बच्चों के लिए शानदार बर्थडे पार्टी...कहां तक होनी चाहिए सीमा

बच्चों के लिए शानदार बर्थडे पार्टी...कहां तक होनी चाहिए सीमा

बर्थडे पार्टी के नाम पर जो दिखावा किया जाता है ये बच्चों के लिए नहीं होता क्योंकि एक दो साल के बच्चों को याद नहीं रहेगा कि उन्होंने अपना जन्मदिन कैसे मनाया

इस शनिवार हम एक बर्थडे पार्टी से लौट रहे थे। जल्द ही 5 साल की होने वाली मेरी बेटी नव्या ने कहा “मुझे भी बर्थडे पार्टी इस बार क्लबहाउस में चाहिए”। पांच मिनट के बाद उसने फिर पूछा “ लेकिन हम टैटू और मैजिशियन से कैसे कॉन्टेक्ट करेंगे? मम्मी क्या आपके पास उनका नंबर है ?”

जैसी बर्थ डे पार्टी आजकल सोसाइटी में होती है, हम भी इस वीकेंड वैसी ही एक बर्थडे पार्टी में गए जिसमें वो सारे व्यवस्था थी कि लोग सोसाइटी में उसके बारे में बात करें। पार्टी का थीम सुपरहीरो था इसलिए उसमें स्पाइडर भी था (हालांकि वो थोड़ा दुबला था)। बाकी बच्चे भी पार्टी में सुपरमैन, ऑयरन मैन और बाकी सुपरमैन के ड्रेस में आए थे। वहां टैटू कॉर्नर, मैजिशियन, सेल्फी कॉर्नर सबकुछ था जो एक चार साल के बच्चे को देखकर मजा आ जाए।

बच्चों के प्रेशर से कैसे निपटा जाए

पार्टी में बेशक हमने काफी मस्ती की लेकिन मेरी बेटी ने जो डिमांड की उससे पता चल रहा था कि इस तरह की पार्टियों का बच्चों पर क्या असर पड़ता है। इन सब के कारण मेरी बेटी ने अचानक दिलचस्पी लेनी शुरू कर दी कि उसकी उम्र के बाकी बच्चे क्या कर रहे हैं। उन्होंने पार्टी में क्या किया , किस खिलौने के साथ वो खेल रहे थे, उनके कैसे जूते थे और उन्होंने कैसे अपना जन्मदिन मनाया।  

birthday magician

मैंने ध्यान दिया है कि इस तरह की चीजें आजकल काफी कॉमन हो गई है। कुछ दिनों पहले वो एक बर्थडे पार्टी से आई और उसे भी बिल्कुल फ्रोजेन की एल्सा जैसी ब्लू ड्रेस चाहिए थी।

इसके बाद उसे फैंसी प्ले किचन चाहिए था वो भी ठीक वैसा जैसा उसकी दोस्त के पास था तो इसके साथ उसे चमचमाता स्कूटर भी चाहिए लेकिन बड़ा सवाल ये है कि उनके लिए रेखा कैसे खिंची जाए।

मैं जल्दी राजी हो जाने वाली माओं में से नहीं हूं...

मैं जल्दी राजी हो जाने वाली माओं में से नहीं हूं जो आप अब तक समझ गई होंगी लेकिन मुझे ये भी नहीं पता कि ऐसे प्रेशर से कैसे निपटा जाए। मेरे लिए जन्मदिन हमेशा एक छोटी सी पार्टी होती है जिसमें मेरे परिवार के सदस्य और मेरी बेटी के दोस्त होते हैं। अब मेरी बेटी 5 साल की होने वाली है और मुझे समझ नहीं आता कि इस तरह की चीजों से मैं कैसे उसे बचा सकती हूं।

एक चीज जो मुझे चिंतित करती है वो कि बर्थडे पार्टी के नाम पर जो दिखावा किया जाता है ये बच्चों के लिए नहीं होता क्योंकि एक दो साल के बच्चों को याद नहीं रहेगा कि उन्होंने अपना जन्मदिन कैसे मनाया। मुझे लगता है आप भी इस बात से इत्तेफाक रखेंगी।

हमारे लिए बर्थडे पार्टी मतलब दोस्तों के साथ मस्ती, मम्मी के बनाए छोले भटूरे, समोशा, जलेबी और घर के बने खाने। आजकल जन्मदिन की पार्टी कार्निवल बनकर रह गया है।

इसके अलावा महंगे महंगे रिटर्न गिफ्ट जिसमें पर्सनलाइज्ड मग, फोटो फ्रेम, बैग और बार्बी जैसी महंगी चीजें दी जाती है।

फिर से बात वही हो जाती है कि कि सबकी अपनी अपनी पसंद है। मैं यहां और लेक्चर नहीं देना चाहती। एक पैरेंट्स के तौर पर हमें याद रखना चाहिए कि हम पैरेंट्स उनके लिए उदाहरण बनाते हैं और जो रास्ते हम दिखाते हैं वो उसी को फॉलो करते हैं। इसलिए हमें ज्यादा चौंकन्ना और होशियार रहने की जरूरत है।

एक चीज वो हम सब कर सकते हैं वो ये कि जन्मदिन मनाना ठीक है लेकिन एक किस या उनका हमें गले लगाना बहुत जरूरी होगा जब हम उम्रदराज हो जाएंगे। उन्हें सच्चाई बताइए कि असली दोस्त कुछ भी हो जाए उनका साथ नहीं छोड़ेंगे और जिंदगी में ये मायने रखता है, है कि नहीं?

इस आर्टिकल के बारे में अपने सुझाव और विचार कॉमेंट बॉक्स में ज़रूर शेयर करें | 

Source: theindusparent

Any views or opinions expressed in this article are personal and belong solely to the author; and do not represent those of theAsianparent or its clients.