया।

बच्चे को गलती का एहसास दिलाने के लिए ये बहुत ही भयानक दंड है। इस वीडियो में वहां से गुजर रहे राहगीर भी मांग कर रहे हैं कि उसके पापा उसे जैकट पहनने के लिए दे दें। वहां की स्थानीय पुलिस फिलहाल इस मामले की जांच कर रही है।

भले ही ये पिता अपने बेटे को अनुशासन का पाठ पढ़ाने के लिए ऐसा कर रहा हो लेकिन सच्चाई यही है कि इस तरह के नृशंस कार्य माफी योग्य नहीं है।

इस बच्चे पर मनोवैज्ञानिक असर जिंदगी भर रह सकता हैं। इस घटना के बाद बच्चे के मन में बैठे डर के बारे में सोच पाना भी मुश्किल है। जिस शख्स को इसकी सुरक्षा करनी चाहिए वो इसे इतनी बुरी तरह पीटकर और नग्न अवस्था में सड़क पर घुमा रहा है।

इस आर्टिकल के बारे में अपने सुझाव और विचार कॉमेंट बॉक्स में ज़रूर शेयर करें  

Hindi.indusparent.com द्वारा ऐसी ही और जानकारी और अपडेट्स के लिए  हमें  Facebook पर  Like करें