गर्भपात (miscarriage) के बाद इन चीज़ों को बिल्कुल ना खाएं

चूंकि गर्भपात में महिला के शरीर से रक्त काफी मात्रा में बह चुका होता है तो कमज़ोरी काफी आ जाती है। ऐसे में आपको उसके खान-पान का खास ख्याल रखना होता है। और काफी अहितयात बरतनी पड़ती है।

जब एक महिला प्रेग्नेंट होती है तो उसके खाने पीने का खास ख्याल रखा जाता है। उसे पौष्टिक चीज़ें खाने के लिए दी जाती हैं, पूरा आराम दिया जाता है ताकि आने वाला बच्चा हष्ट पुष्ट जन्म ले सके। प्रेग्नेंसी  के दौरान उसे बताया जाता है कि उसे ये चीज़ खानी चाहिए और ये चीज़ें नहीं खानी चाहिए।

लेकिन बावजूद इसके किसी ना किसी कारण काफी महिलाएं गर्भपता यानी मिसकैरेज का शिकार हो जाती हैं। इसके कई कारण हो सकते हैं। गर्भपात के बाद एक ओर जहां महिला मानसिक रूप से काफी कमज़ोर और दुखी हो जाती है तो वहीं दूसरी ओर उसका शरीर भी काफी कमज़ोर हो जाता है।

मिसकैरेज का मतलब होता है भ्रूण की पैदा होने से पहले ही प्रकृतिक तरीके से मृत्यु हो जाना। किसी भी महिला के लिए गर्भपात का दर्द काफी असहनीय होता है। शारीरिक और मानसिक दोनों ही रूप से उबरने के लिए कुछ समय लगता है। ऐसे में उसका खास ख्याल रखना काफी ज़रूरी होता है।

चूंकि गर्भपात में महिला के शरीर से रक्त काफी मात्रा में बह चुका होता है तो कमज़ोरी काफी आ जाती है। ऐसे में आपको उसके खान-पान का खास ख्याल रखना होता है। और काफी अहितयात बरतनी पड़ती है। आज हम आपको बताएंगे कि गर्भपात के बाद आपको किन किन खाने की चीज़ों से परहेज रखना चाहिए..

1. कॉफी

जिस महिला का अभी अभी गर्भपात हुआ है उसे कॉफी के सेवन से बचना चाहिए। चूंकि कॉफी में कैफीन होता है जो कि यूट्रस के लिये अच्‍छा नहीं मानी जाता। गर्भवती महिला से लेकर प्रसव के बाद भी, इसका सेवन सेहत के लिए हानिकारक होता है।

2. फास्ट फूड

फास्ट फूड तो सभी की सेहत के लिए हानिकारक होते  हैं। और अगर किसी का गर्भपता हुआ है तो उसे तो फास्ट फूड से बिल्कुल ही दूर रहना पड़ेगा। पिज्जा और बर्गर जैसे फास्ट फूड खाना महिला को अवसादग्रस्त बना सकता है जिससे उसकी सेहत और भी खराब हो सकती है। इस समय आपको ज्‍यादा से ज्‍यादा प्रोटीन और विटामिन ए और विटामिन सी वाले आहार लेने चाहिए।

3. सोया प्रोडक्ट

यूं तो सोया युक्त आहार लेना काफी फायदेमंद होता है लेकिन अगर किसी का हाल ही में गर्भपात हुआ है तो उसे सोया प्रोडक्ट से दूर रहना चाहिए क्योंकि गर्भपात के बाद शरीर में आयरन की कमी होती जाती है और सोया से आयरन घटता है।

4. डिब्बांद आहार

आप डिब्बाबंद चीज़ें खाना से बचें क्योंकि इसमें आर्टिफीशियल प्रिजर्वेटिव मिले होते हैं, जिसे खाने से स्वास्थ्य संबंधी दिक्कतें होती हैं।

5. कार्बोहाइड्रेट फूड

गर्भपात के बाद कार्बोहाइड्रेट फूड भी काफी नुकसानदाय होते हैं। आपको ऐसा खाना खाना चाहिए जिससे आपके शरीर में आई कमज़ोरी दूर हो सके।

इसके अलावा बेहतर होगा कि आप अपने खान पान के बारे में अपनी डॉक्टर से सलाह लें। वो आपको और आपके शरीर की ज़रूरत को और आपकी स्थिति को अच्छी तरह समझती होंगी। इसलिए गर्भपात के बाद क्या खाना है क्या नहीं, इस बारे में अपनी डॉक्टर से बात ज़रूर करें। किस प्रकार का आहार खाना चाहिए और कौन से भोजन से दूर रहना चाहिए।