मनीष मेरे पापा से कुछ साल छोटा है - अविका गौड़

कई महीनों से उड़ रही अफवाह के बाद अविका गौड़ उर्फ बालिका वधु की आनंदी ने अपने को-स्टार मनीष रायसिंगान के साथ कथित रिलेशनशिप पर अपनी चुप्पी तोड़ी है।

कई महीनों से उड़ रही अफवाह के बाद अविका गौड़ उर्फ बालिका वधु की आनंदी ने अपने को-स्टार मनीष रायसिंगान के साथ कथित रिलेशनशिप पर अपनी चुप्पी तोड़ी है।

जैसा माना जा रहा था उससे इतर सच्चाई ये है कि वो मनीष के साथ रिलेशनशिप में नहीं हैं। एक लीडिंग डेली से बात के दौरान उन्होंने कहा कि मनीष मेरे पापा से कुछ साल छोटा है। इसलिए मेरी उसके साथ रोमांटिक एंगल की संभावना ही नहीं है। हम दोनों काफी अच्छे दोस्त हैं जो हमारी अंडरस्टैडिंग, सम्मान और परिपक्वता पर टिका है।“

अविका ने साथ ही ये भी कहा कि वो बेस्ट फ्रेंड हैं और खास बॉन्डिंग शेयर करते हैं जो इन अफवाहों से परे हैं।

हम लोग BFF हैं और मेरा सबसे मजबूत सपोर्ट सिस्टम है। मैं उसे शिन चैन बुलाती हूं (पॉपुलर कॉमिक कैरेक्टर) और वो मुझे मिट्जी बुलाता है। हम दोनों ने अपने इस दोस्ती के रिश्ते को काफी अच्छे से निभाया है। हम अच्छे दोस्त हैं और हमेशा रहेंगे। मेरा इरादा कभी भी मनीष को डेट करने का नहीं है।"

 

 

A post shared by Avika ⭐ (@avika_n_joy) on

मनीष ने भी लीडिंग डेली से बातचीत के दौरान कहा कि वो इन अफवाहों से काफी ज्यादा प्रभावित हुए और दुखी भी।

उन्होंने कहा कि इस तरह के गॉसिप से मैं पहले काफी परेशान हुआ और इतना मूर्ख था कि अविका से दूरी बना ली। मैं काफी चिड़चिड़ा भी हो गया। इन अफवाहों ने मुझे काफी परेशान किया लेकिन बाद में मुझे समझ आया कि अगर मेरे गलत इरादे नहीं हैं तो मैं उससे अलग थलग सा व्यवहार क्यों करूं? मैंने कभी भी उसे डेट नहीं किया। अब ऐसी वाहियात बातें मुझे प्रभावित नहीं करती है और काम के सिलसिले में हम मिलते रहते हैं।"

 

 

A post shared by Avika ⭐ (@avika_n_joy) on

तीन कारण क्यों हर लड़के को एक लड़का बेस्ट फ्रेंड चाहिए

अविका और मनीष रोसिड के नाम से जाने जाने हैं जिन्हें रोली और सिद्धार्थ के कैरेक्टर को मिला कर बनाया गया है। ससुराल सिमर का मैं ये उनके कैरेक्टर के नाम थे। उनकी दोस्ती गवाह है कि हर लड़की को शायद एक लड़का बेस्ट फ्रेंड चाहिए। जानिए क्यों:

  • वो आपको नया नजरिया देते हैं: चुंकी दोनों के विपरित लिंग होते हैं इसलिए वो हमेशा किसी भी समस्या का एक नया नजरिया देते हैं जो लड़की दोस्तों से काफी अलग होते हैं। इससे आपको दोनों तरफ की बातें समझ आएगी।
  • वो कम इमोशनल होते हैं: ये तो आप भी मानेंगे कि अगर कोई लड़का आपका बेस्ट फ्रेंड है तो मतलब साफ है कि आप कम इमोशनल और ड्रैमेटिक होंगे और शायद प्रैक्टिकल रिलेशनशिप हो।
  • वो आपको ज्यादा कंफर्टेबल और बेफिक्र रखते हैं: लड़कों के साथ आप वो सब कर सकती हैं जो लड़कियों के साथ नहीं कर सकती हैं। जैसे बाइक चलाना, कार चलाना या वीडियो गेम खेलना।ये काफी रिफ्रेशिंग बदलाव है!

इस आर्टिकल के बारे में अपने सुझाव और विचार कॉमेंट बॉक्स में ज़रूर शेयर करें | 

Source: theindusparent