“मैं तलाक चाहती हूं लेकिन मेरे पति मुझे जाने नहीं देंगे..मुझे क्या करना चाहिए ”

lead image

घर आने के बाद वो बिल्कुल भी नॉर्मल नहीं थे, वो कुछ भी नहीं बोल रहे थे और किसी चीज पर ध्यान भी नहीं दे रहे थे।

मैं ये समस्या शेयर कर रही हूं क्योंकि मैं जानती हूं आप सभी माएं अक्सर यहां एकत्रित होती हैं और मुझे अपनी समस्या का सही समाधान मिलेगा।

सबसे पहले मैं बताना चाहूंगी कि हम कौन हैं?

मैं कॉर्पोरेट में एक प्रोफेशनल हूं मेरे पति भी इसी क्षेत्र में काम करते हैं। हम कॉमन दोस्तों के जरिये 20 साल पहले मिले थे और बहुत ही अच्छे दोस्त बनें , धीरे-धीरे ये दोस्ती और आगे बढ़ी और हमें एहसास हुआ कि हम एक दूसरे की कंपनी इंज्वॉय करते हैं और एक दूसरे से दूर नहीं रहना चाहते हैं।

हमने 6 साल डेट किया...

हमनें 6 साल एक दूसरे के साथ डेट किया तब जाकर हमारी शादी हुई और दोनों ही परिवार इस शादी से बेहद खुश थे। हम दोनों की जिंदगी काफी अच्छी थी और हम दोनों ही अपनी प्रोफेशनल जिंदगी में काफी अच्छा कर रहे थे।

तीन सालों के बाद मैं अपने परिवार को आगे बढ़ाना चाहती थी लेकिन वो अभी इसके लिए तैयार नहीं थे, उन्होंने कहा कि वो अभी सिर्फ मुझे चाहते हैं और बेबी कुछ सालों के बाद प्लान करेंगे। मुझे चिंता हो रही थी कि मेरी उम्र बढ़ रही है फिर मैंने सोचा कि ये उनका प्यार है इसलिए मैं भी इंतजार करने लगी।

मेरी पति धीरे-धीरे सफल होते गए और काफी यात्राएं करते थे, मैं ऑफिस से आने के बाद घर पर रहना अधिक पसंद करती थी ।एक समय आया जब मैं अपनी जॉब बदलना चाहती थी और चूंकि हम एक फील्ड के थे इसलिए मैंने पति के ऑफिस ज्वाइन करने का फैसला किया और सोचा कि उनके लिए काफी बड़ा सरप्राइज होगा।

src=https://hindi admin.theindusparent.com/wp content/uploads/sites/10/2017/07/couple feat 3.jpg “मैं तलाक चाहती हूं लेकिन मेरे पति मुझे जाने नहीं देंगे..मुझे क्या करना चाहिए ”

मुझे उनकी कंपनी में नौकरी मिल गई और मैं ऑफिस में उनके रिएक्शन का इंतजार कर रही थी। मैं जब ऑफिस पहुंची और उन्होंने मुझे देखा तो उन्हें लगा शायद मैं उनसे मिलने आई हूं और वो मुझे देखकर काफी खुश भी हुए। मैं उन्हें गले लगाया और बोला कि मैंने भी उनके ऑफिस में ही ज्वाइन किया है।

कुछ सेकेंड के लिए उनका चेहरा बिल्कुल ब्लैंक नजर आ रहा था, मुझे साफ दिख रहा था कि इतना निराश वो कभी नहीं हुए थे। मुझे लग रहा था मैं भाग जाऊं।

उन्होंने तुंरत मुझे स्माइल दिया और मेरा स्वागत भी किया।

घर आने के बाद वो बिल्कुल भी नॉर्मल नहीं थे, वो कुछ भी नहीं बोल रहे थे और किसी चीज पर ध्यान भी नहीं दे रहे थे।

इसका कारण? मुझे जल्द ही पता चला कि ऑफिस में किसी के साथ रिलेशनशिप में थे और साथ ही वो महिला काफी प्रभावशाली थी।

मैंने तुरंत उन्हें तलाक देने को कहा। मैं शॉक्ड थी लेकिन मुझे पता था  कि मैंने अगर अभी नहीं छोड़ा तो मैं कुछ कर बैठूंगी। उन्होंने मुझे शांत करने की कोशिश की और कहा कि ये महज एक गलती थी। इसके बाद उन्होंने भी बेबी की बात करनी शुरु कर दी।

हम एक बेबी के पैरेंट्स बने

हम एक बच्चे के पैरेंट्स बनें और मैं काफी खुश थी, मेरे पति भी काफी खुश नजर आ रहे थे। लेकिन स्थिति फिर से खराब होने लगी। वो कई दिनों और सप्ताह के लिए घर से बाहर रहने लगे। हमने कितनी भी कोशिश लेकिन हम वापस रिश्ते को पटरी पर नहीं ला सके। हम अलग होते ही गए।

मैं ज्यादातर अब खुद में अपने बेबी के साथ रहती हूं और मेरा समय सिर्फ घर, बच्चा और ऑफिस में जाता है।यही मेरी जिंदगी  है। मैंने कई बार तलाक की बात की है लेकिन मेरे पति का कहना है कि उनके करियर पर इसका बुरा प्रभाव पड़ेगा। उनका कहना है कि मैं इस शादी में खुश रहूंगी क्योंकि वो मुझसे कोई एहसान नहीं मांगेंगे लेकिन वो तलाक के लिए हां नहीं बोलेंगे। अगर मैं तलाक के लिए केस करूंगी कस्टडी की समस्या आएगी और मैं बच्चे को इसमें नहीं शामिल करना चाहती हूं।

मॉम, मुझे क्या करना चाहिए? क्या आप मुझे कुछ सलाह दे सकती हैं, मुझे इंतजार रहेगा।