डिलिवरी के बाद पहली बार पॉटी जाना हो सकता है प्रसव पीड़ा से भी खतरनाक..6 कारण

डिलिवरी के बाद पहली बार पॉटी जाना हो सकता है प्रसव पीड़ा से भी खतरनाक..6 कारण

अगर आप माओं को लग रहा है कि प्रसव पीड़ा प्रेग्नेंसी का अंत है तो रुकिए..एक बार और सोचिए।

बच्चों को जन्म देने की 9 महीने की प्रक्रिया से गुजरने के दौरान माओं को पता होता है कि बेबी को इस दुनिया में लाने के दौरान उन्हें कितना दर्द और असहजता से गुजरना है।

एक बार जब डिलिवरी हो जाती है तो माएं रिलैक्स महसूस करती हैं, लेकिन रुकिए..अभी खत्म नहीं हुआ है।इसके बाद उन्हें कुछ अनजाने दौर से भी गुजरना पड़ता है जिसमें से एक है जैसे डिलिवरी के बाद पहली बार पॉटी जाना।

कई माएं इस बात को मानेंगी कि डिलिवरी के बाद पहली बार पॉटी जाना काफी दर्दनाक साबित हो सकता है वो भी इतना कि आप डिलिवरी के दर्द को भूल जाएं।

आखिर क्या है इसका कारण जानिए यहां।

कई दिनों तक कब्ज की स्थिति

बेबी को जन्म देने के बाद आपके शरीर को ठीक होने और वापस पहले जैसा होने में समय लगता है और मेटाबॉलिज्म और डाइजेशन के सथ भी ऐसा ही हैं। दवाइयां और डिहाइड्रेशन भी प्रसव के बाद कब्ज में बड़ी भूमिका निभाता है।

जिन माओं की डिलिवरी सीसेक्शन से हुई है उन्हें भी कब्ज की समस्या हो सकती है खासकर जैसे ही एनेसथिसिया का असर खत्म होने के बाद।

डिलिवरी के बाद पहली बार पॉटी जाना हो सकता है प्रसव पीड़ा से भी खतरनाक..6 कारण

photo: dreamstime

stool softeners को नजरअंदाज

स्टूल सॉफ्टेनर की अनदेखी की जाती है लेकिन इससे आपको आसानी से पॉटी करने में काफी मदद मिल सकती है। 

योनि में चीरा का अनुभव

कई महिलाएं नॉर्मल डिलिवरी episiotomy की मदद से होती है, जिसमें वेजाइना और मलद्वार के बीच चीरा लगाया जाता है। इससे vulva and perineum में कट आ जाते हैं और इसके कारण महिलाओं को पॉटी में समस्या होती है। 

सूजन की समस्या

अगर वेजाइना में कट नहीं लगने के बाद भी आपको वहां पर सूजन की समस्या होती है और इस वजह से आपको पहली बार पॉटी में काफी समस्या हो सकती है। 

टांके अभी भी कच्चे हैं

Episiotomy के बाद डॉक्टर वहां टांके लगाते हैं और वो धीरे-धीरे ठीक होता है। इसे ठीक होने में कुछ दिन या सप्ताह लग जाते हैं। यहां तक कि जिन महिलाओं का सीसेक्शन हुआ है वो भी टाकों को महसूस कर सकती हैं। 

कैसे इस दर्द को बनाएं आसान

इस समस्या के लिए डॉक्टर से बात करें ताकि आपकी असहता खत्म हो। Ibuprofen, कूलिंग क्रीम और स्टूल सॉफ्टनर से आपको मदद मिल सकती है। पॉटी के दौरान अधिक प्रेशर डालने से आप और अधिक दर्द महसूस कर सकते हैं।

आप बिल्कुल ठंढा किया डायपर या सैनिटरी पैड का इस्तेमाल वेजाइन पर हल्के-हल्के कर सकते हैं, इससे आपको आराम मिलेगा। कोई भी ऐसा खाना जिससे पॉटी और अधिक मुश्किल से हो या कड़ा हो ना खाएं। फ्रेश फल और सब्जियां को अधिक खाएं। फैटी और प्रोसेस्ड फूड बिल्कुल भी ना खाएं। 

अगर बारबार पॉटी जाने के बाद भी दर्द कम ना हो तो डॉक्टर से मिलें ताकि आप जल्दी रिकवर कर सकें और अपने बेबी के साथ भी इंज्वॉय कर सकें। 

Any views or opinions expressed in this article are personal and belong solely to the author; and do not represent those of theAsianparent or its clients.

Written by

theIndusparent