रुजुता दिवेकर की सलाह..इन 5 चीजों को अपनाकर रुखे बाल, त्वचा और नाखून से सर्दियों में छुटकारा पाएं!

सेलिब्रिटी न्यूट्रनिस्ट रुजुता दिवेकर ने सर्दियों में रुखे बाल, नाखून और त्वचा से पीछा छुड़ाने के लिए 5 चीजों को चुना है जो मार्केट में आसानी से उपलब्ध हैं और इन्हें बनाना भी आसान है।

सेलिब्रिटी फिटनेस एक्सपर्ट रुजुता दिवेकर की खासियत है कि वो भारतीय डाइट से जुड़े रहने की बातें करती हैं। चाहे ये वजन कम करने या प्रेग्नेंसी में त्वचा की देखभाल ही क्यों ना हो। वो अपने क्लाइंट को देसी घर का खाना खाने की सलाह देती हैं।

इसलिए अगर वो रुखी त्वचाबाल और नाखून से छुटकारा पाने के लिए खास डाइट की बात करती हैं तो बिल्कुल भी आश्चर्य नहीं होता है। उन्होंने खास खाद्य पदार्थों की बात की जो हर भारतीय घर में किसी ना किसी तरह खाया और बनाया जाता है।

खाने की ये चीजें ना सिर्फ ढूंढना आसान है बल्कि इन्हें बनाने के तरीके भी काफी आसान हैं। दिवेकर ने गैर प्रवासी भारतीयों के लिए भी कई उपाय सुझाए हैं जिससे वो सर्दियों में अपने स्वास्थ्य    का ख्याल रख सकते हैं।

 

1. सूखा नारियल

विधि: लड्डूबर्फीहलवा बनाएं और दोपहर के बाद नाश्ते के बाद लें (सूखा नारियल+गुड़)। आप इसमें मूंगफली मिलाकर भी बना सकती हैं।

क्यों करें इनका इस्तेमाल:

  • सूखे नारियल में जरुरी फैटी एसिड होता है जिसकी वजह से बाल में चमक आता है और चेहरे में प्राकृतिक ग्लो। इससे होंठ सूखना भी बंद हो जाते हैं।
  • सूखे नारियल में माइक्रो न्यूट्रिएंट्स होते हैं जो रुसी और दो मुहें बालों से छुटकारा दिलाते हैं।

NRI के लिए:अगर आप भारत के बाहर रह रहे हैं तो आप सूखे नारियलनारियल का आटा या नारियल के ब्रेड का इस्तेमाल कर सकते हैं।

2. गुड़

विधि: इसे घी में मिलाएं और रोटी के साथ खाएं। इसे आप लड्डू में भी मिला सकती हैं या माउथ फ्रेशनर की तरह इस्तेमाल कर सकती हैं।

क्यों करें इनका इस्तेमाल:

  • गुड़ में पचाने की शक्ति होती है और इससे फीके पड़े नाखूनमुंहासों के दाग आदि खत्म होते हैं।
  • गुड़ आयरन और मिनरल का अच्छा स्त्रोत होता है जो पिंपल होने से बचाता है।

NRI के लिए: गुड़ का पाउडर (अधिक गहरे रंग का), raw cane sugar

3. सोंठ

विधि: सोंठ को दूध/चाय या लड्डू में मिलाकर खाएं या फिर इसे नारियल तेल (या तिल का तेलमें मिलाएं और सीधे अपने सर में लगाएं।

क्यों करें इनका इस्तेमाल:

  • सोंठ में एंटी-ऑक्सिडेंट के गुण होते हैं जो बाल और त्वचा को खराब होने से बचाते हैं।
  • सूखा सोंठ भी तेल और प्राकृतिक बाल के कंडीशनर का काम करता है।

NRI के लिए: आप इसे चाय,सलादस्कॉयश,सूप आदि में मिला कर पी सकते हैं।

4. तिल

विधि: इसे आप तिल के लड्डूचिकी या सब्जी में डालकर भी खा सकते हैं। इसे चाहें तो दाल या रोटी में भी मिलाकर खा सकते हैं।

क्यों करें इनका इस्तेमाल:

  • इसमें मिनरल प्रचुर मात्रा में पाई जाती है जो त्वचा की नमी बरकरार रखती और पिग्मेंटेशन को भी कम करती है।
  • तिल में विटामिन B1 और पाया जाता है जिससे स्कैल्प को पोषक तत्व मिलते हैं और बाल सफेद भी नहीं होते हैं।

NRI के लिए: ब्रेड पर डालकर,तिल का ब्रेड स्टिकतिल बार के रूप में खाएं।

5. राजगिरा

विधि: आप इसका इस्तेमाल लड्डू में रोल करके या चिकी की तरह कर सकते हैं।

क्यों करें इनका इस्तेमाल:

  • राजगिरा में Iysine प्रचुर मात्रा में पाई जाती हैये एक तरह की एमीनो एसिड होती है जिससे बालों का विकास होता है।
  • राजगिरा में फोलेट भी होते हैं जिससे त्वचा और बाल चमकते हैं।

NRI के लिए: आप राजगिरा बार या राजगिरा ब्रेड खा सकते हैं।

दिवेकर की हेल्दी त्वचाबाल और नाखून को लेकर दी गई गई सलाह भी दादी मां के फेवरिट खाद्य पदार्थों में से ही आई है जो भारत के हर घर में पाई जाती है।

हाल में ही एक दैनिक अखबार में उन्होंने कहा कि "हमें पश्चिमी देशों को हमारे देश के खानों को पहचान देने का इंतजार नहीं करना चाहिए।एक डाइट जो आपकी सभ्यता से नहीं जुड़ा हुआ है वो कभी फायदेमंद नहीं हो सकता है। इसलिए क्यों भूखे रहना या जिम में समय बरबाद करना। बेहतर है कि हम वो खाएं जो खाते हुए बड़े हुए हैं?"