तीन देसी फूडस ...जो आपके बच्चे के लिए है बेस्ट

lead image

स्मार्ट मॉम को हमेशा देसी खानों के बारे में भी पता होना चाहिए। आप भी इस बात से जरूर इत्तेफ़ाक रखेंगी।

आज के समय में अच्छे खाने की लालसा में बहुत कम परिवार होते हैं जिनके लिए खाने के साथ पौष्टिकता भी मायने रखती है।

कई नई मॉम रिर्सच करती हैं कि बड़े हो रहे बच्चों को क्या खाने के लिए देना चाहिए। सबसे बेस्ट है जो प्रकृति आपको भोजन के रूप में देती है। वो भोजन जो खेत खलिहानों में उपजाए जाते हैं,ना कि रेडीमेड खाने जिनमें प्रीजरवेटिव की मात्रा अधिक होती है।

सबसे अधिक ताजे फल-सब्जियों की जगह तलाशें

माओं को अपने बच्चों को विटामिन और सभी पोषक तत्व से भरपूर खाना देने के लिए क्या करना चाहिए? अगर आप न्युट्रिनिस्ट की माने तो सबसे पहला कदम होना चाहिए कि ये देखना बंद कर दीजिए कि दुनिया क्या खा रही है। इसके बदले सबसे अच्छा और फ्रेश लोकल फूड चेन तलाशें जहां अच्छा खाना मिल रहा हो।

यहां हम आपको कुछ बहुत अच्छे बेबी सुपर फूड के बारे में बता रहे हैं जिसके बारे में हो सकता है आपने कई इंटरनेशनल मैगजीन में पढ़ा हो और कई महंगी सुपरमार्केट में देखा भी हो। लेकिन स्मार्ट मॉम को हमेशा देसी खानों के बारे में भी पता होना चाहिए। आप भी इस बात से जरूर इत्तेफ़ाक रखेंगी।

1. स्ट्रिंग चीज को करें बाय-बाय..

 
paneer 1 तीन देसी फूडस ...जो आपके बच्चे के लिए है बेस्ट

बच्चों को जब स्नैक्स देने की बारी आती है तो आप बस फ्रीज खोलें और एक पनीर का टुकड़ा निकालकर दें दे। लेकिन इसके पहले कि आप Halloumi, Grana Padna या Ricotta चीज की जगह देसी पनीर खाने दें जिनमें बाकी चीज से ज्यादा फायदे होते हैं।

कुछ चीज ऐसे भी होते हैं जो पाश्च्यराइज्ड दूध के नहीं बने हुए होते हैं। कुछ बच्चों में बड़े होने के साथ साथ कुछ खास प्रकार के चीज से एलर्जी भी होती है। आप बेबी को हल्का टोस्ट किए पनीर में एक चुटकी नमक और हल्दी के साथ भून कर दें, वो चटकारे लेकर खाएंगे।

2. Chard या Collard नहीं, हमारे लिए पालक बेस्ट है

spinach तीन देसी फूडस ...जो आपके बच्चे के लिए है बेस्ट

केल और स्विस chard भले सब कई जगहों पर नजर आते हैं। ये ज्यादातर यूरोप और उत्तर अमेरिका में पाए जाते हैं और ये पत्तेदार सब्जियां आराम से हर जगह मिल जाती है। लेकिन इन्हें छोड़ें और देसी पालक, बीन्स और शक्ककंद को खाने की आदत डालें।इन सब में पैक विटामिन से कहीं ज्यादा विटामिन A, C,E और K पाया जाता है। इसके अलावा फाइबर, कैल्शियम, ऑयरन और मैगनेशियम पाया जाता है।सही मौसम में आप खुद भी पालक उगा सकती हैं। इसके पत्ते अलग तोड़कर अलग कर लें। इसे लहसुन अदरक के पेस्ट के साथ फ्राई करें और बस आपका देसी साग तैयार है।

3. Edamame का क्रेज छोड़ें..बीन्स को अपनाएं

 
green peas तीन देसी फूडस ...जो आपके बच्चे के लिए है बेस्ट

ये एक नया फैशन है जिसे हर कोई इन दिनों अपना रहा है। Edamame जापान, कोरिया और चीन के खाने में शामिल है। ये एक तरह से अपरिपक्व सोयाबिन होते हैं जो स्नैक्स के तौर पर, रोस्ट करके, या उबाल कर भी खाते हैं।

कई भारतीय राशन बेचने वाले उसे वर्ल्ड भोजन सेक्शन में रखते हैं। इसे शरीर की रोग प्रतिरोधक क्षमता और कार्डियोवैस्कुलर हेल्थ के लिए भी जाना जाता है। लेकिन हम लोग इसकी जगह पर अपने बच्चों के लिए सोयाबीन का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

इसे मैगनीज, फोसफोरस और प्रोटीन का बहुत ही अच्छा स्त्रोत माना जाता है। सोयाबिन को सबसे हेल्दी फूड भी कहा जाता है। इसलिए बहुत ही महंगी Edamame के महंगे पैक को खरीदने के पहले सोयाबिन को अपनाएं।

इसलिए एक साथ थोक भाव में मटर खरीदना और फ्रीजिंग करना छोड़िए खासकर जब वो मटर खाने के लिए सबसे बेस्ट हो। आपके खाने के लिए हर कुछ उपलब्ध है। बस बेक , फ्राई कुछ भी करें और बच्चों को भी खिलाएं।

अगर आपके पास कोई सवाल या रेसिपी है तो कमेंट सेक्शन में जरूर शेयर करें।

Source: theindusparent