तस्वीरें..आराध्या ने कुछ इस तरह दी अपने दोदा को श्रद्धांजली..इमोशनल हो जाएंगे आप

अपने मम्मी पापा और दादू दादी के साथ आराध्या अपने नाना की तेरहवीं में पहुंची और उसकी श्रद्धांजली देते तेरहवीं की तस्वीरों को देखकर आप भी इमोशनल हो जाएंगे।

पिछले सप्ताह पूरा बच्चन परिवार ऐश्वर्या राय के पिता कृष्णाराज के चौथा में उन्हें श्रद्धांजली देने पहुंचा। चौथे पर प्रार्थना सभा ताज लैंड होटल, मुंबई में की गई थी जहां कई जाने माने चेहरे भी पहुंचे थे।

इतने लोगों के बीच में एक इंसान जिस पर निगाहें थीं वो 5 साल की आराध्या थीं। आराध्या का चेहरा बता रहा था कि वो अपने दोदा को मिस कर रही थी जिनसे वो बहुत प्यार करती थी।

अपनी मम्मी की तरह ही आराध्या भी बिल्कुल शांत थीं और पूरे समय मम्मी ऐश्वर्या के साथ थीं। कृष्णाराज राय की तेरहवीं पर आराध्या अपने दोदा को आखिरी बाद श्रद्धांजली देने पहुंचीं।

अपने मम्मी पापा और दादू दादी के साथ आराध्या अपने नाना की तेरहवीं में पहुंची और उसकी श्रद्धांजली देते तेरहवीं की तस्वीरों को देखकर आप भी इमोशनल हो जाएंगे।

आराध्या, ऐश्वर्या और अभिषेक ने दी श्रद्धांजली

ऐश्वर्या राय के पिता कृष्णा राज की मृत्यु 18 मार्च को हुई थी। वो लंबे अरसे से Lymphoma कैंसर से जूझ रहे थे। कई सप्ताह से वो लीलावती अस्पताल में थे आखिरकार शनिवार को दुनिया से अलविदा कह दिया ।

अंतिम संस्कार के समय भी ऐश्वर्या राय रोते दिखीं। तेरहवीं के दिन ऐश्वर्या राय और आराध्या पूरी तरह से ट्रेडिशनल अवतार में पहुंचीं। ऐसा लग रहा था कि वो अब धीरे धीरे संभलने की कोशिश कर रही हैं।

कई लोग बोल सकते हैं कि वो क्यों इतने अच्छे से तैयार थीं लेकिन हिंदुओं में माना जाता है बारहवें दिन के बाद गरीबों में भोग लगाना चाहिए और दिवंगत आत्मा की खूबसूरत जिंदगी को सेलिब्रेट करना चाहिए।

कृष्णाराज ने एक खूबसूरत जिंदगी जी ली थी और हिंदु मान्यता के अनुसार इसे सेलिब्रेट करने पूरा बच्चन परिवार पारंपरिक अंदाज में पहुंचा।

कृष्णाराज ने एक हेल्दी लाइफ को जिया लेकिन उनके आखिरी कुछ दिन काफी मुश्किलों भरे थे। लीलावती अस्पताल के चीफ एक्जक्यूटिव ऑफिसर वी शंकरन ने कहा कि वो Lymphoma से पीड़ित थे जो ब्रेन तक फैल गया था।

लेकिन वो लकी थे कि आखिरी समय तक उनके बेटी ऐश्वर्या और बेटे उनके साथ रहे।

तेरहवीं के दिन अमिताभ बच्चन और जया बच्चन आखिरी बार श्रद्धांजली देने पहुंचे। इसके पहले अमिताभ ने अपने समधी की मृत्यु पर एक नोट भी लिखा था। अमिताभ बच्चन ने लिखा था कि "मौत एक ऐसी कॉल है जो आती ही है... और जाने वाले की यादें हमारे दिमाग में छोड़ जाती है."

उन्होंने आगे लिखा, "जिंदगी के अंतिम सत्य और आखिरी मंजिल का अपना दुख है, इसके रीति रिवाज, परंपराएं, दुख की घड़ी में सांत्वना देने के लिए आने वाले लोग... अंतिम संस्कार...क्या कहें, क्या करें..." अपने ब्लॉग के अंत में अमिताभ ने लिखा, "इन सबमें सबसे सुखी जाने वाला ही होता है... शायद इसलिए कि वह स्वर्ग की बाहों में शांति की अनुभूति कर सकता है।" अमिताभ बच्चन का ब्लॉग वाकई काफी इमोशनल था।

आराध्या अपने दोदा की तस्वीर को निहारती रहीं

तेरहवीं के कार्यक्रम के दौरान आराध्या अपने दोदा की तस्वीर के पास गई और उसे छू कर निहारती रहीं। इस दौरान उनकी मम्मी ऐश्वर्या राय भी उनके साथ स्टेज तक गईं ताकि आराध्या अपने नाना जी को फूलों से श्रद्धांजली दे सके।

आराध्या को ऐसा करते देख मीडिया और वहां बैठे लोग इमोशनल होने से खुद को रोक नहीं पाए।

इस इमोशनल पल को देखकर लग रहा था कि सिर्फ ऐश्वर्या नहीं बल्कि आराध्या भी अपने नाना जी के काफी करीब थी।अभी पिछले महीने ही नन्हीं आराध्या ने उनके लिए स्पेशल सरप्रराइज प्लान किया था और इसके बाद वो पूरी फैमिली के साथ पिज्जा खाने गईं थीं क्योंकि वो वैलेंटाइन डे पर पूरे परिवार के साथ पिज्जा पार्टी करना चाहती थीं।

 

आराध्या हैं दुनिया की बेस्ट नातिन

कृष्णाराज की मृत्यु के बाद पूरे परिवार को संभलने में अभी और वक्त लगेगा लेकिन आराध्या का समझदार बच्ची तरह इसे हैंडल कर रही हैं।

इस दौरान आराध्या बेहद शांत और सुलझी हुई बच्ची की तरह नजर आईं और इसका पूरा क्रेडिट उनकी मम्मी ऐश्वर्या राय और पापा अभिषेक बच्चन जाता है। आराध्या ने अपने दोदा को अंतिम श्रद्धांजली दी और हम भी यही प्रार्थना करते हैं कि उनकी आत्मा को शांति मिले।

इस आर्टिकल के बारे में अपने सुझाव और विचार कॉमेंट बॉक्स में ज़रूर शेयर करें | 

Source: theindusparent