अगर आपके बच्चे को भी लग गई है टीवी की लत...तो इसे ज़रूर पढ़ें

lead image

लेकिन अगर इसे लिमिट में और सूझबूझ को साथ बच्चे को देखने दिया जाए तो बच्चे के मानसिक विकास के लिए काफी फायदेमंद रहता है लेकिन अगर बच्चे को टीवी की लत लग गई तो यह उसके लिए परेशानी बन सकता है।

आजकल के बच्चे थोड़े से ही बड़े होते हैं उन्हें टीवी का चस्का बहुत जल्दी लगता है। टीवी ऐसी चीज़ है जो किसी को भी अपने साथ बांधे रखता है। लेकिन अगर इसे लिमिट में और सूझबूझ को साथ बच्चे को देखने दिया जाए तो बच्चे के मानसिक विकास के लिए काफी फायदेमंद रहता है लेकिन अगर बच्चे को टीवी की लत लग गई तो यह उसके लिए परेशानी बन सकता है।

अगर आपका बच्चा भी काफी काफी देर तक के लिए टीवी के सामने बैठा रहता है और मना करने पर भी नहीं हटता तो आपको कुछ ज़रूरी कदम उठाने होंगे। लेकिन आपको बता दें कि बच्चे पर पूरी तरह से टीवी देखने के लिए रोक लगा देना भी समस्या का समाधान नहीं है। आपको इसके लिए सबसे पहले अपने बच्चे का टीवी देखने का टाइम मैनेज करना होगा।

अगर बच्चे को टीवी की लत लग गई है...

आप अगर चाहते हैं कि आपका बच्चा अपना सारा समय सिर्फ टीवी देखने में ही ना बिता दे तो इसके लिए आपको सबसे पहले उसके टीवी टाइम को मैनेज करना होगा। आप उसका टाइमटेबल बनाएं। आइए आज हम आपको बताते हैं कि बच्चे के टीवी टाइमटेबल बनाते समय आपको किन बातों का ख्याल रखना चाहिए...

1.सीरीज प्रोग्राम पर रोक लगाएं: अगर आपका बच्चा सिरीज़ प्रोग्राम देखने लगा है तो उसे अगले एपिसोड देखने का इंतज़ार रहेगा। इसलिए आप उन्हें एक या दो खास खास प्रोग्राम देखने दें।

2.बच्चे का ध्यान भटकाएं: बच्चे को टीवी से दूर रखने के लिए आप उनका ध्यान भटकाएं। इसके लिए आप उनके साथ ऐसी मजेदार एक्टिविटी करें जिनमें उन्हें दिलचस्पी आए और जो क्रिएटिव हो। ऐसा करने से उनका ध्यान दूसरी गतिविधियों में लगेगा और टीवी से हटेगा।

3. समय कम करें: सबसे पहले तो आप इस बात का ध्यान रखें कि कभी बच्चे को टीवी देखने लिए मना ना करें। इसकी जगर आप उनके टीवी देखने के समय को कम करें। कहा जाता है कि बच्चे को दिन में एक या दो घंटे से ज्यादा टीवी नहीं देखना चाहिए।

cancer in kids 9 अगर आपके बच्चे को भी लग गई है टीवी की लत...तो इसे ज़रूर पढ़ें

4. किड फ्रेंडली प्रोग्राम का करें चुनाव: आप अपने बच्चे के लिए टीवी प्रोग्राम चुनते समय किड फ्रेंडली प्रोग्राम पर ध्यान दें। बच्चे को हिंसा और एडल्ट कंटेंट वाले प्रोग्राम से बच्चों को दूर रखें। इसी के साथ ही ऐसे प्रोग्राम से भी बच्चों को दूर रखें जो उन्हें इमोशनल करें।

5. उन पर दबाव ना बनाएं: आप बच्चों को किसी भी प्लान पर उतारने के लिए दबाव ना डालें। इसकी बजाए आप उन्हें शामिल होने के लिए प्रेरित करें। इसके अलावा आप उन्हें टीवी प्रोग्राम की एक लिस्ट बनाकर दें और उन्हें एक या दो प्रोग्राम चुनने को कहें जो बच्चा देखना चाहे।

6. रोल मॉडल बनें: आप इस बात का हमेशा ध्यान रखें कि आपको बच्चा वही करेगा जो आप उसके सामने करेंगे। इसलिए अगर आप अपने बच्चे के टीवी टाइम को मैनेज करना चाहते हैं तो सबसे पहले आपको खुद का टाइम मैनेज करना होगा। आप अपने बच्चे को अहसास कराएं कि आप भी कुछ बहुत कम टीवी देखते हैं।

7. अपने निर्णय पर डटे रहें: आप जो भी कर रहे हैं उनपर हमेशा डटे रहें। टीवी देखेने के लिए अपने शेड्यूल का उल्लंघन ना होने दें।