प्रेगनेंसी के बाद ब्रेस्ट को सुडौल बनाने के असरदार घरेलू तरीके

खुद को मेंनटेन रखने की कोशिश तो करनी ही चाहिए लेकिन आपको धैर्य भी रखना होगा क्योंकि प्रसव के बाद एक समय अंतराल के बाद वापस से आपका फिगर सामान्य लगने लगेगा । वैसे प्रसव के बाद से महिलाएं सबसे ज्यादा अपने ब्रेस्ट के बढ़े साइज़ और ढ़ीलेपन से परेशान रहती हैं ।

महिलाएं हों या पुरुष , हर उम्र में लोग आजकल परफेक्ट दिखना चाहते हैं और अपने शरीर के बनावट या यूं कहें कि फिगर को बेहतर रखने के लिए तरह-तरह के प्रयास भी किए जाते हैं । अपने लुक्स और व्यक्तित्व को आकर्षक बनाए रखने के लिए व्यायाम, जिम, ट्रीटमेंट आदि कई तरह के विकल्पों को आज़माते हैं ।

ख़ास कर नई उम्र की महिलाएं जिन्होंने अभी-अभी मातृत्व का अनुभव किया है उन्हें तो अपने पुराने कपड़ों में दोबारा से फिट होने की चिंता लगी ही रहती है । खैर, खुद को मेंनटेन रखने की कोशिश तो करनी ही चाहिए लेकिन आपको धैर्य भी रखना होगा क्योंकि प्रसव के बाद एक समय अंतराल के बाद वापस से आपका फिगर सामान्य लगने लगेगा । वैसे प्रसव के बाद से महिलाएं सबसे ज्यादा अपने ब्रेस्ट के बढ़े साइज़ और ढ़ीलेपन से परेशान रहती हैं ।

आपको बता दें कि गर्भावस्था के दौरान ब्रेस्ट का बढ़ना सामान्य है और धीरे-धीरे ये आपके नार्मल साइज से 2 साइज तक बढ़ सकता है। शिशु को स्तनपान कराने के कारण चूंकि स्तनों में दूध बढ़ता है तो इसकी कोशिकाओं का फैलना नैचुरल है ।आमतौर पर ब्रेस्ट में ढ़ीलापन 40 की उम्र के बाद ही देखने को मिलता है लेकिन इसके पहले ब्रेस्ट के सुडौल ना होने के पीछे कई संभावित कारण हो सकते हैं ।  जैसे-

  • कई सालों तक लगातार स्तन पान कराने के कारण स्तनों का नीचे की ओर झुकना ।
  • लगातार गलत साइज़ या ढ़ीले ब्रा पहनने के कारण भी स्तनों का पोज़िशन प्रभावित हो जाता है ।
  • गर्भधारण करने के बाद भी कई बार धीरे-धीरे स्तनों की कसावट कम होने लगती है ।
  • विटामिट एवं पोषण की कमी के कारण भी स्तनों की खूबसूरती कम होती जाती है ।
  • स्मोकिंग की लत के कारण भी त्वचा की कसावट पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ता है ।

ब्रेस्ट को सुडौल तथा उन्हें कसावदार बनाने का लिए ये आसान घरेलू टिप्स ज़रुर आज़माएं

  • आईस मसाज़- जी हां, बर्फ के टुकड़े से ब्रेस्ट पर मसाज़ करने से कोशिकाएं संकुचित होती हैं और नियमित रुप से ऐसा करने से इसके बेहतर परिणाम देखने को मिलेंगे । बस, ध्यान ये रखना है कि ज्यादा ज़ोर से ना घिसें और मासाज़ बहुत देर तक लगातार ना करें एक मिनट ही काफी होगा ।
  • परफेक्ट ब्रा- ऐसे ब्रा चुनें जो आरामदेह होने के साथ ही ब्रेस्ट को ऊपर की ओर उठा के रख सके । स्तनों को पूरा सपोर्ट करता हुआ फिट ब्रा ही पहनें । जॉगिंग वगैरह करती हों तो स्तनों को स्थिर रखने के लिए अच्छे स्पोर्ट्स ब्रा चुनें ।   
  • योगा अपनाएं- हम में से कई महिलाएं नियमित रुप से व्यायाम में समय नहीं दे पाती हैं ।  लेकिन अगर आप बेहतर फिगर और त्वचा में चमक लाना चाहती हैं तो निश्चित रुप से योगा करें ।  आपको कैसे योगाभ्यास करने चाहिए जिसमें सीने, कंधे और हाथों का मूवमेंट शामिल हो । हालांकि पुश-अप वगैरह करने से भी स्तनों में कसावट आती है । 
  • ब्रेस्ट मास्क- जी हां, जिस तरह हेयर एवं फेस के लिए मास्क होते हैं उसी प्रकार आप अपने स्तनों के लिए मास्क तैयार कर सकती हैं । आपकी पसंद के अनुसार कई प्रकार के मास्क बनाए जा सकते हैं जो त्वचा की सेहत और बनावट को संरक्षित कर सके ।जैसे- 1. खीरा के पल्प, मलाई, अंडे का पीला भाग लें । अब इसके मिश्रण से एक अच्छा मास्क तैयार कर सकती हैं जिसे 15-20 मिनट तक ब्रेस्ट पर लगा कर रखने के बाद पानी से घुल दें । 2. मेथी पाउडर को पानी से हल्का गीला करने के बाद स्तनों पर मालिश करें इससे खूबसूरती आती है । 3. अंडे के सफेद भाग को मिक्स कर स्तनों पर लेप लगाएं सूखने के बाद प्याज के पेस्ट को हल्के हाथों से ब्रेस्ट पर रब करके साफ पानी से धो लें ।
     
  • मसाज़ करें- स्तनों को बड़ा करने में मसाज़ बेहतर भूमिका अदा करता है लेकिन जब ढ़ीले और बेजान स्तनों को फिर से आकर्षक बनाने की बात हो तो भी आप ऑलिव ऑयल से या घर में उपलब्ध तेल से स्तनों की नियमित मसाज़ करें । स्तनों की कसावट के लिए इससे काफी फर्क पड़ेगा ।