प्रेग्नेंसी के दौरान हो रही हैं स्किन प्रॉब्लम..यूं पाएं छुटकारा

सभी समस्या शरीर में हार्मोनल बदलाव होने के कारण होती हैं। तो आज हम आपको बताएंगे कि इस दौरान होने वाली स्किन प्रॉब्लम से आप कैसे छुटकारा पा सकते हैं...

स्किन प्रॉब्लम्स आज के समय मे होने वाली आम समस्या हैं। आज के प्रदूषण भरे वातावरण और खानपान की वजह से बहुत सी त्वचा रोग होते हैं जिनसे आप और हम सभी गुज़रते रहते हैं। खासतौर पर सबसे ज्यादा जो समस्या होती है वो है मुहासों यानी कि पिंपल की।

वहीं बात की जाए प्रेग्नेंसी की तो इस दौरान महिलाओं में अनेक तरह के शारीरिक बदलाव होते हैं। इस कारण कभी बाल झड़ते हैं तो कभी आंखो के नीचे काले घेरे पड़ जाते हैं। किसी किसी महिला का प्रेग्नेंसी के दौरान चेहरा मुरझा सा जाता है। रौनक एकदम चली सी जाती है तो वहीं किसी किसी महिला का  गर्भावस्था के दौरान तेज और भी बढ़ जाता है। उनका चेहरा दमकने लगता है और खूबसूरती दिन ब दिन और भी बढ़ने लगती हैं।

लेकिन आज हम बात करेंगे उन गर्भवती महिलाओं के बारे में जिन्हें प्रेग्नेंसी के दौरान कई तरह की स्किन प्रॉब्लम्स होती हैं। आपको बता दें कि सभी समस्या शरीर में हार्मोनल बदलाव होने के कारण होती हैं। तो आज हम आपको बताएंगे कि इस दौरान होने वाली स्किन प्रॉब्लम से आप कैसे छुटकारा पा सकते हैं…

इसलिए होते हैं मुहासे

सबसे पहले तो यह जान लीजिए कि मुंहांसे क्यों होते हैं। चेहरे के रोम छिद्र में धूल जब इकट्ठी हो जाती है उसी से कील और मुहांसे होते हैं। कुछ महिलाओं को गर्भावस्था के शुरुआती दिनों में मुहांसे हो जाते हैं। तनाव के कारण आपके शरीर में तेल ग्रंथि ज्यादा तेल बनाने लगती हैं जिससे पीएच लेवल बिगड़ने लगता है। यही कारण है कि चेहरे पर मुहासे हो जाते हैं।

RyanMcGuire / Pixabay

साफ सफाई का रखें ख्याल

जैसा कि आप जानती ही होंगी कि हमारे चेहरे की स्किन हमारे शरीर के तुलना में अधिक तैलीय होती है तो ऐसे में सबसे ज्यादा आपको चेहरे की साफ-सफाई का ख्याल रखना होगा।

ज्यादा से ज्यादा पानी पिएं

इसके उपचार के लिए आप जितना ज्यादा हो सके उतना पानी पिएं। सबसे ज़रूरी बात यह कि कभी हाथों से मुंहांसों को छूएं नहीं और ना ही इन्हें दबाने की कोशिश करें। ऐसा करने से यह और भी बढ़ सकते हैं। इसके अलावा चेहरा लेक्टिक क्लीनर से साफ करें और टी ट्री ऑयल भी आप लगा सकते हें।

कम मीठा खाएं

मुहासे को रोकने के लिए जितना हो सके मीठा ना खाएं और अगर इसके बाद भी मुहांसे हो तो उसे छुएं या दबाएं नहीं। अपने चेहरे को लैक्टिक क्लीनर से साफ करें और टी ट्री ऑयल भी लगा सकती हैं। अपने चेहरे को हमेशा साफ रखें।

रूखी त्वचा के लिए

प्रेग्नेंसी के दौरान गर्भ में पल रहे बच्चे को हाइड्रेशन चाहिए होता है जो वो आपके ही शरीर से लेता है। इससे आपके शरीर में पानी की कमी हो सकती है जिस कारण आपकी त्वचा रूखी हो जाएगी। इसके लिए पानी पीना तो ज़रूरी है ही उसी के साथ आप लैक्टिक युक्ति क्लिंज़र से अपने चेहरे को साफ रखें जिससे आपके चेहरे पर नमी बनी रहेगी।

झाइयां दूर करने के लिए

जब आपके शरीर में हार्मोन बदलने लगते हैं तो इसी के साथ मेलेनिन भी बढ़ने लगता हैं। इससे आपके गर्दन और हाथों पर कालापन आता है। इसके लिए आप कोशिश करें कि धूप में कम से कम निकलें। या जब भी धूप में जाएं तो अच्छे से एसपीएफ लगा कर जाएं।