तैमूर को बाहर निकालने से नहीं कतरातीं मम्मी करीना.. ये हैं छोटे नवाब की पसंदीदा activity

lead image

क्यूट तैमूर एक बार फिर अपने घर की बालकनी में रंग बिरंगे झूले में नजर आए। ऐसा लग रहा है जैसे तैमूर को पता हो कि बिल्डिंग के बाहर सभी उनका ही नाम ले रहे हैं और तो और वो सीधे कैमरे को देखकर स्माइल भी दे रहे हैं।

तैमूर अली खान के गोल मटोल लुक को देखकर कोई भी उनकी तारीफ किए बिना नहीं रह पाता। तैमूर वाकई सबके फेवरिट स्टार किड बन चुके हैं। 6 महीने के बेबी तैमूर की अपनी फैन फॉलोइंग है जो उनके बारे में बहुत कुछ जानना चाहती है।

ये सच है कि उनके पैरेंट्स स्टार्स है और हमेशा मीडिया से घिरे रहते हैं, लेकिन तैमूर की सुरक्षा का पूरा ख्याल रखा जाता है। उनका पब्लिक अपीयपरेंस भी अक्सर उनकी मम्मी के साथ ही होता है।

पहले करीना और सैफ दोनों ही तैमूर को लेकर काफी रक्षात्मक रवैया अपनाते थे लेकिन ऐसा लगता है कि अब वो अपने बेबी की तस्वीरों के लेकर सहज हैं।

तुषार कपूर के बेटे लक्ष्य के जन्मदिन पर पता चल गया था कि करीना कपूर को तैमूर के पब्लिक अपीयरेंस से समस्या नहीं है।अब करीना तैमूर के फेवरिट एक्टिविटी से भी परहेज नहीं करतीं चाहे वो लोगों की नजरों के सामने क्यों ना हो।

अपनी पसंदीदा गतिविधि से तनाव मुक्त रहते हैं तैमूर

सैफ और करीना ने तैमूर को फैन्स को तब ट्रीट दे दिया जब तैमूर को लोगों ने अपनी सबसे पसंदीदा एक्टिविटी में व्यस्त देखा वो भी पूरी तन्मयता के साथ।

 

A post shared by Voompla (@voompla) on

क्यूट तैमूर एक बार फिर अपने घर की बालकनी में रंग बिरंगे झूले में नजर आए। ऐसा लग रहा है जैसे तैमूर को पता हो कि बिल्डिंग के बाहर सभी उनका ही नाम ले रहे हैं और तो और वो सीधे कैमरे को देखकर स्माइल भी दे रहे हैं।

इस तस्वीर को देखकर तो यही लगता है कि तैमूर को झूले पर समय बिताना बहुत पसंद है। वो इस दौरान सबसे विश्वसनीय नैनी और करीना-सैफ के स्टाफ के साथ देखे गए। तैमूर बिल्कुल सुरक्षित लोगों के बीच थे।

तैमूर बिना किसी भी एक पैरेंट के नहीं रहते

दिलचस्प बात ये है कि भले तैमूर को देखकर आपको ये लगता हो कि वो हमेशा सिर्फ अपनी नैनी के साथ रहते हैं तो आप गलत सोच रहे हैं। करीना ने खुद कहा था कि तैमूर बिना किसी एक पैरेंट के कभी नहीं रहते।

 

A post shared by DNA After Hrs (@dnaafterhrs) on

करीना ने हाल मे ही कहा था कि जब मैं यहां चैट के लिए आई हूं तो सैफ ने अपनी मीटिंग आगे कर दी है ताकि वो तैमूर के साथ रहें और मैं यहां आ सकूं। वो कभी भी अपने किसी एक पैरेंट के बिना नहीं रहता। उन्होंने साथ ही ये भी कहा कि मैं किसी तरह उदाहरण नहीं सेट कर रही हूं। मैं सिर्फ अपनी जिंदगी जी रही हूं और मैं खुश रहना चाहती हूं। मैं चाहती हूं कि वो जाने कि हम एक्टर हैं और हम ऐसे ही हैं। मैं आशा करती हूं कि लोग इसे सराहेंगे।

हमें यकीन है कि नए माता-पिता हमेशा तैमूर की फोटो खिंचवाने के लिए उत्सुक नहीं होते हैं, लेकिन यह बात तैमूर को अपनी पसंदीदा गतिविधि को इंज्वॉय करने से रोक नहीं सकता है।

तैमूर के क्यूट से झूले को देखकर तो यही लगता है कि ये नए पैरेंट्स तैमूर को बेस्ट सुविधाएं दे रहे हैं, खासकर बात जब तैमूर के खिलौने और नर्सरी की आती है।

अगर आप भी अपने बेबी के लिए रूंम को सजा रहे हैं तो यहां कुछ और भी चीजें हैं जो आप शायद उनके कमरे में लगाना चाहें।

 

A post shared by Artistan Magazine (@artistanmag) on

बेबी के नर्सरी के लिए ध्यान में रखें ये पांच बातें

  • वॉलपेपर: बच्चों के साथ रंगो को लेकर प्रयोग करने से बिल्कुल भी ना कतराएं। इसका अर्थ ये नहीं कि आप नीयॉन से सजा दें बल्कि चमकीले रंगो का उपयोग करें। आप चाहें तो साथ ही गैरमामूली रंगो को भी रखें जैसे हरा, कॉफी, पानी का हरा रंग या नारंगी। अगर आप पेस्टल शेड पसंद करते हैं तो इसका भी इस्तेमाल करें।
  • बड़े आकार का पालना: जैसा कि बेबो औऱ सैफ ने अपने बेबी के नर्सरी में किया है, आप भी एक ऐसा पालना ले सकती हैं जो बेबी के बड़े होने पर खुलकर बिस्तर के रूप में इस्तेमाल किया जा सके। अगर आप पुराने पालने का इस्तेमाल कर रहे हैं तो इस बात का ध्यान रखें कि ये पूरी तरह से सुरक्षित हो।
  • पालना का बिस्तर: एक बार आपने बेबी के लिए पालना ले लिया तो अच्छा बिस्तर लेने में कोई कोताही ना बरतें। सुनिश्चित कर लें कि ये सूती का हो और बच्चों की त्वचा के हिसाब से परफेक्ट हो। कोशिश करें कि ये बहुत साधारण हो और बेबी के साइज का ही हो ताकि वो आराम महसूस करे।
  • चेंजिंग टेबल: कई शहरी माता-पिता हैं जो अब जाकर चेंजिंग टेबल का महत्व समझे हैं। ये एक ऐसा फर्निचर है जो बाद में दूसरे कामों में भी इस्तेमाल किया जा सकता है।अगर आप कामकाजी महिला हैं तो ये आपका बेस्ट फ्रेंड बन जाएगा। अगर आपके पास बहुत अधिक जगह नहीं है तो आप इसका उपरी हिस्सा हटाकर बिस्तर के नीचे भी रख सकते हैं।
  • फीडिंग कुर्सी: कई नई मॉम अलग से फीडिंग कुर्सी के महत्व को नहीं समझ पाती हैं। यहां आप आराम से और सही तरीके से बैठकर बेबी को स्तनपान करा सकती हैं। चूंकि  स्तनपान के लिए सीधे बैठने की सलाह दी जाती है इसलिए कुर्सी आपके लिए सबसे सही है।
  • रखने के लिए जगह: सामान रखने के लिए खुले आलमारी की भी बेबी के होने के बाद आपको जरूरत पड़ेगी। आप उसमें बेबी के डायपर और कपड़े रख सकती हैं। आप इसमें बच्चों के खिलौने भी रख सकती हैं जिससे कमरा साफ सुथरा दिखेगा।

 

इस आर्टिकल के बारे में अपने सुझाव और विचार कॉमेंट बॉक्स में ज़रूर शेयर करें  

Hindi.indusparent.com द्वारा ऐसी ही और जानकारी और अपडेट्स के लिए  हमें  Facebook पर  Like करें