प्रेग्नेन्सी में इन 7 फायदों के लिए खायें आंवला

lead image

एक आंवला या तीन चम्मच आंवला का रस किसी भी प्रेग्नेंट महिला के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है

Indian gooseberry के नाम से मशहूर आंवला कई फायदों के लिए जाना जाता है। पाचौली स्पा एंड वेलनेस सेंटर की न्यूट्रिनिस्ट प्रीति सेठ का कहना है कि इस फायदेमंद फल में एंटी ऑक्सिडेंट, विटामिन सी, कई न्यूट्रिएंट्स और माइक्रो न्यूट्रिएंट्स पाए जाते हैं। इसके कई औषधीय गुण भी है इसलिए गर्भावस्था में इसे खासकर खाने के लिए कहा जाता है।

एक आंवला या तीन चम्मच आंवला का रस किसी भी प्रेग्नेंट महिला के लिए काफी फायदेमंद माना जाता है। सबसे खास बात आंवला की है कि अगर ये सूख जाए या पाउडर भी बना दिया जाए तो भी उसके फायदे उतने ही होते हैं। प्रीति सेठ का कहना है कि अगर प्रेग्नेंसी में किसी तरह की परेशानी हो तो खासकर ये काफी काफी  अच्छा होता है।

 
1. मूड स्विंग को कंट्रोल करता है

मूड का बार बार बदलना प्रेग्नेंसी में आम बात है। हार्मोन्स में बदलाव के कारण आप अपने भावनाओं पर नियंत्रण नहीं रख सकती हैं।हो सकता है एक पप्पी का वीडियो देखकर आप रो दें और दूध उबलकर गिर जाए तो आपको गुस्सा आ जाए। आंवला मूड स्विंग को कंट्रोल करता है और साथ ही दिमाग और शरीर को भी शांत रखता है। आपको घबराहट या बेचैनी भी नहीं होगी

2.पाचन सही रहता है

कब्ज प्रेग्नेंसी में आम बात है।आंवला में फाइबर अधिक मात्रा में होते हैं इसलिए पाचन तंत्र भी सही रहता है और खाना काफी आसानी से पच जाता है। आपकी कब्ज की शिकायत भी दूर हो जाएगी।

3. एंटी डायबिटिक है

प्रेग्नेंसी के दौरान कई तरह के डायबीटिज हो जाते हैं जिसमें Gestational डायबिटीज के होने का खतरा ज्यादा रहता है क्योंकि महिलाएं इंसुलिन लेती हैं जिसकी वजह से शरीर में जो बदलाव होता है और ये डायबिटीज उसी का नतीजा होता है। आंवला का एंटी डायबिटिक गुण इसे कंट्रोल करता है।

4. प्रीटर्म बेबी Risk को कम करता है

आंवला को रोज खाने से समय से पहले बेबी होने की संभावना ना के बराबर होती है और सर्वाइकल इंफेक्शन भी नहीं होता है। एक और अच्छी बात ये है कि प्रेग्नेंसी में आंवला खाने से बेबी का दिमाग काफी तेज होता है। अब इसके बाद तो आपको जरुर आंवला खाना शुरू करना चाहिए।

5. एसिडिटी से भी राहत मिलेगी 

हार्मोन में बदलाव के कारण एसिडिटी और सीने में जलन भी प्रेग्नेंसी में काफी आम बात है। हालांक इससे नुकसान नहीं होता लेकिन इससे आपको परेशानी जरुर होती है इसलिए आंवला के सेवन से आपको एसिडिटी से भी राहत मिलेगी।

6. हेमोग्लोबिन लेवल अच्छा रहता है

आंवला में आयरन भरपूर मात्रा में होती है इसलिए इसे खाने से एनिमिया होने का खतरा ना के बराबर होता है। विटामिन सी के कराण हेमोग्लोबिन लेवल भी अच्छा बना रहता है। आंवला के कारण पाचन तंत्र भी सही काम करता है और अनपच, एसिडिटी, गैस की समस्या से भी आप दूर रहेंगी।
 
7. Urine इंफेक्शन से भी बचाता है

प्रीति सेठ की माने तो आंवला में विटामिन सी होने के कारण ये प्रेग्नेंसी में होने वाले इंफेक्शन से भी बचाता है। प्रेग्नेंट महिलाओं को Urine इंफेक्शन होने की संभावना अधिक होती है इसलिए आंवला के सेवन से इससे बचा जा सकता है। 

इस आर्टिकल के बारे में अपने सुझाव और विचार कॉमेंट बॉक्स में ज़रूर शेयर करें | 

Source: theindusparent

Image courtesy: [YouTube]