गर्भावस्था में पसंदीदा खाने से हो रही है चिढ़..ये टिप्स आज़माएं

अगर आपको लगे कि आपको जिन खाने की चीज़ों से नफरत होने लगी है और वो शरीर के लिए फायदेमंद है तो आप उस चीज़ को किसी अन्य तरीके से खा सकती हैं।

हर महिला के लिए गर्भावस्था ज़िंदगी का ऐसा चरण होता है जिसमें अलग अलग मूड से उसका सामना होता है और बात की जाए खाने पीने की तो उसका ऐसी ऐसी चीज़ें खाने का मन करता है जिसका उसे पहले कभी खाने का मन ना किया हो।
 
अजीब अजीब तरह के मेल बनाकर खाना खाना। जैसे कुछ महिलाओं को देखा गया है कि उनका आइसक्रीम और अचार साथ में खाने का मन किया है। इसके अलावा उनका खट्टा खाना, कभी कभी मिट्टी तक खाने का दिल करता है। 
 
लेकिन आपको बताते चलें कि जिस तरह उन्हें प्रेग्नेंसी अजीब अजीब चीज़ें खाने का दिल करता है ठीक उसी के उलट कुछ महिलाओं को उन खाने की चीज़ों से नफरत होने लगती है जो कभी उनके फेवरेट फूड हुआ करते थे। 
 
वो ऐसी चीज़ें हैं जिन्हें वो रोज़ाना खाया करती थीं। ऐसा अधिकतर गर्भावस्था की पहली तिमाही में देखने को मिलता है। हालांकि इसके पीछे क्या कारण है वो अभी तक स्पष्ट नहीं हुआ है। 
 
इसका सबसे पहले लक्षण यह माना गया है कि आपको अब पहले से ज्यादा मुंह में लार बनना शुरू हो गया है।

अधिक लार का बढ़ना

कई हार्मोन्स के कारण गर्भावस्था के दौरान मुंह में ज्यादा लार बनती है। जिस कारण मुंह में धातु जैसा स्वाद आता है। यही कारण है कि कड़वे स्वाद की वजह से उन्हें वो भी खाना अच्छा नहीं लगता जो उन्हें पसंद होता है। 

शरीर कुछ कहता है

कुछ चीज़ें ऐसी होती हैं जो गर्भवती महिला को पसंद तो होती हैं लेकिन वो उस समय महिला और बच्चे दोनों की ही सेहत के लिए ठीक नहीं होता। यही कारण है कि शरीर उन्हें इस बात का खुद संकेत देता है कि यह खाना दोनों के लिए सही नहीं है और वो महिला को प्रेग्नेंसी के दौरान अच्छा लगना बंद हो जाता है जो उसका पसंदीदा भी होता है। लेकिन ऐसा हर फूड के साथ हो वो ज़रूरी नहीं। 

कुछ इस तरह लें पोषण

अगर आपको लगे कि आपको जिन खाने की चीज़ों से नफरत होने लगी है और वो शरीर के लिए फायदेमंद है तो आप उस चीज़ को किसी अन्य तरीके से खा सकती हैं। जैसे किसी और चीज़ में मिलाकर। इससे आपको उस चीज़ का टेस्ट भी नहीं आएगा और ज़रूरी पोषण आपके शरीर में भी चले जाएंगे। 

खाली पेट ना रहें 

कभी कभी ऐसा भी देखने को मिलता है कि आप खाली पेट रह जाती हैं जिस कारण खाने से आपका मन हटने लगता है। तो इसलिए आप इस बात पर ध्यान दें कि कभी अपने पेट को खाली ना रखें। दिन में हर बार बीच बीच में कुछ ना कुछ खाती रहें। 

डॉक्टर की सलाह लें

वहीं अगर आपको ज्यादा परेशानी हो रही है तो आप अपने डॉक्टर की सलाह ले सकती हैं ताकि वो आपको सही सप्लिपेंट की राय दे सकें।