प्रेग्नेंसी के दौरान क्यों आती है पैरों में सूजन..जानिए कारण और इसके उपचार

अधिकतर महिलाओं को प्रेग्नेंसी में पैरों की सूजन की समस्या से जूझते पाया गया है। ये समस्या अगर लगातार बनी रहे तो उन्हें चलने फिरने में भी काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है।  

हर महिला के लिए सबसे बड़ा सपना होता है मां बनने का। और जब वो महिला प्रेग्नेंट होती है तो उसे ऐसे तमाम अनुभवों से गुज़रना पड़ता है जिन्हें सिर्फ वो महिला समझ सकती है  जो इस अनुभव से गुज़र चुकी है। बात की जाए गर्भावस्था में आने वाले शारीरिक बदलावों की तो इस दौरान गर्भवती को नए नए बदलावों से दो चार होना पड़ता है।

प्रेग्नेंसी में महिला को मूड स्विंग के साथ साथ सबसे ज्यादा जो समस्या होती है वो है पैर में सूजन आना। अधिकतर महिलाओं को प्रेग्नेंसी में पैरों की सूजन की समस्या से जूझते पाया गया है। ये समस्या अगर लगातार बनी रहे तो उन्हें चलने फिरने में भी काफी परेशानी का सामना करना पड़ता है।  

तो अगर आप गर्भवती हैं और आपको भी पैरों में सूजन की समस्या से गुजरना पड़ता है तो पहले आप ये जान लीजिए कि आखिर ऐसा होता क्यों है। इसके बाद हम आपको इससे बचने के उपाय बताएंगे...

आइए जानते हैं कि गर्भावस्था के दौरान पैरों मे सूजन क्यों आती है..

  • दरअसल पैरों में सूजन आने का सबसे पहला और बड़ा कारण है शरीर में पानी की कमी होना।
  • इसके अलावा पैरों में सूजन आने का दूसरा कारण है एक ही पॉज़िशन में बैठे रहना। अगर आप एक ही पॉज़िशन में बैठी रहती हैं तो आपको पैरों में सूजन की समस्या हो सकती है।
  • इसके अलावा हार्मोनल असंतुलन के कारण भी आपको पैरों में सूजन आती है।

जानिए प्रेग्नेंसी के दौरान पैरों में सूजन से बचने के उपाय

  • जैसा कि हमने आपको बताया कि इसका सबसे पहला और बड़ा कारण होता है पानी की कमी। तो इसके लिए आपको सबसे ज्यादा इस पर ध्यान देना चाहिए कि आप पानी कितना पी रही हैं। आप दिन में 10 ग्लास पानी ज़रूर पिएं। पानी पीने से आपको बार बार यूरिन जाना पड़ेगा जिससे शरीर में बने विशैले तत्व सारे बाहर आ जाएंगे और सूजन दूर हो जाएगी।
  • इसके अलावा आप पैरों की सूजन से निजात पाने के लिए नमक का इस्तेमाल भी कर सकती हैं। इसके लिए आप गुनगुने पानी में एक चम्मच नमक डालें और अपने पैरों को इस पानी में डालें। इससे सूजन कम होगी। आप इस प्रक्रिया को 10 से 15 मिनट तक कर सकती हैं।
  • आप सैर भी कर सकती हैं। सैर करना सेहत के लिए काफी फायदेमंद रहता है और इससे पैरों की सूजन भी कम होती है।
  • आप पैरों की नियमित रूप से तेल से मालिश करें। इससे आपके पैरों की सूजन दूर होगी और अगर आप शुरुआत से ही पैरों की मालिश करती हैं तो आपको सूजन की समस्या होगी ही नहीं।
  • इसके अलावा आप दूध ज़रूर पिएं। दूध पीने से आपके शरीर को एनर्जी मिलेगी और पैरों की सूजन से भी काफी राहत मिल सकेगी।

तो हम उम्मीद करते हैं कि अगर आपको भी गर्भावस्था के दौरान पैरों में सूजन की तकलीफ है तो यह टिप्स आपके काफी काम आएंगे। या अगर इस समस्या से आपकी जानकारी में कोई और भी परेशान हैं तो यह जानकारी उन तक भी शेयर करें।