“मुझे अपने पैसों के लिए पति पर निर्भर रहना पसंद नहीं”

lead image

मुझे अपनी आर्थिक स्थिति पर दुख होता है ...

एक जॉब करने वाली लड़की से एक घर में रहने वाली मम्मी बनने के सफर आसान नहीं होता है। हालांकि आपको 9 से 5 की नौकरी के तनाव से मुक्ति जरुर मिल जाती लेकिन आपकी जिम्मेदारी अलग तरह की होती है और आपसे उम्मीदें बढ़ जाती हैं लेकिन जब पैसों की बात आती है आप खुद को कम आत्मनिर्भर मानती हैं।

theAsianparent Community कम्युनिटी की एक यूजर Mikaela ने आर्थिक आत्मनिर्भरता के बारे में पूछा तो अधिकतर माएं को उनसे हमदर्दी थी। कई यूना एल जैसी माएं भी हैं जो आजतक अपने पति से पैसे नहीं मांगी। उनका कहना है कि “मुझे अपने पैसे कमाने और खर्च करने की आदत पड़ चुकी है लेकिन अब मुझे अपनी आर्थिक स्थिति पर दुख होता है लेकिन इतना नहीं कि अपने पति से पैसे मांगने की जरूरत पड़े।“

parenttown 5 “मुझे अपने पैसों के लिए पति पर निर्भर रहना पसंद नहीं”

वो कहती हैं कि “अब जबकि अधिक बिल वही जमा करते हैं लेकिन अगर मुझे खुद अपने खर्च में दिक्कतें होंगी तो भी मैं उससे मदद नहीं लूंगी।मैंने रास्ता निकाल लिया है (ज्यादातर फ्रीलैन्स और पार्ट टाइम नौकरी) लेकिन इसलिए नहीं कि वो मेरी मदद नहीं करता बल्कि इसलिए कि मेरा आत्मसम्मान बीच में आ जाता है।

पार्ट टाइम नौकरी

ज्यादातर लोग पार्ट टाइम नौकरी या ऑनलाइन बिजनस करते हैं ताकि परिवार की आय बढ़ सके। श्रुति बी का कहना है कि ”आपको घर से काम या ऑनलाइन बिजनस करना चाहिए ताकि कॉन्फिडेंस बना रहे और आप भी खुश रहें।“

कुछ माएं फ्रीलेन्सिंग या साइड बिजनस करती है लेकिन फिर भी पति से पैसे मांगती हैं। Jonalyn M का कहना है “मुझे अपनी बेबी की देखभाल के लिए नौकरी छोड़नी पड़ी। मेरा एक ऑनलाइन स्टोर और ऑनलाइन जॉब है लेकिन कमाई रेग्युलर नहीं होती जैसा मैं ऑफिस में कमा लेती थी और ना कुछ खास होती है बस इतना कि घर का राशन आ जाए।“

पत्नी को पैसे (भत्ते)

Charm ने बताया कि कैसे उसके पहले बॉस अपनी पत्नी को अपनी सैलेरी का कुछ हिस्सा देते थे। पत्नी को दिए गए पैसों से उनका कोई लेना नहीं होता। वो जहां चाहे उसे खर्चे कर सकती है। वो चाहे तो अपने परिवार को दे सकती है क्योंकि वो उसका पैसा है। मेरे बॉस की पत्नी कुछ स्पेशल फंक्शन के लिए गिफ्ट के पैसे बचा सकती थी।

dreamstime s 33166975 “मुझे अपने पैसों के लिए पति पर निर्भर रहना पसंद नहीं”

लेकिन कई बार औरतें भत्ता लेने में भी संकोच करती हैं।Faye C का कहना है कि मेरे पति कुछ पैसे देते हैं जो मैं जहां खर्च कर सकती हूं। लेकिन मुझे वो पैसे खर्च में शर्म आती है जो मैंने नहीं कमाए हैं।

फुलटाइम मां की नौकरी

मांओं को ये सोचने और समझने की जरूरत है कि घर में रहकर बच्चों का ख्याल रखना घर में सबसे बड़ा योगदान है और इसलिए घर में रहने वाली मांओं को इसके लिए किसी भावना मन में नहीं होनी चाहिए। एक मां के तौर पर आप अपने बच्चों का ख्याल रख रही हैं इससे बड़ा काम कुछ और नहीं हो सकता।

Ashley A का कहना है कि “आप लकी हैं कि आपके पति ऐसे हैं जो परिवार में आपका योगदान देते हैं।आपके पति भी मेहनत इसलिए करते हैं ताकि परिवार का अच्छे से ख्याल रख सकें।किसी भी काम करने वाली मां के लिए ये मुश्किल है लेकिन जैसे ही आप महसूस करेंगी कि बेबी को बढ़ते देखने से ज्यादा खुशी कुछ में नहीं है आप सब भूल जाएंगी।

इस आर्टिकल के बारे में अपने सुझाव और विचार कॉमेंट बॉक्स में ज़रूर शेयर करें | 

Source: theindusparent