7 mistakes जिनसे पुरुष अपने sperms को खुद ही बर्बाद कर देते हैं !

lead image

ये हैं वो 7 काम जिन पर पुरुषों का ध्यान भले ही न जाता हो लेकिन इनके कारण वो अपना स्पर्म बर्बाद कर लेते हैं

स्पर्म

कई बार पुरुष स्पर्म की मात्रा के बारे में इतना सोचते हैं की वो उसकी क्वालिटी पर ध्यान देना भूल जाते हैं । और ये क्वालिटी उनकि फर्टिलिटी पर कैसे असर डालती है इस बात को भी समझ नहीं पाते।

 

ये हैं वो 7 काम जिन पर पुरुषों का ध्यान भले ही न जाता हो लेकिन इनके कारण वो अपना स्पर्म बर्बाद कर लेते हैं।


स्पर्म

प्लास्टिक का इस्तेमाल बंद करें

प्लास्टिक में मौजूद बिस्फेनोल के कई अध्ययनों के मुताबिक़, ये पुरुषों में बच्चे को जन्म देने की प्रक्रिया में रोल को कमजोर बना देता है । ये एंडोक्राइन डिसरप्टर की तरह काम करते हैं ।

laptopwifi

 

अपने वाई-फाई कनेक्शन से सावधान रहे

आपको शायद पहले किसी ने बताया हो कि कभी भी लैपटॉप को अपनी गोद में न रखें क्योंकि इससे स्पर्म की संख्या कम होती है । लेकिन क्या आपको पता है की कंप्यूटर की वाई- फाई भी आपके फर्टिलिटी पर असर डाल सकती है। लैपटॉप से आने वाली रेडिएशन डीएनए तक को प्रभावित कर सकती है ।

smoking

धूम्रपान करना छोड दें

धूम्रपान करने से प्राइवेट पार्ट में खून का बहाव कम हो जाता है। जिससे इरेक्शन में भी समस्या आ सकती है और स्पर्म काउंट भी कम होने की संभावना बढ़ जाती है ।

lowspermcount

 

टेस्टिकल को ठंडा रखें

टेस्टिकल बाकी शरीर के मुकाबले करीब 4 डिग्री ठन्डे होते हैं और एक सीमा से ज्यादा गर्मी बढ़ जाने से स्पर्म काउंट पर असर पड़ता है । काले कपडे ज्यादा गर्मी खींचते हैं इसीलिए अंडरवियर के रंग ध्यान से चुनने चाहिए और ये ज्यादा टाइट भी नहीं होने चाहिए ।

alcohol

शराब न पियें

शराब पिने से स्पर्म काउंट के साथ-साथ उनकी क्वालिटी पर भी फर्क पड़ता है । ज्यादा शराब पिने से लीवर के काम करने में परेशानी आ सकती है, एस्ट्रोजन की मात्रा भी बढ़ सकती है I जिससे स्पर्म काउंट में कमी आती है । इसके अलावा शराब टोक्सिन होता है जिससे स्पर्म बनाने वाले सेल को नुकसान होता है और नतीजतन स्पर्म काउंट कम होने के साथ-साथ उनकी क्वालिटी भी कम होती जाती है ।

phone

मोबाइल फ़ोन को सामने वाली पॉकेट में रखने से बचें

एक नयी स्टडी के मुताबिक सेल फ़ोन को अपने पॉकेट में रखने से स्पर्म की गतिशीलता के साथ-साथ उनकी उम्र भी कम हो जाती है । ऐसा इसीलिए होता है क्योंकि जब फ़ोन को आप पॉकेट में रखते हैं तब उसमें से इलेक्ट्रो मैग्नेटिक रेडिएशन निकलती है जो सीधे आपके टेस्टिकल के सीधे संपर्क में आकर स्पर्म काउंट कम कर देता है । इसके अलावा फ़ोन में वाइब्रेशन होने से या कॉल आने से स्पर्म काउंट 9 फीसदी तक कम हो सकता है ।

stress

ज्यादा चिंता करना भी खतरनाक है

जब आप टेंशन लेते हैं या चिंता करते हैं तब आपका शरीर कोर्टिसोल स्ट्रेस हॉर्मोन बनाना शुरू कर देता है, जो बेसिक सेक्स हॉर्मोन की मात्रा को कम कर देता है । इस वजह से स्पर्म काउंट में कमी आती है और सेक्सुअल एक्टिविटी में भी इसका बहुत ज्यादा फर्क पड़ता है ।

sperm5

 

क्या आप ऐसी और किसी वजह के बारे में जानते हैं जिससे पुरुषों का स्पर्म काउंट काम हो जाता है ?

 

इस आर्टिकल के बारे में अपने सुझाव और विचार कॉमेंट बॉक्स में ज़रूर शेयर करें  

HindiIndusaparent.com  द्वारा ऐसी ही और जानकारी और अपडेट्स  के लिए  हमें  Facebook पर  Like करें