क्या आपका बच्चा भी चूसता है अंगूठा..इन आसान टिप्स को अपनाकर छुड़ाएं आदत

lead image

अंगूठा चूसने के कई दुष्प्रभाव होते हैं जो आपके बच्चे पर पड़ सकते हैं। सबसे पहला ये कि इससे आपके बच्चे के दांत टेढ़े मेढ़े आते हैं और दांतों के बीच में गैप भी आ सकता है।

एक मां के लिए सबसे अहम जो होता है वो है उसका बच्चा। वो पूरी कोशिश करती है कि अपने बच्चे को अच्छी परवरिश दे और अच्छी अच्छी आदतें उसकी दिनचर्या में शामिल कराए। बच्चे होते हैं शैतान इसमें तो कोई दो राय नहीं है। इसी के साथ उन्हें कुछ कुछ आदतें ऐसी पड़ जाती हैं जिन्हें अगर शुरू में ही माता पिता ने नियंत्रित नहीं किया तो वो आगे चलकर नुकसानदायक साबित होती है।

इन्हीं में से एक है अंगूठा चूसने की आदत। आपने कुछ बच्चे ऐसे ज़रूर देखें होंगे जिन्हें अंगूठा चूसने की आदत है। कुछ माता पिता होते हैं जो अपने बच्चे की इस आदत को नादानी समझकर नज़रअंदाज़ कर देते हैं लेकिन इन्हीं में कुछ ऐसे होते हैं जो कोशिश तो करते हैं बच्चे की इस आदत को दूर कराने की लेकिन कर नहीं पाते।

आपको बता दें कि ज्यादातर बच्चे में अंगूठा चूसने की आदत तीन से छह महीने की उम्र में लगती है। जो धीरे धीरे बढ़ती भी जा सकती है। हालांकि अधिकतर बच्चे तीन से चार साल की उम्र में आने तक ये आदत छोड़ देते हैं लेकिन अगर इस उम्र तक भी आपके बच्चे ने ये आदत नहीं छोड़ी तो ये चिंता का विषय बन जाता है।

अंगूठा चूसने के कई दुष्प्रभाव होते हैं जो आपके बच्चे पर पड़ सकते हैं। सबसे पहला ये कि इससे आपके बच्चे के दांत टेढ़े मेढ़े आते हैं और दांतों के बीच में गैप भी आ सकता है।

दूसरा ये कि इससे संक्रमण का भी खतरा रहता है। क्योंकि बच्चा खेलता है तो ज़ाहिर तौर पर उसके हाथ में बैक्टीरिया ज़रूर रहते होंगे, और अगर यही बैक्टीरिया वाले हाथ वो मुंह में लेगा तो संक्रमण का खतरा बढ़ जाता है।

तो बिना देरी करते हुए हम आपको बताने जा रहे हैं कि कैसे आप अपने बच्चे की इस आदत को छुड़ा सकते हैं..

baby sucking thumb क्या आपका बच्चा भी चूसता है अंगूठा..इन आसान टिप्स को अपनाकर छुड़ाएं आदत

1.समय समय पर दें खाना

अंगूठा चूसने का सबसे पहला कारण हो सकता है कि आपके बच्चे को शायद भूख लगी है। तो इस बात का ध्यान रखें कि आप बच्चे को समय समय पर खाने को देती रहें ताकि वो भूखा ना रहे।

2.अंगूठे पर बांधे पट्टी

आप एक तरीका अपना सकती हैं कि बच्चे के अंगूठे पर पट्टी बांधे ताकि वो मुंह में ही ना ले पाए। कुछ दिन ऐसा करने से बच्चे की ये आदत खुद ब खुद दूर हो जाएगी।

3.ध्यान भटकाएं

आप अपने बच्चों को कुछ ऐसी अलग अलग गतिविधियों में व्यस्त कर सकती हैं जिससे उसका ध्यान भटका रहे। आप उसे पार्क ले जा सकती हैं, नए नए खेलों में उसका ध्यान लगवा सकती हैं। ऐसा करने से धीरे धीरे आपके बच्चे की अंगूठा चूसने की आदत कम होगी।

4.प्यार से समझाएं

प्यार हर मर्ज़ की दवा है..आप अपने बच्चे को प्यार को समझाएं कि अंगूठा चूसने से क्या क्या नुकसान हो सकते हैं। इससे आपका बच्चा समझेगा और ऐसा करने से बचेगा।

5.उदाहरण दें

आप अपने बच्चे को उदाहरण देकर और तुलना करके भी समझा सकती हैं। बच्चों को कार्टून पसंद होते हैं तो आप उन्हें ये कहकर समझा सकती हैं कि क्या आपका पसंदीदा कार्टून ऐसा करता है? नहीं ना...इससे बच्चा ज़रूर आपकी बात समझेगा।

6. थोड़ा सा डर बैठाएं

जैसा कि हमने आपको बताया कि अंगूठा चूसने से बच्चे के दांत टेढ़े आते हैं। तो आप बच्चे थोड़ा सा डराकर बताएं कि अगर आपके दांत टेढ़े आए तो उन्हें ठीक कराने में कितना दर्द होगा। थोड़ा सा डर आपके बच्चे की बुरी आदत को छुड़ा सकता है।