प्रेग्नेंसी में कब से लेना शुरु करें फोलिक एसिड...जानिए DETAILS

इस लेख में आगे जाने कि प्रेग्नेंसी में कब से फोलिक एसिड लेना शुरु करें।

अगर आप किसी भी प्रेग्नेंट रह चुकी महिला से किसी एक सप्लिमेंट के बारे में पूछेंगे तो वो आपको बताएंगी कि डॉक्टर ने उन्हें फोलिक एसिड लेने को कहा था।

क्या है फोलिक एसिड?

फोलिक एसिड एक तरह का विटामिन होता है, इसमें विटामिन B9 मुख्य रूप से होता है। ये न्यूक्लिक एसिड बनाने में मदद करता है और इससे आगे जाकर जेनेटिक मेटेरियल बनता है जो बच्चों के लिए जरुरी होता है।

प्रेग्नेंसी के दौरान दिन में किस समय फोलिक एसिड लेना है बेस्ट?

फोलिक एसिड खाने के साथ लेना ज्यादा अच्छा होता है क्योंकि विटामिन शरीर में खाने के साथ ज्यादा आसानी से अवशोषित होता है ना कि खाने के बीच अंतराल में लेने से।

अगर संभव हो तो सुबह में नाश्ते के फोलिक एसिड लें ताकि आप दिन में ना भूलें।

क्या करता है फोलिक एसिड ?

फोलिक एसिड से लाल रक्त कोशिका अधिक बनती हैं जिसकी वजह से बेबी का मस्तिष्क हेल्दी रहता है। इससे बच्चों की बधिर होने की संभावना कम होती है। साथ ही इससे मस्तिष्क और रीढ़ की हड्डी में न्यूट्रल ट्यूब विकसित होता है।

 

फोलिक एसिड आपके बेबी को इस तरह से सुरक्षित करता है:

  • जन्म के समय कम वजन
  • क्लेफ्ट लिप
  • जन्म दोष
  • जन्म के समय कम विकसित
  • समय के पहले डिलिवरी
  • गर्भपात

 

आपकी कैसे मदद करता है फोलिक एसिड

  • प्रेग्नेंसी में समस्या
  • समय से पहले डिलिवरी
  • दिल में समस्या
  • अल्जाइमर रोग
  • दिल की समस्या
  • आघात
  • कुछ तरह के कैंसर के होने का खतरा

कब लेना चाहिए फोलिक एसिड?

ज्यादातर महिलाओं को फोलिक एसिड सप्लिमेंट महिला रोग विशेषज्ञ से मिलने के बाद ही लेना चाहिए। हालांकि अगर आप गर्भधारण करने की कोशिश कर रही हैं तो आप अपने डॉक्टर से बात करें कि कब से आपको सप्लिमेंट लेना शुरु करना चाहिए।

मेडिकल रिपोर्ट्स के अनुसार कोई भी महिला अगर बेबी प्लान कर रही हैं तो पहले ये सुनिश्चित कर लें कि आप गर्भधारण करने के लिए स्वस्थ हैं या नहीं। क्योंकि एक बार अगर आप प्रेग्नेंट होती हैं तो आपके और बेबी दोनों का स्वस्थ रहना जरुरी है।

पहले 3 से 4 महीने हैं महत्वपूर्ण

ज्यादातर जन्मदोष गर्भ से ही शुरु होते हैं और वो भी पहले 3-4 सप्ताह के अंदर इसलिए ये जरुरी है कि आप सप्लिमेंट जब से गर्भधारण करने की प्लानिंग कर रहे हैं तभी से लेना शुरु कर दें।

गर्भपात या समय से पहले डिलीवरी की संभावना कम होती है

जो महिलाएं प्रेग्नेंट होने के एक साल पहले से फोलिक एसिड लेना शुरु करती हैं उन्हें समय से पहले डिलिवरी की संभावना कम से कम 50 प्रतिशत तक कम होती है।

 

फोलिक एसिड के प्राकृतिक स्त्रोत

 

  • पालक
  • मसूर की दाल
  • साइट्रेस फल जैसे संतरा और नींबू
  • चावल
  • बीन्स
  • चावल
  • शलजम की साग
  • सरसों की साग
  • ब्रोकली
  • पपीता
  • स्ट्रॉबेरी
  • हरा मटर
  • राजमा
  • भिंडी
  • एवोकैडो
  • बादाम
  • सूरजमुखी के बीज
  • सन की बीज
  • चुकंदर
  • गोभी
  • गाजर

 

 

कितनी मात्रा में लें फोलिक एसिड?

यहां हम साधारण तौर पर बताना चाहेंगे कि प्रेग्नेंसी के स्टेज के आधार पर कितनी मात्रा में फोलिक एसिड आपको लेनी चाहिए। हालांकि ये बहुत जरुरी है कि आप अपने डॉक्टर से बात करें और असल में कितना डोज लेना चाहिए।

  • अगर आप कंसीव करने की कोशिश कर रही हैं- 400 mcg
  • प्रेग्नेंसी की पहली तिमाही- 400 mcg
  • चौथे महीने से नौवें महीने तक प्रेग्नेंसी – 600 mcg
  • जब तक आप ब्रेस्टफीड करा रही हैं- 500 mcg

एक बार बेबी ब्रेस्टफीड छोड़ दे उसके बाद आप अपने डॉक्टर से बात कर सकती हैं और फोलिक एसिड लेना छोड़ सकती हैं।