कैसे जाने की आपकी माँ ही आपकी बेस्ट फ्रेंड हैं ।

lead image

अपने पहले बच्चे के जन्म के बाद आप आओनी माँ के बहुत ज्यादा करीब हो जाती हैं । शायद ऐसा इसीलिए होता है क्योंकि अब आप उन्हें समझ पाती हैं । शायद इसीलिए भी की उम्र के साथ आप बुद्धिमान होने के साथ साथ पेरेंट्स के प्रति संवेदनशील होती जाती हैं या शायद इसीलिए भी की वो हमेशा थोड़ी थोड़ी देर में बच्चे को आपकी गोद से ले लेती हैं । चाहे कारण कुछ भी हो आप अपनी माँ के बहुत करीब हो जाते हैं ।इतने करीब की आप उस वक़्त बेस्ट फ्रेंड की तरह हो जाते हैं । आज़ादी, टीनएज से बाहर आपका स्वागत हज इस नए समय में जहाँ आप घंटों अपनी माँ से फ़ोन पर बात करके  पेरेंटिंग के गुड़ सीखेंगी। चीजें कैसे बदल जाती है न ?

आप सोच रही होंगी की हाँ मैं और मेरी माँ क्लोज तो हैं लेकिन बेस्ट फ्रेंड बोलना शायद थोडा ज्यादा हो जाएगा । लेकिन मैं इसे प्रूव कर सकती हूँ । इस संकेतों और बातों से आप पहचान पाएंगी की आपकी माँ आपकी बेस्ट फ्रेंड फोरेवर हैं या नहीं । :

आप उनके सलाह और मार्गदर्शन को मानती हैं ।
अब आप जब खुद एक माँ हैं, ऐसे में दुसरे माओं के सलाह बड़े काम आते हैं । इन सबसे ऊपर आपको अपनी माँ की सलाह सबसे ज्यादा मायने रखती है। इसीलिए आप ज्यादातर उनसे ही सलाह लेती हैं । चाहे कोई भी स्थिति हो आपकी माँ आपको बताती रहती हैं की करना क्या है । और एक बेस्ट फ्रेंड की तरह आप उनकी बात मानती हैं ।

आप अपनी माँ को जरूरत से ज्यादा कर रहे हो । अपने पेरेंट्स को सभी कॉल करते हैं।  ये साधारण बात है लेकिन अगर ये कॉल्स बढ़ जाएँ तो मतलब वो आपकी बेस्ट फ्रैंड हैं । जैसा की पहले ही बताया की आप हो सकता है अपनी माँ से घण्टों तक बात करती रहें । किसी भी तरह के जानकारी के लिए आप अगर अपनी माँ को बार बार फ़ोन करती हैं तो यकीनन वो आपकी बेस्ट फ्रेंड है ।
आप ईमानदारी से एक दुसरे से हर किस्म की बातें कर लेते हैं

अगर आप किसी के सामने पूरी तरह से सच नहीं बोल पाते हैं तो इसका मतलब है की आप उस व्यक्ति के उतने करीब हैं नहीं । इसीलिए अगर आप किसी के साथ कुछ भी ईमानदारी से और सच सच बोल पते हैं तो वो आपकी बेस्ट फ्रेंड होते हैं ।
अगर आप अपनी माँ के साथ इस कम्फर्ट लेवल तक पहुंच गयीं हैं जहाँ आप उनसे साड़ी बाते बिना डरे और सच सच कह पति हैं तो वो कहीं न कहीं आपकी बेस्ट फ्रेंड ही हैं।

आप साथ मे समय बिताना पसंद करते हैं

अपने पुराने दिनों को याद करिये जब आप अपनी माँ के ही आसपास रहना पसंद नही करती थीं। चाहे रेस्टोरेंट हो, दूकान, मॉल या मूवी उनके साथ आपको सही नहीं लगता था । लेकिन आज जब वो आपकी बेस्ट फ्रेंड हैं तो आपने ध्यान दिया होगा की आपको कोई फर्क नहीं पड़ता की आसपास के लोग क्या सोचते हैं, और आप एक क्वालिटी टाइम साथ में बिता लेते हैं । यहाँ तक की अब आप दोनों साथ में किसी भी तरह का काम कर सकते हैं, साथ में शौपिंग, मूवी आदि कुछ भी ।

अगर ऐसी बात है तो मतलब आपकी माँ आपकी बेस्ट फ्रेंड हैं । आप उनकी तरह बनती जा रही हैं, बिलकुल उसी तरह जैसे कभी स्कूल में आप औने बेस्ट फ्रेंड के साथ घूमने निकल जाया करती थीं । आज अगर आप ध्यान दें तो वही काम आप अपनी माँ के साथ भी कर पाती हैं । या कभी आपको किसी ने कहा है की "तुम बिलकुल अपनी माँ की तरह बात करती हो" ? तब हो सकता है आपने मना कर दिया हो या आपको अजीब लगा हो लेकिन अब जब आप बड़ी हो गयी हैं तब आपको ऐसा नहीं लगता । ले देकर वो हैं तो माँ ही तो माँ की तरह ही बात करेंगी।

क्या आप इन सबमे से किसी से खुद relate कर पा रहे हैं ?अगर हाँ  तो टाइम आ गया है की आप उनकी तारीफ़ करें, एक माँ से बढ़कर एक बेस्ट फ्रेंड होने के लिए ।
इस आर्टिकल के बारे में अपने सुझाव और विचार कॉमेंट बॉक्स में ज़रूर शेयर करें  

Hindi.indusparent.com द्वारा ऐसी ही और जानकारी और अपडेट्स के लिए  हमें  Facebook पर  Like करें