तीन गलतियां जो हर महिलाएं अंडरवियर के इस्तेमाल में करती हैं

जब बात आपके प्राइवेट प्रार्ट्स की हो तो महिलाएं या तो शर्माती हैं और इस मुद्दे पर बात करने से कतराती हैं और वही गलतियां करती रहती हैं जब तक कि इंफेक्शन ना हो जाए।

जब बात आपके प्राइवेट प्रार्ट्स की हो तो महिलाएं या तो शर्माती हैं और इस मुद्दे पर बात करने से कतराती हैं और वही गलतियां करती रहती हैं जब तक कि इंफेक्शन ना हो जाए। स्वास्थ्य विशेषज्ञों की माने तो जैसे हम अपने चेहरे या शरीर की देखभाल करते हैं और इसके लिए जरुरी चीजों का इस्तेमाल करते हैं वैसे हमारे प्राइवेट पार्ट को भी केयर की जरुरत होती है। ज्यादातर स्वास्थ्य संबंधित समस्याएं हमारी रोज की दिनचर्या की वजह से होती है जैसे जी-स्ट्रिंग के साथ योगा पैंट पहनना।

हमने स्वास्थ्य विशेषज्ञ, जिम जाने वालों से बात की, कि वैजाइनल एरिया में सबसे अधिक क्या समस्याएं होती हैं और इससे कैसे छुटकारा मिल सकता है।

अंडरवियर में की जाने वाली गलतियां

 

1. त्वचा को सांस लेने दें: इसके पहले कि आप किसी और निष्कर्ष पर पहुंचे आपको बता दें कि अपनी सारी आदतों को छोड़कर सोते समय पेंटी ना पहनने की आदत डालें।

हम लोगों में से कइयों के लिए पेंटी में सोना भी उतना ही आरामदायक लगता है जितना पायजामा में सोना लेकिन महिला रोग विशेषज्ञ मानते हैं कि इसे कुछ घंटों के लिए नजरअंदाज करें ताकि आपकी त्वचा सांस ले सके।   

लगातार कवर रहने से बैक्टिरिया बनने के लिए उपयुक्त अनुकूल परिस्थितियां बनती हैं। यह उन महिलाओं के लिए विशेष रूप से महत्वपूर्ण है जो आसानी से संक्रमण का शिकार हो जाती हैं।

इस बात को विज्ञान भी मान चुका है कि बैक्टेरिया गर्म और नमी वाले जगहों पर जल्दी होते हैं। सोने के दौरान काफी लंबा अंतराल होता है और इस समय डिस्चार्ज के कारण पेंटी में आसानी से कीटाणु हो सकते हैं जिससे संक्रमण की संभावना बढ़ती है।

इसलिए सुरक्षा के लिहाज से बॉक्सर या हवादार पजामा पहने हैं। अधिक टाइट पेंटी को शॉर्ट ड्रेस के लिए संभाल कर रखें।

2. पसीना चलने के बाद अंडरवियर ना बदलना:

नमी के दिनों में कई बार थोड़ी दूर चलने के बाद भी हम पाते हैं कि पूरी तरह पसीने में भीग गए हैं और आपको कपड़े बदलना पड़ता है क्योंकि कोई भी शरीर में चिपचिपा कपड़ा पसंद नहीं करता है लेकिन अक्सर महिलाएं कपड़े तो बदलती हैं लेकिन अंडरवियर नहीं बदलती हैं।

जब आपको पसीना चलता है तो वह एरिया पूरी तरह टाइट कपड़ों से चिपका रहता है और ज्यादातर पसीना अंदर रहता है। इसलिए ये गांठ बांध लें कि आप जब भी कपड़े बदलें तो अंडरवियर बदलना ना भूलें। 

ये नियम जब आप व्यायाम करते हैं तो भी अपनाएं ताकि आप पसीने से दूर रहें और अधिक देर तक डिस्चार्ज के साथ ना रहें।

3. सुगंधित डिटर्जेंट: क्या आपने कभी वेजाइना में सामान्य से थोड़ी अधिक खुजली महसूस की है? या वहाँ एक अजीब सा जलन है जिसका कारण आपको समझ नहीं आता? अगर ऐसा है जो अपने अंडरवियर को साफ करने के लिए उपयोग किए जा रहे डिटर्जेंट की जांच करें।

ज्यादातर समय अधिक सुगंध वाले वॉशिंग पाउडर की सुगंध कपड़े धोने के बाद भी रह जाती है और इसलिए pH बैलेंस योनिझेत्र में खुजली का कारण बन सकते हैं। इसलिए सबसे बेहतर होगा कि हाइपोएलरजैनिक वॉशिंग पाउडर का इस्तेमाल करें। एक और नियम बना लें कि सुगंधित क्रीम या जेल का भी वेजाइना के आसपास इस्तेमाल ना करें।

डॉक्टर्स का मानना है कि उस एरिया को ठंढे पानी से अच्छे से साफ करें और साफ लिनन कपड़े से पोछें। वहां भी किसी भी प्रकार का परफ्यूम लगाना या सुगंधित चीजों का लगाने से प्राकृतिक pH बैलेंस को बिगाड़ेंगे।

इसलिए खुद को अधिक फैंसी और सुगंधित वॉश खरीदने से बचें। सिर्फ सादे पानी का इस्तेमाल करें।