“शादी के नौ महीने बाद मैं मां बनीं और मेरे साथ कुछ ऐसा हुआ”

lead image

आखिरकार मेरी सास ने मुझे बोला कि “प्रेग्नेंसी टेस्ट कर लो बेटा। कहीं कुछ है तो नहीं?"

एक चीज जो भारत में बड़ी आसानी से मिलती है वो है आपकी सोसाइटी से अनचाही सलाह। सच बताऊं तो जब 2010 में मेरी शादी हुई थी मैं इसके लिए मानसिक रूप से तैयार थी। लेकिन मुझे अंदाजा नहीं था कि मुझे हर कदम पर कुछ नया बताया जाएगा और उम्मीद की जाएगी कि मैं उसका पालन करूं। कभी कभी तो ये सिर्फ तकलीफ देता है ।

मेरी शादी दिल्ली के एक संयुक्त परिवार में हुई थी। तब मैं 26 साल की थी और मेरे पति मुझसे चार साल बड़े थे। हम बिल्कुल यंग थे, शादी शुदा थे और एक दूसरे से बेइंतहा प्यार करते थे। हमने कोई भी प्लानिंग नहीं की थी। जी हां ये बिल्कुल सच है।

बाकी किसी भी नए शादीशुदा कपल की तरह हमने भी सोचा था कि हम एक दूसरे के साथ वक्त बिताएंगे, सेटल होंगे फिर बच्चों की प्लानिंग करेंगे। हमने सोचा था कि सबकुछ हमारे मन मुताबिक होगा।

src=https://www.theindusparent.com/wp content/uploads/2017/06/couple 1.jpg “शादी के नौ महीने बाद मैं मां बनीं और मेरे साथ कुछ ऐसा हुआ”

पहला दो महीना बिल्कुल प्लान के हिसाब से ही चला और हम काफी खुश भी थे। मेरे ससुराल वाले काफी केयरिंग थे और मेरे पति भी मुझसे काफी प्यार करते थे। हमलोग सातवें आसमान पर थे। आप जानती हैं कि जब नए शादीशुदा कपल होते हैं तो कैसा एहसास होता है। हम प्यार में डूबे थे और अचानक कुछ ऐसा हुआ कि पैरों तले जमीन खिसक गई।

शादी के तीसरे महीने मैं बीमार पड़ गई...

हमारी शादी को तीन महीने बीत चुके थे और मैं अचानक बीमार पड़ गई। मैं लगातार उल्टी कर रही थी और पेट में भी काफी मरोड़ उठ रही थी। मुझे लगा कि पेट में संक्रमण हो गया। मेरी सासु मां ने पूछा भी कि सब ठीक तो है ना”?

मुझे पहले समझ नहीं आया कि वो क्या बोल रही हैं

मैंने कहा हां और सब ठीक ही है मम्मी

लेकिन मैं शॉक में थी

मैंने पूरा सप्ताह इसी तरह बिताया और ऑफिस से भी छुट्टी ले ली। मैं ऑफिस जाने की हालत में नहीं थी।

आखिरकार मेरी सास ने मुझे बोला कि प्रेग्नेंसी टेस्ट कर लो बेटा। कहीं कुछ है तो नहीं?"

मुझे विश्वास नहीं हो रहा था कि उन्होंने क्या कहा! मेरी शादी को सिर्फ तीन महीने हुए थे..मैं इतनी जल्दी कैसे मां बन सकती थी।

लेकिन जो होना रहता है होकर रहता है। मैं एक प्रेग्नेंसी टेस्ट किट घर लेकर आई और टेस्ट किया। रिजल्ट पॉजिटिव आया।

मैं ये नहीं कहूंगी कि मैं खुश नहीं थी। मैं खुश थी...मेरे कहने का मतलब है कि मैं मां बनने वाली थी लेकिन सच बताऊं मैं इसके लिए तैयार नहीं थी। मैं शादी के पहले साल में प्रेग्नेंट नहीं होना चाहती थी।

src=https://www.theindusparent.com/wp content/uploads/2017/06/pregnant couple.jpg “शादी के नौ महीने बाद मैं मां बनीं और मेरे साथ कुछ ऐसा हुआ”

मेरा और मेरे पति का बिल्कुल एक जैसा रिएक्शन था लेकिन पूरा परिवार बहुत ज्यादा खुश था। मेरे सास ससुर की खुशी का तो ठिकाना नहीं था।

मेरी सास ने मुझसे कहा कि बेटा जितनी जल्दी निपट जाओ उतना अच्छा है, चिंता मत करो हम तुम्हारे साथ हैं।

हम आखिरकार डॉक्टर के पास चेकअप के लिए गए और पता चला कि डिलिवरी की तारीख ठीक शादी के 9 महीने बाद 15 फरवरी को है।

लेकिन भयानक कमेंट से सामना..

जहां एक ओर हमें घर का पूरा सपोर्ट मिला हुआ था वहीं हमारे आसपास के लोग कमेंट करने से पीछे नहीं हट रहे थे। जब मैंने ये खबर ऑफिस में दी तो मेरे क्लोज फ्रेंड्स ने कहा कि अरे यार फैमिली प्लानिंग का नाम नहीं सुना था क्या

जैसे कि मैंने कोई क्राइम कर दिया हो?

दूसरे ने कहा यार जल्दी क्या थी? एक साल तो रूक जाते

यहां तक कि रिश्तेदारों ने भी  हमें नहीं बख्सा। वो खुलेआम बोलते थे ये तो 6 महीने भी नहीं रूक पाए.. और सभी हंस पड़ते थे जैसे कुछ गलत कर दिया हो। हम कोई हमें शर्मिंदा करने में कोई कसर नहीं छोड़ता था जबकि ये हमारे हाथ में भी नहीं था और ये तो हमारी जिंदगी बदलने वाला था वो भी अच्छे के लिए।

मेरा विश्वास कीजिए हमने हर गर्भनिरोधक उपाय अपनाए लेकिन सभी व्यर्थ साबित हुए और मैं प्रेग्नेंट हो गई। हम भी बेबी के लिए तैयार नहीं थे। लेकिन क्या ये राष्ट्रीय मुद्दा था? एक कपल के तौर पर हम बेबी चाहते थे और ये हमारा पहला बेबी था गर्भपात हमारे लिए अंतिम में आता थे।

मैं सोची अगर भगवान यही चाहते हैं तो मैं रोकने वाली कौन होती हूं? मेरा परिवार भी बहुत खुश और सपोर्टिव था। तो इन लोगों को क्या समस्या थी? अगर मैं गर्भधारण नहीं करती तो 2-3 सालों बाद यही लोग मेरे पीछे पड़ जाते। आप भी इस बात को मानेंगी?

हमने फैसला किया कि हम कमेंट को नजरअंदाज करेंगे और अच्छे कमेंट्स को याद रखेंगे। मेरा विश्वास कीजिए अब बहुत ही कम लोग हैं जो आकर कहते हैं कि अरे यार थोड़ा तो सब्र कर लेते।

अगर आपके पास कोई सवाल या रेसिपी है तो कमेंट सेक्शन में जरूर शेयर करें।

Source: theindusparent