दिव्यांका त्रिपाठी के तीन गुण जो हर भारतीय बहु में पाये जाते है

ऐसा लगता है जैसे दिव्यांका त्रिपाठी को ये है मोहब्बतें में इशिता का किरदार निभाने के लिए किसी तरह की मेहनत नहीं करनी पड़ती है।

ये है मोहब्बतें की लीड एक्ट्रेस दिव्यांका त्रिपाठी की घर घर में अपनी पहचान हैं। उनका टैलेंट और खूबसूरती दोनों की वजह से उनकी छवि हर घर में आदर्श बहु के रुप में बन चुकी है। उन्हें काफी पसंद भी किया जाता है।

कई सेलिब्रिटी अपने ऑन स्क्रीन कैरेक्टर की तरह असल जिंदगी में भी नहीं होते हैं। ऐसा लगता है जैसे दिव्यांका त्रिपाठी को ये है मोहब्बतें में इशिता का किरदार निभाने के लिए किसी तरह की मेहनत नहीं करनी पड़ती है।

इसका कारण ये है कि वो अपने रील लाइफ कैरेक्टर की तरह ही काफी सिंपल हैं। दिव्यांका त्रिपाठी एक बेहतरीन पत्नी हैं। उन्होंने टीवी एक्टर विवेक दाहिया से पिछले साल जुलाई में शादी की और ये कपल वाकई रिलेशनशिप गोल हमें देते हैं।

कई बार ऐसा समय आया जब दिव्यांका त्रिपाठी ने अपना संस्कारी रुप दिखाया है और ये एक ऐसा गुण है जो कई भारतीय बहुओं और पत्नी में होता है।

1. शादी और सक्सेसफुल करियर के साथ सामंजस्य

बाकी औरतों की तरह ही दिव्यांका त्रिपाठी भी मल्टी टास्किंग हैं। वो अपने शानदार करियर के साथ पर्सनल लाइफ को भी बेहतरीन तरीके से बैलेंस करती हैं। एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा था कि उन्हें पता है कि चीजों को और स्थिति को कैसे संभालना है ताकि शादी की वजह से करियर पर आंच ना आए।

दिव्यांका त्रिपाठी ने कहा था कि “मुझे नहीं लगता कि शादी से हमारी जिंदगी में किसी तरह का बदलाव आएगा। शादी से हमारा करियर प्रभावित नहीं होगा। वो समानता में विश्वास करता है और आज के जमाने का है”।

2. अपने पार्टनर के लिए ख़ड़ा होना

एक दूसरे पर विश्वास और और सहारा ही किसी भी सफलतम शादी का आधार होता है। आसा लगता है दिव्यांका और विवेक दोनों ही इस मूल मंत्र मे पूरा विश्वास रखते हैं जो किसी भी भारतीय कपल के साथ होता है।

 


हाल में ही एक फैन ने विवेक दाहिया की इंस्टाग्राम तस्वीर पर कुछ भद्दी बातें लिखीं जिसका दिव्यांका ने मुंह तोड़ जवाब दिया। उसने लिखा था कि “तुम्हारी स्थिति वाकई दयनीय है, सबको पता है कि तुमने दिव्यांका से शादी सिर्फ फेम के लिए की। तुमने कभी उससे प्यार किया ही नहीं। सिर्फ पहचान और पैसों के लिए तुमने दिव्यांका से शादी की। वो तुमसे बेहद प्यार करती है लेकिन तुम नहीं करते।“ इस पर दिव्यांका ने जवाब दिया था कि “तुम अपना मुंह बंद रखो बेहतर होगा। तुम तो हमें जानते भी नहीं। तुम्हारा इरादा सिर्फ अंटेशन पाने का है। ये मेरा और विवेक का फैसला होगा कि हम क्या करेंगे इससे किसी और का कोई वास्ता नहीं है। खासकर तुम जैसे मूर्ख लोगों का बिल्कुल भी नहीं। “

3.परंपरा से परहेज नहीं

दिल से बिल्कुल ट्रेडशिनल होने के कारण ऐसा लगता है कि वो अपनी हर परंपरा को पसंद करती है। चाहे वो तीज हो या करवा चौथ आधुनिक कामकाजी महिला होते हुए भी वो इसे करने से नहीं हिचकिचाती।

 

इसका एक कारण ये भी हो सकता है कि उन्हें अपने परिवार या ससुराल वालों से पूरा सर्पोट मिला हो और खासकर पति का साथ। एक इंटरव्यू में उन्होंने कहा भी था कि विवेक उन्हें पूरा करते हैं और वो कदम कदम पर उनका साथ देते हैं।

इस आर्टिकल के बारे में अपने सुझाव और विचार कॉमेंट बॉक्स में ज़रूर शेयर करें | 

Source: theindusparent