जानिए कैसे एम.एस धोनी की पत्नी साक्षी दिखती हैं स्लिम और फिट

सबसे पहले आपको बता दें कि साक्षी के इस फिटनेस के पीछे उनकी बेटी जीवा का भी हाथ है।

जब आपकी शादी सबसे पॉपुलर और सफलतम क्रिकेटर से हो और संयोगवश एक फैशन स्टार से हो तो सारी लाइमलाइट क्रिकेटर पर रहना तय है लेकिन साक्षी धोनी के केस में ऐसा नहीं है।

भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान धोनी की पत्नी साक्षी, 27 साल, में पूरी तरह से अटेंशन पाने में कामयाब रहीं। सबसे अच्छी बात है कि पब्लिक अपीयरेंस, लगातार यात्रा, डेढ़ साल की जीवा का ध्यान रखने के बीच वो खुद पर भी देने के लिए समय निकाल लेती हैं।

कहना गलत नहीं होगा कि ये मम्मी काफी फिट हैं और अपने फिगर दिखाने में जरा भी नहीं हिचकिचाती हैं। धोनी की बायोपिक रिलीज के समय भी वो कई बार दिखीं और हर जगह छा गईं।

साक्षी धोनी का फिटनेस मंत्र

सबसे पहले आपको बता दें कि साक्षी के इस फिटनेस के पीछे उनकी बेटी जीवा का भी हाथ है।2015 में फरवरी में जन्मी जीवा अब दो साल की हो जाएंगी और वो काफी एक्टिव बच्ची हैं। उन्हें घर में भागदौर करना, घर आए मेहमानों के साथ खेलना और सबसे स्टाइलिश अंदाज में पोज देना पसंद है।

साक्षी मीडिया में इंटरव्यू या अपने फिटनेस सीक्रेट नहीं शेयर करतीं लेकिन हम देख सकते हैं कितनी जल्दी उन्होंने अपना वजन कम कर लिया। इसका कारण ज्यादा से ज्यादा फिजिकल एक्टिविटी है।

डिलिवरी के बाद एक्टिव होने से मिली मदद!

साक्षी को जीवा को सारा समय देना पसंद है। वो हमेशा जीवा के पीछे दौड़ती रहती हैं। इस वजह से वो काफी एक्टिव रह पाती हैं। कई मम्मियों का मानना है कि सुपर एक्टिव बच्चे के साथ एक्टिव रहने में मदद मिलती है।साक्षी धोनी खुद भी सही व्यायाम और हेल्दी खाने की वजह से आसानी से वजन कम कर पाईं।

मिलिए कुछ मम्मियों से

Indusparent ने कई रियल लाइफ मम्मियों से बात की जिन्होंने बेबी के डिलिवरी के बाद वजन कम किया और पहले जैसा फिगर पाया।

प्रीति जो पहले मार्केटिंग प्रोफेशनल थी और दो बच्चे कविन 5 साल, नैतिक 2 साल की  हैं। इसमें कोई शक नहीं है कि एक्टिव बच्चों के साथ भागने दौड़ने से बच्चे वजन काफी कम होता है लेकिन ये तभी संभव है जब आप साथ ही खाना भी हेल्दी खाएं।

खिलौने उठाना और समेटना किसी योगा से कम नहीं है। बेबी को लेकर शॉपिंग पर जाना भी किसी वेट ट्रेनिंग की तरह है। जब वो कपड़े नहीं पहनना चाहते और आप उनके पीछे भागती हैं ये कार्डियो से कम नहीं है। इन सब के बाद किसका वजन कम नहीं होगा? ऐसा प्रीति का कहना है जिन्होंने दूसरे बेबी के बाद 10 किलो वजन कम किया।

मल्टी मीडिया प्रोफेशनल और पांच साल की बच्ची नव्या कुकरेती की मां अवंतिका बहुगुणा ने भी प्रेग्नेंसी और डिलीवरी के बाद 12 किलो वजन कम करने में कामयाब रहीं और इसका क्रेडिट वो अपने एक्टिव लाइफ स्टाइल को देती हैं।

उनका मानना है कि बेबी के पीछे भागना सबसे अच्छा एक्टिविटी है जो हर मां को वजन कम करने में मदद करता है। इससे आपको संतुष्टि भी मिलती है कि आप अपने बेबी के लिए हर समय उपलब्ध हैं। हम जानते हैं कि एक मम्म के तौर पर आप भी इससे गुजरी होंगी। अगर आपके पास भी कोई ऐसी वजन कम करने की कहानी है तो हमें जरुर बताएं।

इस आर्टिकल के बारे में अपने सुझाव और विचार कॉमेंट बॉक्स में ज़रूर शेयर करें | 

Source: theindusparent