जानिए 11 लक्षण कैसे आपके बच्चे हैं औसतन से ज्यादा स्मार्ट

lead image

रिसर्चर के अनुसार कई ऐसे लक्षण होते हैं जो बताते हैं कि आपका बच्चा औसतन से अधिक स्मार्ट हैं। सबसे अच्छी बात ये है कि आपको ये पता करने में भी अधिक समय नहीं लगेगा।

सभी बच्चे स्पेशल होते हैं लेकिन अगर आपको लगता है कि आपका बच्चा उम्र के हिसाब से अधिक स्मार्ट हैं तो रिसर्चर के अनुसार कई ऐसे लक्षण होते हैं जो बताते हैं कि आपका बच्चा औसतन से अधिक स्मार्ट हैं। सबसे अच्छी बात ये है कि आपको ये पता करने में भी अधिक समय नहीं लगेगा।

जी हां ये सच है। ये लक्षण बताते हैं कि आपके बच्चे काफी स्मार्ट हो गए हैं। हम आज आपको कुछ लक्षण बताने जा रहे हैं कि कैसे आप जानें कि आपके बच्चे काफी स्मार्ट हैं।

1. अच्छी याद्दाश्त

src=https://hindi admin.theindusparent.com/wp content/uploads/sites/10/2017/06/1 2.jpg जानिए 11 लक्षण कैसे आपके बच्चे हैं औसतन से ज्यादा स्मार्ट

शुरुआत में एक चीज जो आप पता कर सकती हैं वो ये है कि उनकी याद्दाश्त कैसी है। न्यू किड्स सेंटर में विशेषज्ञों के अनुसार, अगर आपका बच्चा पिछली बातों के साथ साथ ये याद रखने में समर्थ होता है कि उसने खिलौने कहां छुपाए हैं, या वो लोगों को और जगह को आसानी से याद रख लेता है तो समझ जाएं कि आपका बच्चा औसतन से ज्यादा स्मार्ट है।

आप अपने बच्चों की याद्दाश्त पर नजर रखें। कुछ मेमोरी से जुड़ी एक्टिविटी या गेम्स अपने बच्चों को हमेशा करवाते रहें। आप भी बच्चों की प्रैक्टिस करवाते रहें।

2. चिन्तनशील लुक

क्या आपका बच्चा किसी चीज़ को या बहुत दूर की चीज़ों का ध्यान से देखता है तो ये इस बात का संकेत है कि वो किसी गहरी सोच में है। डॉ. देबोरा एल रफ शिक्षा कंस्लटेंट हैं जिन्होंने हफिंगन पोस्ट के बारे में कहा कि “तेज तर्रार बच्चे जल्दी अधिक ध्यान देते हैं और अटेंशन अधिक देते हैं।''

कई बार ऐसा होता है जब आपका बच्चा किसी चीज़ को बहुत ध्यान से देख रहा होता है, कभी कभी वो उसमें बहुत अंदर तक डूब जाता है, लेकिन वो कभी कभी ऐसे में बहुत कुछ सीख रहे होते हैं। डॉ रफ के अनुसार “वो अपने आसपास से इतना कुछ सीख लेते हैं कि जब बड़ों को इस बात का पता चलता है कि उनका बच्चा इतना कुछ जानता है तो वो हैरान रह जाते हैं।

3. वो खुद अपना निष्कर्ष निकालते हैं

अपने क्षमता को पहचाने और इन्फॉर्मेशनल लिंक निकाल लेते हैं। जैसे कि आप किसी को सैंडविच बनाते देखें तो आप समझ जाएंगे कि उन्हें भूख लगी है और वो खाने जा रहे हैं। ये हमारे लिए बड़ी बात नहीं है, है ना? लेकिन आपके बच्चे ये निष्कर्ष निकाल लेते हैं। वो कुछ इस तरह धीरे धीरे बौद्धिक विकास करते हैं।

4. बड़ों के साथ समय बिताना पसंद

आपके बच्चों की प्राथमिकता अलग होती है, कुछ बच्चों को बड़ों के साथ समय बिताना अच्छा लगता है। विशेषज्ञों के अनुसार अगर बड़ों के साथ समय बिताना पसंद करते हैं तो अधिक बुद्धिमान होंगे। Lyn Kendall ने बीबीसी से कहा कि जो बच्चे अधिक तेज तर्रार होते हैं वो बड़ों की कंपनी पसंद है।

वो परिपक्व होते हैं। वो अपने से बड़ों से अधिक सीखते हैं। वो इनसे अधिक सीखते हैं।

5. भाषा कौशल

src=https://hindi admin.theindusparent.com/wp content/uploads/sites/10/2017/06/5 1.jpg जानिए 11 लक्षण कैसे आपके बच्चे हैं औसतन से ज्यादा स्मार्ट

बच्चे जो कम उम्र में बात करना शुरू करते हैं वो औसतन अपने उम्र के बच्चों के मुकाबले अधिक तेज होते हैं। डेविडसन इंस्टिट्यूट, एज्युकेशन फाउंडेशन फोर एडवांस चिल्ड्रेन के अनुसार जो बच्चे जल्दी अपनी भाषा समझने लगते हैं और पकड़ लेते हैं वो निश्चित रूप से काफी बुद्धिमान और तेज होते हैं।

हो सकता है आप सोचें कि ये बच्चे काफी बातें करते हैं लेकिन जब वो जल्दी बोलते हैं तो इसका अर्थ है वो अपनी भावनाओं को जल्दी बयां करते हैं और उनका मस्तिष्क भी जल्दी विकास करता है।

6. नींद जल्दी नहीं आना

हो सकता है आपको सुनने में थोड़ा अजीब लगे और एक हद तक ये है भी। हमारे कहने का ये मतलब है कि अगर आपके बच्चे को सोने में थोड़ी बहुत समस्या होती है तो ये अच्छा है।   डॉ रफ ने कहा है कि जो बच्चे अपनी उम्र से अधिक स्मार्ट होते हैं उन्हें सोने में समस्या होती है क्योंकि उनका दिमाग हमेशा चलते रहता है इसलिए वो तुरंत नहीं सो पाते।

7. मजबूत किरदार और पर्सनैलिटी

हर कोई तेज तर्रार और बोल्ड पर्सनैलिटी वाले लोगों के साथ रहना चाहता है। मतलब आप शायद ही कभी पढ़ें किसी कमजोर व्यक्ति ने इतिहास बनाया हो। मेन्सा की Lyn Kendall ने बीबीसी से बातचात में कहा कि सेंस ऑफ ह्युमर और सामाजिक कौशल पहचान है कि आपके बच्चे औसत से ज्यादा अच्छे हैं।

मतलब बच्चे की पर्सनैलिटी ही सबकुछ बता देती है और अगर ये मजबूत और दमदार है तो मतलब साफ है कि वो ज्यादा इंटेलीजेंट साबित होंगे।

8. अपनी भावनाओं को जाहिर करते हैं

सभी बच्चे हंसते हैं, रोते हैं, पाउट देते हैं। अगर आपके बच्चे अपनी भावनाओं को बाहर भी दिखाते हैं तो ये कोई गलत बात नहीं है। डॉ डेविड पाल्मर,एज्युकेशनल साइकोलॉजिस्ट के अनुसार जो बच्चे भावनात्मक रूप से अधिक ओपन होते हैं और जाहिर कर पाते हैं वो काफी संवेदनशील होते हैं और ज्यादा बेहतरीन तरीके से अपनी सहानुभूति दिखा पाते हैं।

इसलिए अगर आपके बच्चे कभी कभी आपना भावनात्मक पक्ष दिखाते हैं तो याद रखिए कि ये भी सिर्फ भावनात्मक विकास नहीं बल्कि संज्ञानात्मक विकास का हिस्सा है।

9. भरपूर एनर्जी

src=https://hindi admin.theindusparent.com/wp content/uploads/sites/10/2017/06/9 1.jpg जानिए 11 लक्षण कैसे आपके बच्चे हैं औसतन से ज्यादा स्मार्ट

कई बार हम कई ऐसे बच्चों से मिलते हैं जो बहुत एक्टिव या एनर्जी से भरपूर नहीं होते। लेकिन अगर आपको लगता है कि आपके बच्चे काफी चंचल हैं (जैसे वो काफी घूमते हो इधर-उधर करते रहते हों) तो वैसे बच्चे काफी तेज होते हैं। डॉ. हिलेरी हेटिंगर स्टिनेर और डॉ मार्था का ने कहा कि "शारीरिक और मानसिक रूप से अधिक एक्टिव रहना भी तेज बच्चों के लक्षण होते हैं।"

अगर आपके बच्चे बहुत जल्दी जल्दी अपना पोजिशन बदलते हैं और इधर उधर घूमते रहते हैं तो इसकी संभावना अधिक है कि आपके बच्चे काफी स्मार्ट हैं।

10. दिलचस्पी और रुचि लेना

जाहिर सी बात है कि अगर आपके बच्चे काफी दिलचस्पी लेते हैं और अलग अलग चीजों में रुचि लेते हैं तो ये इस बात का इशारा है कि वो आगे अच्छा करने वाले हैं। खासकर अगर उनकी रुचि सकारात्मक चीजों में हो। बेबी सेंटर के अनुसार "अगर आपके छोटे बच्चे में कोई खास टैलेंट हो कलात्मक क्षमता हो तो वो निश्चित रूप से काफी तेज हैं।

11. पढ़ना पसंद करते हैं!

अपनी आखें बंद करें और 'बुकवॉर्म' शब्द के बारे में सोचिए। आपके दिमाग में क्या आया? कोई बहुत बुद्धिजीवी व्यक्ति? मैं तो ऐसा सोचती हूं। अगर आपके बच्चे कम उम्र से ही पढ़ना शुरू करते हैं और पढ़ना पसंद करते हैं तो मतलब साफ है कि आपके बच्चे स्मार्ट हैं। स्कूल जाने की शुरुआत से पहले से अगर बच्चे पढ़ना पसंद करते हैं तो बच्चे तेज तर्रार होते हैं।

 Source: theindusparent.com