बबीता हमेशा मेरी पत्नी रहेगी और मैं उसका ख़राब पति : रणधीर कपूर

lead image

उनकी दोनों बेटियों ने इस शादी को आसान बनाने की पूरी कोशिश की और इसका नतीजा ये निकला कि ये एक्स कपल अपनी दूरियां भूलाकर अब एक दूसरे के बेस्ट फ्रेंड हैं।

ये बात सभी जानते हैं कि रणधीर कपूर और बबीता 1980s के अंत में काफी उतार-चढ़ाव भरी शादी के बाद अलग हो गए।

1980s के मध्य में कई आर्टिकल लिखे गए जिसमें कहा गया कि बबीता शिवदासानी कपूर परिवार से सारे रिश्ते नाते तोड़ चुकी हैं और अपनी बेटियों का अकेले पालन पोषण कर रही हैं। उस समय उनकी तलाक की भी खबरें आती थी लेकिन इस कपल ने कानूनी रूप से कभी तलाक की अर्जी नहीं डाली।  

हालांकि उनकी दोनों बेटियों ने इस शादी को आसान बनाने की पूरी कोशिश की और इसका नतीजा ये निकला कि ये एक्स कपल अपनी दूरियां भूलाकर अब एक दूसरे के बेस्ट फ्रेंड हैं। 
 

रणधीर कपूर ने अपनी पत्नी बबीता के बारे में बात करते हुए एक इंटरव्यू में कहा था कि "मेरी एक पत्नी है और दो बेटियां (करिश्मा और करीना)। बीते सालों में मेरी जिंदगी में कुछ भी नहीं बदला है। सिर्फ एक बात है अब मैं उनके साथ नहीं रहता। दोनों की शादी हो गई है और वो अपने घरों में है। बबीता भी अपनी जगह में काफी खुश है।"

उन्होंने साथ ही ये भी कहा कि उनके बीच कुछ भी हुआ हो लेकिन बबीता मेरी पत्नी है। "बबीता ने दूसरी शादी नहीं की और ना कभी करना चाहती थी, मैं भी कभी दूसरी शादी नहीं चाहता था। वो मेरी पत्नी बनी रही और मैं भी उसका खराब पति बना रहा।" कपूर खानदान के ये बेटे अपने हाजिर जवाबी से भरे वन लाइनर्स के लिए जाने जाते हैं। रणधीर कपूर कुछ महीनों पहले ही 70 साल के हुए हैं और पूरे परिवार ने 70वें जन्मदिन को काफी ग्रैंड तरीके से मनाया था। 

रणधीर कपूर ने फरवरी में धूमधाम से अपना 70वां जन्मदिन मनाया। पार्टी में पूरा कपूर परिवार और कुछ खास दोस्त शामिल हुए। करिश्मा कपूर और करीना कपूर अतिथियों का पूरा ख्याल रखते नजर आ रही थीं। रणधीर कपूर ने अपने नाती-नातिन के साथ क्वालिटी टाइम बिताने में कोई कसर नहीं छोड़ी। इस बार तो जन्मदिन पर छोटे तैमूर भी उनके साथ थे। 

अपने जन्मदिन से पहले दिए इंटरव्यू में उन्होंने करिश्मा और करीना के बच्चों के बारे में बात करते हुए कहा था कि "मेरे तीन बहुत ही प्यार नाती-नातिन हैं। तैमूर  तो फिलहाल सिर्फ दो महीने का हैं लेकिन बाकी दोनों आएंगे। उस दिन दोनों का स्कूल रहेगा तो कुछ देर के लिए आएंगे। मैं हैप्पी-गो-लकी जिंदगी जी रहा हूं और मैं अब और भी अच्छे से अपनी बढ़ती उम्र को इंज्वॉय कर रहा हूं। ब्लैक लेबल का आधा बोतल और अच्छा खाना ही मेरी जरूरत है।"

रणधीर कपूर ने ये भी कहा कि उन्हें अपनी जिंदगी में कोई पछतावा नहीं है और पूरी तरह से इसे जी रहे हैं। 

उन्होंने एक इंटरव्यू में कहा कि "मैं पूरी तरह इस बात में विश्वास करता हूं इस जिंदगी में एक मुट्ठी आसमान मेरा भी है। ये सोच मुझे आगे बढ़ने के लिए प्रेरित करता है। मैं अपनी पारी खेल चुका हूं। कुछ शतक भी ठोके, कुछ छक्के तो कुछ चौके भी मारे। मैं सेमी-रिटायर्ड स्थिति में हूं। मैं फिल्मों में काम करता हूं अगर मुझे कोई स्क्रिप्ट अच्छी लग जाए। मुझे अब कुछ भी नहीं चाहिए। मेरे बच्चे सेटल हो चुके हैं। बल्कि मेरी दोनों बेटियां मुझसे अधिक अमीर हैं। मैं हमेशा उन्हें मजाक में कहता हूं कि अपने पिता के तौर पर मुझे एडॉप्ट कर लें ताकि मैं भी अमीर हो जाऊं। मैं बबीता से भी डिनर पर मिलते रहता हूं। हम साथ खाते हैं, हंसते हैं और अच्छा समय बिताते हैं। हम ऐसे ही हैं।"

 

रणधीर कपूर और बबीता का रिश्ता इस बात का सुबूत है कि बच्चे भी अपने पैरेंट्स के टूटे रिश्ते को जोड़ने में मदद करते हैं। तलाक ज्यादातर कपल के लिए अच्छा नहीं  होता है लेकिन अपने पार्टनर के दूरियों के बावजूद अच्छा रिश्ता रखना शादी खत्म करने से काफी अलग है।

यहां जानिए आप कैसे अपने पार्टनर के साथ रिलेशनशिप अच्छा रखें:

  1. आदर करें: आप दोनों ने जिंदगी के किसी ना किसी मोड़ पर एक दूसरे से प्यार किया, पुराने दिनों के लिए एक दूसरे के साथ अच्छा व्यवहार रखें और इज्जत करें। खासकर अपने बच्चों के सामने। 
  2. सकारात्मक रहे: अपनी जिंदगी और रिश्तों को लेकर पॉजिटिव नजरिया रखें। आपके पुराने रिश्तों को बनाए रखने से आपका तनाव कम होगा। पुरानी बातों को पुरानी ही रहने दें। 
  3. मदद की पेशकश करें: टूटे हुए रिश्तों को संभालना मुश्किल होता है। ये सिर्फ आपके लिए नहीं बल्कि आपके परिवार के लिए भी मुश्किलों भरा समय होता है। ऐसी स्थिति में बेहतर है एक दूसरे की मदद करें और समस्याओं को दूर करें। 

Source: theindusparent.com