गुजरे जमाने की एक्ट्रेस और सिंगल मॉम सोनम ने बेटे की सहमती से की दूसरी शादी

lead image

ऑफस्क्रीन सोनम उर्फ बख्तावर खान एक सिंपल लड़की थी जिन्होंने अपने प्यार की खातिर सबकुछ छोड़ दिया, फिल्ममेकर राजीव रॉय की खातिर।अब राजीव राय और सोनम का तलाक हो चुका है और सोनम ने अपनी जिंदगी की नई शुरूआत पुडुचेरी बेस्ड बिजनसमैन के साथ की हैं।

त्रिदेव फिल्म का तिरक्षी टोपी वाले गाना की सेंशनल गर्ल तो आपको याद होगी। इसके अलावा वो अजूबा, विजय, मिट्टी और सोना, विश्वआत्मा जैसी कई फिल्मों में नजर आ चुकी हैं।

ऑफस्क्रीन सोनम उर्फ बख्तावर खान एक सिंपल लड़की थी जिन्होंने अपने प्यार की खातिर सबकुछ छोड़ दिया, फिल्ममेकर राजीव रॉय की खातिर।

80 के दशक में कई ब्लॉकबस्टर फिल्मों में काम कर चुकी सोनम अपने पति के साथ अमेरिका और स्विटजरलैंड में रहीं। इस दौरान ये एक बेटे गौरव के माता-पिता बने जो अब 23 साल के हैं।

हालांकि ये शादी ज्यादा दिन नहीं चली और कपल 2011 में भारत वापस आ गए और तब दोनों ने अलग अलग रहने का निर्णय लिया। दोनों के बीच तलाक भी हुआ और 25 साल की शादी टूट गई। इतने साल तक तलाक लेने का इंतजार उन्होंने इसलिए किया क्योंकि वो गौरव के 18 साल के होने का इंतजार कर रहे थे ताकि वो चाहे तो उनके फैसले पर वीटो कर सके।

अब राजीव राय और सोनम का तलाक हो चुका है और वो अच्छे दोस्त भी हैं। लेकिन हाल में खबर ये आई है कि सोनम ने अपनी जिंदगी की नई शुरूआत पुडुचेरी बेस्ड बिजनसमैन के साथ की हैं।

सोनम को फिर से मिला प्यार

त्रिदेव की ये स्टार नामी एक्टर रजा मुराद की भांजी हैं और उन्होंने मीडिया के साथ शेयर किया कि उन्होंने फिर से शादी की है। सोनम मुंबई के अंधेरी के नगर परिसर में शिफ्ट की हैं और मुरली पोडुवाल से उनकी मुलाकात पुडुचेरी में हुई और दोनों के बीच प्यार हो गया पोडुवल जो खुद भी तलाकशुदा हैं, उन्होंने जल्दी ही सोनम को शादी के लिए प्रपोज किया और दोनों ने शादी में बंधने का फैसला किया।

 
src=https://www.theindusparent.com/wp content/uploads/2017/05/sonam wedding.jpg गुजरे जमाने की एक्ट्रेस और सिंगल मॉम सोनम ने बेटे की सहमती से की दूसरी शादी

हालांकि सोनम ने अपने पूर्व पति को ये बात नहीं बताई लेकिन उन्हें विश्वास है कि दोनों के बीच कुछ भी खराब नहीं होगा।

सोनम ने BT से बातचीत के दौरान कहा कि मैं अब उनके साथ कॉन्टैक्ट में नहीं हूं लेकिन उन्हें इसके बारे में पता है। मैं इसपर कमेंट नहीं करना चाहती क्योंकि ये काफी पर्सनल हैं और मैं सिर्फ अपनी खुशियों के बारे में बात करना चाहती हूं।

Exes के बीच कोई समस्या नहीं..

पिछले साल सोनम के पूर्व पति राजीव रॉय ने भी कहा था कि दोनों अपनी जिंदगी में बेहद खुश हैं। किसी तरह का कोई विवाद नहीं है।

 
src=https://www.theindusparent.com/wp content/uploads/2017/05/rajiv and sonam.jpg गुजरे जमाने की एक्ट्रेस और सिंगल मॉम सोनम ने बेटे की सहमती से की दूसरी शादी

उन्होंने पिछले साल एक लोकप्रिय दैनिक अखबार से कहा था कि इन 15 सालों में हम छुट्टियां बिताने कई जगहों पर गए जहां हम अलग अलग कमरों में ठहरें। सोनम और मुझे इस शादी को कई सालों तक रखना पड़ा क्योंकि हम गौरव के 18 साल के होने का इंतजार कर रहे थे। वो आज 23 साल का है और इस फैसले को पूरी परिपक्वता के साथ मान चुका है। क्या उसने इसे अस्वीकार किया था।इस पर भी उन्होंने कहा कि उसने हम दोनों से कहा कि हमें अपनी अपनी जिंदगी जीने का अधिकार है। उसके लिए दोनों घरों के दरवाजे खुले हैं। ये उसके उपर है कि वो कहां रहना चाहता है। बल्कि फिलहाल वो मेरी प्रोडक्शन हाउस में काम कर रहा है। सोनम एक अच्छी मां और पत्नी रही है और मुझे उससे कोई शिकायत नहीं है। आपलोगों को कभी हम साथ में लंच करते दिख जाएं तो चौंकिएगा नहीं।

इस कपल ने एक दूसरे को और अपने बच्चे को खुशियां तलाशने का काफी समय दिया। ये आसान नहीं है। टूटी हुई शादियों में बच्चों को अगर अच्छे से ना समझाया जाए तो वो अक्सर किसी एक की बुरी इमेज बना लेते हैं।

सेक्सुअल रिलेशनशिप की वजह से तलाक में क्रांति

हमने मनोविशेषज्ञ अनुजा कपूर से बातचीत की जिन्होंने बताया कि शादियों के टूटने की वजह से बच्चों की जिंदगी पर काफी असर पड़ता है।

उन्होंने विस्तार में बताया कि सेक्सुअल रिलेशनशिप में आई क्रांति बच्चों या बड़ों की जिंदगी बरबाद कर रही है। ये असल में बच्चों के विकास और भावनात्मक स्वास्थ्य को भी प्रभावित कर सकती है। बच्चे पैरेंट्स के विवाद, अलगाव, तलाक, पुर्नविवाह का खामियाजा भुगतते हैं। इसके बाद सिंगल पैरेंटिंग या सौतेले पैरेंट्स द्वारा परवरिश के बाद वो अपने माता या पिता की कमी महसूस करते हैं। बच्चों को लगता है कि शादी में दुखी रहने से अच्छा है कि वो अलग अलग हो जाएं।

लेकिन उन्होंने साथ ही ये भी बताया कि अच्छे से परिपक्वता के साथ समझाया जाए तो वो इसे हैंडल कर सकेंगे।

सौतेले पैरेंट्स के साथ एडजस्ट करने में इन तरीकों से करें बच्चों की मदद

1. बच्चों से खुलकर बात करें : उन्हें बताइए कि आप उनकी केयर करते हैं और उनकी जगह ना बदली है और ना तो उन्हें आप भूल गए हैं। उन्हें अपनी बातें कहने दीजिए और इस बदलाव के बारे में खुल कर बताएं और स्थिति को संभालें।

2. सहानुभूति रखें : बच्चे पुर्नविवाह को हानि की तरह लेते हैं । वो दुबारा शादी के बारे में हो सकता है नहीं समझे या फिर उसके बारे में बात नहीं कर पाएं। आपके बच्चे क्या महसूस कर रहे हैं समझे। उन्हें सुने और उनकी चिंताओं को दूर करें।

3. बच्चों को एडजस्ट करने का समय दें : कुछ बच्चे नए रिश्तों में जल्दी घुलमिल जाते हैं और कुछ थोड़े संवेदनशील होते हैं।उन्हें एडजस्ट करने में समय लगता है। बच्चों को नई परिस्थिति में तुरंत ढल जाने का दवाब ना डालें। आप उनसे उम्मीद रखें कि वो विनम्रता और इज्जत के साथ पेश आएं।

इस आर्टिकल के बारे में अपने सुझाव और विचार कॉमेंट बॉक्स में ज़रूर शेयर करें | 

Source: theindusparent