गुरुग्राम हादसा: अपने बच्चों को दें ऐसी सीख...खुद कर सकेगा अपनी सुरक्षा

दुर्घटना कब किसके साथ कैसे हो जाए इसका किसी को पता नहीं होता। लेकिन कुछ बातें ऐसी होती हैं जो समय रहते बच्चे को सिखाई जाएं तो आपका बच्चा समझदार बनेगा

प्रद्युम्न मर्डर केस ने ना सिर्फ उस बच्चे के माता पिता को बल्कि पूरे देश को और देश की हर उन माताओं को अंदर तक हिला दिया है जिनका बच्चा स्कूल जाता है, जिनका बच्चा बाहर खेलने जाता है। यह एक ऐसा डर है जो हर माता पिता अपने बच्चे को लेकर तब तक महसूस करते हैं जब तो वो घर से बाहर होता है।

दुर्घटना कब किसके साथ कैसे हो जाए इसका किसी को पता नहीं होता। लेकिन कुछ बातें ऐसी होती हैं जो समय रहते बच्चे को सिखाई जाएं तो आपका बच्चा समझदार बनेगा। जैसा स्कूल में प्रद्युम्न के साथ हुआ वो कभी किसी के साथ ना हो।

आज हम आपको कुछ ऐसी बातें बताने जा रहे हैं जो आपको अपने बच्चों को ज़रूर बतानी चाहिए ताकि वो समझदार हो सके और आने वाले खतरे से बच सके। डालिए एक नज़र..

1. अंजान लोगों से बात नहीं 

यह सीख आज से नहीं काफी समय से हर माता पिता अपने बच्चों को सिखाता आया है कि कभी भी कहीं भी अगर वो बाहर जाता है तो उसे किसी अंजान व्यक्ति से बात नहीं करनी चाहिए। आप अपने बच्चे को यह बात घोट के पिला दें कि अगर उनसे कोई भी अंजान व्यक्ति बात करने की कोशिश करे तो वो उससे बिल्कुल दूर हट जाए।

2. बच्चों के साथ दोस्ताना व्यवहार

जी हां..आपको अपने बच्चे के साथ दोस्ताना व्यवहार रखना चाहिए ताकि वो कभी आपसे कोई बात छुपाने की कोशिश ना करे। कभी कभी ऐसा भी होता है कि कुछ संदिग्ध लोग बच्चे को डराएं धमकाएं और अपने माता पिता को ना बताने की धमकी दें। ऐसे में आपको दोस्ताना व्यवहार आपके बच्चे के मन का डर खोलेगा।

3. स्कूल में कहीं अकेले ना जाए

अपने बच्चे को यह सीख दें कि वो स्कूल में कहीं भी जाता है तो कभी अकेले ना जाए। अगर उसे शौचालय जाना है तो इस बात का ध्यान रखे कि उसके साथ कोई ना कोई ज़रूर हो। वो अपने साथ किसी सहपाठी को ले जा सकता है।

4. खुलकर बात करें

यौन शोषण इस समाज का भयानक सत्य है। और इस बारे में आपको अपने बच्चे के साथ खुलकर बात करनी चाहिए। आप अपने बच्चे को बताएं कि अगर कोई अापके प्राइवेट पार्ट्स छूने की कोशिश भी करे तो तुरंत उनकी शिकायत करे।

5. शोर मचाएं

अाप अपने बच्चे को यह सीख दें कि अगर उसके साथ में कोई भी कुछ गलत करने की कोशिश करे तो वो फौरन शौर मचा सकता है और आसपास वालों को अपने साथ हो रही घटाना से रू-ब-रू करा सकता है। ज़ाहिर है कि ये टिप्स आपको अापके बच्चे की रक्षा करने में ज़रूर मददगार साबित होंगे। 

क्या था प्रद्युमन केस : पढ़िए विस्तार से 

जिन्हें नहीं पता उन्हें जानकारी और सचेत करते हुए बता दें कि कुछ समय दिल्ली के गुरुग्राम इलाके में रेयान इंटरनेशनल स्कूल के सात साल के बच्चे की किसी ने बेरहमी से मारकर हत्या कर दी थी। उसकी खून से लथपथ बॉडी स्कूल के शौचालय में मिली थी। पोस्टमार्टम रिपोर्ट में आया था कि प्रद्युमन के साथ पहले यौन शोषण किया गया था। अभी तक इस केस की जांच जारी है।