प्रेग्नेंसी टेस्ट से जुड़ी कुछ बातें...जो आपको जाननी चाहिए

lead image

अगर आपको भी ऐसी ही परेशानी का सामना करना पड़ता है तो आज हम आपको स्त्री रोश विशेषज्ञ की मदद से प्रेग्नेंसी टेस्ट से जुड़े कछ मिथ को दूर करने में मदद करेंगे...आप भी पढ़िए....

एक महिला को जब इस बात का अंदेशा होने लगता है कि हो सकता है कि वो गर्भवती है तो सबसे पहले घर में प्रेग्नेंसी टेस्ट कर इस बात को वो सुनिश्चित करती है। आजकल बाज़ार में ऐसे बहुत से तरीके आ चुके हैं जिनकी मदद से आप घर बैठे प्रेग्नेंसी की जांच कर सकते हैं।

और हर महिला इन पर भरोसा भी करती है और ज़रूरत पड़ने पर इनका इस्तेमाल भी करती हैं। चूंकि ऐसे बहुत से टेस्ट बाज़ार में उपलब्ध हैं जिनमें से इस बात पर भरोसा करना थोड़ा कठिन हो जाता है कि इतने सारे ऑप्शन में से किस पर भरोसा किया जाए।

अगर आपको भी ऐसी ही परेशानी का सामना करना पड़ता है तो आज हम आपको स्त्री रोश विशेषज्ञ की मदद से प्रेग्नेंसी टेस्ट से जुड़े कछ मिथ को दूर करने में मदद करेंगे…आप भी पढ़िए….

यूरिन टेस्ट बेस्ट है

dreamstime s 58001054 प्रेग्नेंसी टेस्ट से जुड़ी कुछ बातें...जो आपको जाननी चाहिए

आप अगर घर पर प्रेग्नेंसी की जांच के लिए किसी डिजिटल प्रेग्नेंसी किट का इस्तेमाल करने जा रही हैं तो आपको बता दें कि इसमें साधारण प्रेग्नेंसी से ज्यादा अंतर नहीं देखने को मिलेगा।

गर्भधारण की जांच के लिए सबसे ज्यादा यूरियन टेस्ट पर ही भरोसा किया जाता है। यही पहला और आसान ज़रिया जिससे पता चलता है कि यूरिन में एचसीजी यानी ह्यूमन कोरियोनिक गेडाट्रॉपिन हार्मोन है या नहीं। इसी हार्मोन के बढ़ने-घटने पर ही प्रेग्नेंसी निर्भर करती है।

प्रेग्नेंसी के शुरुआती समय में एचसीजी लेवल कम रहता है लेकिन जैसे-जैसे समय बढ़ता जाता है, वैसे-वैसे इसका स्तर भी बढ़ जाता है। वहीं इसके अलावा इन दिनों क्वान्टिटेटिव प्रेगनेंसी टेस्ट भी किया जाता है, जिसमें एससीजी का पता लगाया जाता है। आपको बता दें  इस टेस्ट का सुझाव डॉक्टर्स उन्हीं को देते हैं जिन महिलाओं को मिसकैरेज का खतरा रहता है।

स्वास्थ्य व दवाएं भी करती है असर

आज के बढ़ती इनफर्टिलिटी के दौर में कुछ ऐसी दवाएं बाज़ार में उपलब्ध हैं जो फर्टिलिटी बढ़ाने में मदद करती हैं। अगर आपने भी इन दवाओं का इस्तेमाल किया है तो इसकी संभावना ज्यादा बढ़ जाती है कि घर पर किया गया प्रेग्नेंसी टेस्ट ठीक ना हुआ हो।

ऐसे में हो सकता है कि आप प्रेग्नेंट ना भी हो फिर भी आपका टेस्ट पॉज़िटिव आ रहा हो। यही नहीं इसके अलावा आप पियूष ग्रंथी में किसी तरह कि गड़बड़ी के चलते भी आपका प्रेग्नेंसी टेस्ट में गड़बड़ हो सकती है।

महंगे किट से रहें दूर

आप अगर घर पर प्रेग्नेंसी की जांच के लिए किसी डिजिटल प्रेग्नेंसी किट का इस्तेमाल करने जा रही हैं तो आपको बता दें कि इसमें साधारण प्रेग्नेंसी से ज्यादा अंतर नहीं देखने को मिलेगा। ज़रूरी नहीं है कि आप प्रेग्नेंसी टेस्ट के लिए महंगी ही किट का इस्तेमाल करें।

सुबह करें टेस्ट

अगर आपने प्रेग्नेंसी टेस्ट किट का इस्तेमाल किया है तो आपको पता होगा कि उसमें इसका इस्तेमाल सुबह के समय करने के लिए ही लिखा होता है। सुबह टेस्ट इसलिए करना चाहिए क्योंकि शरीर में एचसीजी सुबह सोकर उठने के कुछ घंटों बाद बनने लगता है।