पापा की हाथ ना धोने की आदत ने लगभग ले ली थी बच्चे की जान

lead image

कभी कभी छोटी चीजें ना करने के भी बड़े अंजाम भुगतने पड़ते हैं

कभी कभी हम रोजमर्रा की जिंदगी में भी कई छोटी छोटी चीजें करना भूल जाते हैं। कचरा फेंकना भूल जाना, कभी कभी पूरी नींद नहीं लेना लेकिन कभी कभी छोटी चीजें ना करने के भी बड़े अंजाम भुगतने पड़ते हैं जैसे आपका घर पर कीटों का हमला हो जाता है जो स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है। 

कभी कभी हम रोजमर्रा की जिंदगी में भी कई सिंपल चीजें करना भूल जाते हैं। कचरा भूल जाना, कभी कभी पूरी नींद नहीं लेना लेकिन कभी कभी छोटी चीजें ना करने के भी बड़े अंजाम भुगतने पड़ते हैं जैसे आपका घर पर कीटों का हमला हो जाता है जो स्वास्थ्य के लिए हानिकारक है। अपने बच्चों को गोद लेने से पहले अपनी हाथों को ना धोना भी काफी काफी खतरनाक साबित हो सकता है। 

इस पिता ने लगभग अपने बच्चे को कई बीमारियों की वजह से लगभग खो दिया था। इसमें respiratory syncytial virus (RSV), एक ऐसा वायरस भी शामिल था जिसकी वजह से फेफड़ो और श्वासनली में संक्रमण हो जाता है। 

इसकी शुरूआत तब हुई जब बेबी को हॉस्पिटल में मेनजाइटिस की वजह से भर्ती किया गया लेकिन जल्दी ही हालत और खराब हो गई। 

 
src=http://ph.theasianparent.com/wp content/uploads/2016/02/story5 image.jpg पापा की हाथ ना धोने की आदत ने लगभग ले ली थी बच्चे की जान

"अब वो RSV से लड़ रही है। इस पिता ने अपने एक पोस्ट में लिखा है "मैं उसे पिछले सोमवार को लगभग खो चुका था। स्थानीय अस्पतालों में कहा गया कि पानी सर से ऊपर हो चुका है और वो अब कुछ नहीं कर सकते।" 
चूंकि हालत बेहद नाजुक थी इसलिए परिवार ने बेबी का ट्रांसफर दूसरे अस्पताल में किया। इसके बाद डॉक्टर बेबी को ठीक करने की पूरी कोशिश की और वेंटिलेटर पर रखा।

बाद में कई बिमारियों से ग्रसित इस बच्ची का RSV, निमोनिया, ब्रोनक्वाइलिटिस और दायें फेफड़े में बीमारी का इलाज चला। 
उस बच्ची के पिता ने कहा कि "कहने की जरूरत नहीं है कि ये सप्ताह मेरी बच्ची के लिए काफी बुरा रहा..उसने कई बाधाओं और परेशानियों को पार किया और वाकई मैं गर्व से कहता हूं कि वो मेरी बेटी है।"

उन्होंने आगे कहा कि "RSV कोई मजाक नहीं है। एक सप्ताह पहले तक मुझे इसके बारे में कुछ भी पता नहीं था जब तक कि खुद मेरी भी इसकी चपेट में नहीं आई थी। प्लीज आप लोग अपने बच्चों को गोद में लेने से पहले या उनके पास जाने से पहले हाथ धो लें।" 
टेक्सास बेस्ड पेडिट्रिशिन अरी ब्राउन ने भी आगाह करते हुए कहा कि "ये वाकई काफी खतरनाक वायरस है जैसे जितना बुरे से बुरे तरीके से आप सर्दी की चपेट में आ जाएं। हालांकि 97 प्रतिशत बच्चे इससे उबर जाते हैं।"

समय से पहले जन्मे बच्चे अगर इसकी चपेट में आएं तो हालत और भी खराब हो सकती है और ऑक्सीजन सपोर्ट की जरूरत पड़ सकती है। 
RSV हमेशा संक्रमित व्यक्ति के कफ और छींक से हो सकता है। इसलिए अगर घर के आसपास संक्रमण का खतरा होने पर स्वास्थ्य के लिए बड़ा खतरा हो सकता है।

महज सही समय पर हाथ धोने से आप कई बीमारियों से खुद को बचा सकते हैं।

अगर आपके पास कोई सवाल या रेसिपी है तो कमेंट सेक्शन में जरूर शेयर करें।

Source: theindusparent