प्रेग्नेंसी में होती है मॉर्निंग सिकनेस...इस तरह से पाएं छुटकारा...बेहद आसान TIPS

lead image

शरीर में कमज़ोरी आना, उल्टी आना, सिर चकराना इन सभी दिक्कतों को मॉर्निंग सिकनेस का नाम दिया गया है।हर गर्भवती महिला गर्भावस्था के शुरआती तीन महीनों तक ऐसा महसूस करती है।

जैसे ही एक महिला गर्भधारण करती है तो शुरुआती कुछ महीनों में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ता है।

 शरीर में होने वालेहार्मोनल परिवर्तन से मितली होना, उल्टी आना, मूड स्विंग होने जैसीतकलीफों से हर गर्भवती महिला को गुज़रना पड़ता है।

यह सब सबसे ज्यादा प्रेग्नेंसी के शुरुआती तीन महीनों तक होता है। महिला को सुबह उठने में काफी परेशानी होती है। शरीर में कमज़ोरी आना, उल्टी आना, सिर चकराना इन सभी दिक्कतों को मॉर्निंग सिकनेस का नाम दिया गया है। हर गर्भवती महिला गर्भावस्था के शुरआती तीन महीनों तक ऐसा महसूस करती है।

फिर चौथे महीने से धीरे धीरे यह तकलीफें कम होने लगती हैं। लेकिन अगर यह ठीक ना हों तो इस पर लापरवाही कतई ना बरतें वरना मां और बच्चे दोनों की ही सेहत हर काफी खराब असर पड़ता है। हालांकि मॉर्निंग सिकनेस ज्यादा गंभीर बीमारी नहीं है लेकिन इसपर समय रहते ध्यान ना दिया जाए तो घातक साबित हो सकता है।

अगर मॉर्निंग सिकनेस ज्यादा समय के  लिए बनी रहे तो इस कारण गर्भवती का लगातार वज़न कम होता चला जाएगा जिस कारण मां और बच्चे दोनों पर असर पड़ेगा। ऐसे में कोख में पल रहे बच्चे को ठीक से पोषण नहीं मिलेगा। ऐसे में प्रीमैच्योर डिलिवरी होने का भी खतरा बढ़ जाता है।

तो आज हम आपको बताएंगे कि प्रेग्नेंसी के दौरान होने वाली मॉर्निंग सिकनेस से आप कैसे छुटकारा पा सकती हैं...पढ़िए...

अदरक का इस्तेमाल

मॉर्निंग सिकनेस से बचने के लिए आप अदरक का इस्तेमाल कर सकती हैं। अदरक वाली चाय आप पी सकती हैं। या फिर अदरक के टुकड़े को आप दिन में तीन या चार बार चबाएं। अदरक ज़ायका ठीक करने का काम करती है।

खाली पेट ना रहें

carrot 1085063 960 720 प्रेग्नेंसी में होती है मॉर्निंग सिकनेस...इस तरह से पाएं छुटकारा...बेहद आसान TIPS

आप जब सुबह उठें तो थोड़ा चलने फिरने की कोशिश करें। इससे आपको अच्छा महसूस होगा। इसी के साथ आप खाली पेट ना रहें, उठने के बाद  कुछ ना कुछ ज़रूर खाएं। कुछ ना कुछ खाती रहें।

नींबू का प्रयोग

नींबू भी मॉर्निंग सिकनेस दूर करने में काफी मदद करता है। अगर आपको उल्टी जैसा महसूस हो रहा है तो आप हर घंटे कुछ कुछ देर के लिए नींबू को सूंघे, इससे आपको अच्छा महसूस होगा।

कार्बोहाइड्रेट

आप दिन में थोड़ी थोड़ी देर में खासतौर पर ज्यादा कार्बोहाइड्रेट वाला भोजन करें। इससे गर्भावस्था के दौरान होने वाली मॉर्निंगस सिकनेस में कमी आएगी।

सूप पिएं

hot soup 1325163 प्रेग्नेंसी में होती है मॉर्निंग सिकनेस...इस तरह से पाएं छुटकारा...बेहद आसान TIPS

सूप पीने से भी आप मॉर्निंग सिकनेस से आराम पा सकती हैं। आप रोज़ाना सूप पिएं। आप ताज़ा सब्ज़ियों का सूप घर में बनवाकर पिएंगी तो आपको आराम महसूस होगा।

तला हुआ खाने से बचें

तला हुआ खाने से मितली ज्यादा होगी। इसलिए आप तला हुआ खाना खाने से खुद को बचाएं। इसके अलावा आप कैल्शियम, विटामिन बी और प्रोटीन युक्त आहार लें जिससे आपको मॉर्निंग सिकनेस से निजात मिलेगी।

एपल सिडर विनेगर और शहद

आप एपल सिडर विनेगर को शहद में मिलाकर खाएं इससे आपको होने वाली मॉर्निगं सिकनेस से आराम मिलेगा।

डॉक्टर की लें सलाह

और अगर आपको इसके लक्षण ज्यादा गंभीर लगे तो अपने डॉक्टर से परामर्श ज़रूर लें। अपनी मर्ज़ी से कभी कोई दवाई लेने की कोशिश ना करें, इससे आपकी और बच्चे की सेहत पर बुरा असर पड़ सकता है।