शहनाज हुसैन के टिप्स..प्रेग्नेंसी में कैसे पाएं ब्लैकहेड्स से छुटकारा

आगे पढ़ें कि प्रेग्नेंसी में कैसे ब्लैकहेड्स से प्राकृतिक रूप से छुटकारा पाएं ।

कई महिलाओं की त्वचा प्रेग्नेंसी के दौरान और भी अधिक अच्छी हो जाती है और ग्लो करने लगती है। ये हार्मोनल बदलाव की वजह से होता है। तो वहीं कई महिलाएं ऐसी भी होती हैं जो त्वचा से जुड़ी समस्याओं का सामना करती है।

जरुरत के अनुसार अपनी त्वचा की हर रोज देखभाल करें। जैसे अगर त्वचा तैलीय है तो छिद्रों को साफ करना बेहद जरुरी है ताकि त्वचा में ब्लैकहेड्स या पिंपल जैस समस्या ना हो।

छिद्रों को सीबम से बचा कर रखें, त्वचा में पाई जाने वाली प्राकृतिक तेल पाई जाती है जो पिंपल से बचाती है। तैलीय त्वचा गंदगी को आकर्षित करती है और ये सब छिद्रों में जमा हो जाते हैं।

प्रेग्नेंसी में ब्लैकहेड्स से कैसे पाएं छुटकारा

ब्लैकहेड्स असल में पिंपल का शुरुआती लक्षण होता है इसलिए ब्लैकहेड्स पर कंट्रोल करना मतलब पिंपल से बचना है। ब्लैकहेड बहुत ही साधारण चीज है, लेकिन फिर भी कई लोग हैं जो इसके बारे में नहीं जानते हैं।

 

Dealing with blackheads during pregnancy

ये असल में तैलीय त्वचा में होती है, या फिर शरीर के जिस हिस्से में तैलीय त्वचा होती है जहां तेल जमा होते हैं और ब्लैकहेड बन जाते हैं। चूंकि छिद्र खुले हुए होते हैं इसलिए तेज हवा के प्रभाव में आती है और ऑक्सिडाइज होकर काला हो जाती है और इसे ब्लैकहेड्स कहा जाता है।

ब्लैकहेड्स से निपटने के लिए सफाई जरुरी

  • चेहरे को दिन में दो बार सुबह और रात में फेश वॉश या क्लिनजिंग लोशन से साफ करें। आप चाहें तो तुलसी, नीम और चंदन से भी सफाई कर सकती हैं।
  • गुनगुने पानी से चेहरे को साफ करें और साफ करने के बाद अच्छे से ब्लैकहेड और बाकी तैलीय त्वचा को एस्ट्रिजेंट या गुलाब बेस्ड टॉनिक से साफ करें।
  • अगर आप घरेलू नुस्खे अपनाना चाहती हैं तो खीरे का रस भी चेहरे पर लगा सकती हैं।
  • एस्ट्रिजेंट आपकी तैलीय त्वचा को कम करती है और छिद्र भी छोटे होते हैं। प्रेग्नेंसी में नैचुरल या घर में बने एस्ट्रिजेंट का इस्तेमाल करना अधिक फायदेमंद है।
  • सुबह में चेहरा साफ करने के बाद बेकिंग सोडा को पानी में मिलाएं और इसे जहां ब्लैकहेड हो रहे हैं वहां लगाएं। इसके बाद 5 मिनट में इसे धो लें।
  • सप्ताह में कम से कम तीन बार फेसियल स्क्रब लगाएं और धीरे धीरे इसे त्वचा पर ऊंगलियों को गोल गोल करते हुए लगाएं। इसे कुछ देर के लिए छोड़ दें और सादे पानी से धो लें।

ब्लैकहेड्स के लिए घर में बनाएं स्क्रब

अगर आप बाजार में उपलब्ध स्क्रब का इस्तेमाल नहीं करना चाहती हैं तो इन्हें प्राकृतिक रूप से घर में बनाकर स्क्रब का इस्तेमाल करें।

  1. पीसे हुए चावल को गुलाबजल में मिलाएं और स्क्रब की तरह इस्तेमाल करें।
  2. आप ओट्स को अंडे में मिला सकती है और ब्लैकहेड्स के एरिया में सप्ताह में दो बार लगाएं। जब ये सूख जाए तो पानी के साथ धीरे-धीरे मसाज करें। इसके बाद इसे पानी से धो दें।
  3. एक चम्मच ओट्स, चोकर और बादाम को शहद, दही और अंडे की सफेदी के साथ मिलाएं। ये पेस्ट की तरह मिलाएं ताकि वो ना गिरे। इसे चेहरे पर अच्छे से लगाएं और आधे घंटे के बाद धो लें।
  4. ब्लैकहेड से बचने के लिए चेहरे को जितना हो सके तैलीय ना रखें, एस्ट्रिजेंट लोशन आपको त्वचा को तैलीय होने से बचाता है। मुलतानी मिट्टी भी त्वचा को तैलीय होने से बचाती है। हालांकि इसे आखों के पास लगाने से बचाएं और सूख जाने के बाद धो लें।
  5. अगर आपके छिद्र खुले हुए हैं तो ओट्स को अंडे की सफेदी के साथ लगाएं और छिद्र वाले एरिया में लगाएं।सूख जाने के बाद इसे अच्छे से धो लें।
  6. अगर आपकी त्वचा तैलीय है तो ऑयली क्रीम और मॉश्चराइजर ना लगाएं। इससे आपके छिद्र ब्लॉक होते हैं और ब्लैकहेड्स होते हैं।
  7. अगर आपकी त्वचा में जल्दी ब्लैकहेड्स होते हैं और हमेशा क्लीन-अप ट्रीटमेंट के लिए जाते रहें, इससे त्वचा साफ होगी और ब्लैकहेड्स भी कम होंगे।

ब्लैकहेड्स निकालना पूरी तरह से प्रोफेशनल जॉब है और ट्रेन्ड थेपेरिस्ट से करवाना सही होता है। ब्लैकहेड्स को नाखुन ना लगाएं क्योंकि इससे इंफेक्शन फैल सकता है। हर किसी को अपनी त्वचा के बारे में पता होना चाहिए और उसके हिसाब से ट्रीटमेंट सही प्रोडक्ट का इस्तेमाल करना चाहिए।