सिंगल मॉम उर्वशी ढोलकिया ने शेयर की अपनी संघर्ष की कहानी!

lead image

एक ओर बहुत ही बुरी विलेन के तौर पर वो लोगों के दिलों पर राज कर रही तीं तो वहीं दूसरी ओर वो दो बेटे सागर और क्षीतिज की स्ट्रगलिंग सिंगल मॉम थीं। जानिए उर्वशी ने सिंगल मॉम होने के बारे में क्या कहा।

किसी समय टेलीविजन का सबसे पॉपुलर सीरियल मे कसौटी जिंदगी की कोमोलिका तो आपको याद होगी जो उस समय नई ट्रेंडसेटर बन गईं थीं। उन्होंने अपनी खूबसूरत आखें, लुक्स और एक्टिंग की वजह से अलग पहचान बना ली थी।

 

Total #flashback #2006 #showtimecovershoot ?

A post shared by Urvashi Dholakia (@urvashidholakia9) on

हिंदुस्तान टाइम्स को दिए एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा कि "सिंगल मॉम होना आसान नहीं था। लोग मुझे कहते हैं कि मैं मां जैसी नहीं दिखती या मेरा उम्र अधिक नहीं पता चलता। ये दिलचस्प है। लेकिन मैं क्यों बड़ी दिखूंगी? मैं 37 साल की हूं? सच्चाई ये है कि 17 साल में मैंने दोनों बेटों को जन्म दिया था।लेकिन इसमें बड़ी बात क्या है? मैं इन कमेंट्स को सकारात्मक तरीके से लेती हूं। मुझे अपनी इस यात्रा पर गर्व है जो काफी बड़ा रहा है।"

“मेरे बेटे और मेरा परिवार मेरी प्राथमिकता”

जब उनसे रिलेशनशिप और लिंकअप की अफवाहों के बारे में पूछा गया तो उन्होंने इसका भी जबाब दिया। उन्होंने कहा कि "एक सिंगल मॉम और परिवार की देखरेख की जिम्मेदारी होने के नाते मेरा काफी समय इसमें चला गया। मेरे ऊपर जिम्मेदारी थी और मेरे पास अपनी निजी जिंदगी के बारे में सोचने का वक्त नहीं था। मैंने कभी कुछ नहीं छिपाया। मैं अपना रिलेशनशिप क्यों छिपाऊंगी? मेरी प्राथमिकता मेरा परिवार और मेरे बच्चे हैं। 

उन्होंने ये भी बताया कि उन्होंने काम से ब्रेक क्यों लिया:

उन्होंने कहा कि "बिग बॉस 6 के बाद मैंने 2 साल का ब्रेक लिया क्योंकि मैं अपने बेटों के टीनएज के दौरान मैं उनके साथ होना चाहती थी। मैं उन्हें समय देना चाहती थी। मैंने इस दौरान 15 शो रिजेक्ट किया। लेकिन उसमें से ज्यादातर नहीं अच्छे थे। मैं चाहती थी कि वो 21 साल के हो जाएं और फिर मैं काम पर वापस करना शुरू करेंगा। मैं जिंदगी में फिलहाल बिल्कुल सही जगह पर हूं।"

उर्वशी ढोलकिया ने ये भी कहा कि उनके बेटे अब 22 साल के हैं और वो जो भी करना चाहें उसमें उन्हें अपनी मां का पूरा सपोर्ट मिलेगा।

उन्होंने कहा कि वो निर्णय लेंगे कि उन्होंने क्या करना है। मैं हमेशा उनकी हौसला अफजाई करूंगी। अगर वो एंटरटेनमेंट इंडस्ट्री में आना चाहते हैं तो भी मैं उनका साथ दूंगी। दोनों एक्टिंग और डायरेक्शन करना चाहते हैं। वो पहले भी फिल्में असिस्ट कर चुके हैं। 

मॉम क्या आपको नहीं लगता कि जो उर्वशी ने किया वही कोई भी सिंगल मॉम करेगी? उनकी हिम्मत और कमिटमेंट की हम दाद देते हैं। 

5 बातें जो सिंगल मॉम को हमेशा याद रखनी चाहिए:

पैरेंटहुड कोई फूलों भरा रास्ता नहीं है और सिंगल पैरेंट होना मुश्किलों भरा विकल्प है।

  • खुद को अपना सबसे बड़ा सपोर्ट सिस्टम बनाइए क्योंकि हो सकता है बाहर से आपको सपोर्ट नहीं मिले। 
  • अपने बच्चों को कम उम्र से आत्मनिर्भर बनाएं ताकि वो कठिन परिस्थिति में अपनी देखभाल कर सकें। 
  • किसी भी दूसरे बच्चों की तरह आपके बच्चे भी एक अच्छी जिंदगी जीने का अधिकार रखते हैं इसलिए अपनी समस्याएं होने के बावजूद उनके साथ अच्छा व्यवहार करें। 
  • आपको अपने परिवार और करियर के बीच बेहतर सामंजस्य बनाना होगा। 

Source: theindusparent.com