कितने दिनों के अंतराल में करवाएं बेबी का वजन?

lead image

क्या आपका बेबी बहुत ही पतला है या फिर बिल्कुल गोलू बेबी है? बेबी अपने उम्र के हिसाब से हेल्दी हैं या नहीं ये जानने के लिए बेबी का वजन हमेशा करवाते रहें।

1 कितने दिनों के अंतराल में करवाएं बेबी का वजन?

आपका बेबी इतना पतला क्यों हैं? क्या आप अच्छे से दूध नहीं देती?”

आपका बेबी इतना हेल्दी क्यों है! मेरे ख्याल से आप जरुरत से अधिक दूध उसे दे रही हैं

हम सभी ऐसे कमेंट्स अपने परिवार के सदस्य और दोस्तों से सुनते रहते हैं। बतौर पैरेंट्स जाहिर है हम अपने बच्चे के स्वास्थ और विकास की चिंता करते हैं।

लेकिन जब आप बाकी लोगों से अपने बेबी के  वजन के बारे में सुनते हैं तो आपको चिंता भी होती है और आप खुद से ही सवाल पूछने लगते हैं कि कहीं आप बेबी को कम दूध या अधिक दूध तो नहीं दे रही हैं।

हालांकि आपके बेबी का विकास सिर्फ बाहरी लुक से नहीं जांचा जा सकता है। इसके लिए सबसे बेहतर उपाय है कि आप नियमित रूप से अपने बच्चे का वजन करवाते रहें। इससे आपको पता चलते रहेगा कि वो उम्र के हिसाब से सही तरीके से विकास कर रहे हैं या नहीं।

अब सवाल ये उठता है कि आपको अपने बच्चे का वजन कितने दिनों में करवाना चाहिए?

कितना होना चाहिए बेबी का वजन?

सिंगापुर जनरल हॉस्पिटल के नेशनल एंड डेवलपमेंट मेडिसीन के अनुसार तुरंत जन्म लिए बच्चे का वजन 2.5 किलो से 4.5 किलो तक होना चाहिए और 1.5 किलो से कम वजन के बच्चे निम्न जन्म दर की श्रेणी में आते हैं।

बेबी गर्ल

3 महीने – 5.5kg
6 महीने – 7.5kg
9 महीने – 9.0kg
12 महीने – 9.5kg

बेबी ब्वॉय

3 महीने  – 7.5kg
6 महीने – 7.5kg
9 महीने – 9.5kg
12 महीने – 10.5kg

stress कितने दिनों के अंतराल में करवाएं बेबी का वजन?

कितने दिनों में करवाएं बेबी का वजन?

अपने ऊपर गैरजरुरी तनाव ना लें और हर दिन आप अपने बेबी का वजन नहीं करें क्योंकि ये बिल्कुल भी जरुरी नहीं है।

एक छोटे बेबी का वजन हर दिन अलग-अलग हो सकता है क्योंकि ये बेबी हर दिन कितनी मात्रा में दूध पी रहे हैं इसपर निर्भर करता है।

आपको बेबी का वजन उनकी उम्र के अनुसार कुछ कुछ दिनों पर करना चाहिए।

  • 2 महीने से 6 महीने तक – महीने में एक बार
  • 6 महीने से 12 महीने तक – महीने में दो बार
  • 12 महीने से अधिक – तीन महीने में एक बार

 

newborn weight loss featured कितने दिनों के अंतराल में करवाएं बेबी का वजन?

आपके बेबी का डॉक्टर उनका वजन हर विजिट में करेगा इसलिए असल में आपको कोई चिंता करने की जरुरत नहीं है।

क्या वजनी बच्चे हेल्दी होते हैं?

सिंगापुर की बात करें तो वहां ज्यादातर बच्चे 2.8 किलो से 3.5 किलो तक के होते हैं और अगर बेबी का वजन 4 किलो से अधिक है तो वो भारी बच्चों की श्रेणी में आते हैं।

Chris Chong Women and Urogynae Clinic के फाउंडर डॉ क्रिस्टोफर चॉन्ग का कहना है कि सिंगापुर में पिछले 15-20 सालों में तुरंत जन्म लिए बेबी के जन्म में 13% की वृद्धि आई है।

उन्होंने कहा है कि  “अभी महिलाएं अच्छा खाना, पोषक तत्व और सभी जरुरी चीजें लेती हैं इसलिए बेबी का वजन भी अच्छा रहता है।“

baby 320653 640 कितने दिनों के अंतराल में करवाएं बेबी का वजन?

लेकिन विशेषज्ञों के अनुसार अगर आपका बेबी अधिक भारी है तो वो घुटनों के बल चलने और चलने में भी देरी कर सकते हैं। हालांकि साइज में बड़े बच्चे जरुरी नहीं अधिक वजनी हो लेकिन अगर बच्चे मोटे हैं तो संभावना है कि वो बड़े होकर भी मोटे ही रहेंगे।

वहीं दूसरी ओर SGH के अनुसार बेबी का जरुरत से कम वजन होने के कारण बच्चों को हमेशा स्वास्थ से जुड़ी समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है ।वो जल्दी हाइपरटेंशन, टाइप 2 डायबिटीज और  हृद्य से जुड़े रोगों की चपेट में आ सकते हैं।

इसमें चौंकने वाली बात नहीं है कि पैरेंट्स को बेबी के वजन को लेकर अधिक चिंता होती है। आपको बता दें कि अधिक वजनी होने के कारण मोटापा बढ़ सकता है जिससे विकास में देरी होगी तो वहीं अधिक दुबला होने के कारण कई स्वास्थ से जुड़ी कई गंभीर समस्याएं हो सकती है।

वजन की अधिक ना करें चिंता

bathroom scale 1149264 640 कितने दिनों के अंतराल में करवाएं बेबी का वजन?

UCLA Medical Center and Cedars-Sinai Medical Center के एमडी Dr Jay Gordon CBS TV के मेडिकल कंस्लटेंट के अनुसार जब तक आपका बेबी नर्सिंग स्टेज में बिल्कुल साफ टॉयलेट कर रहा है और ज्यादा से ज्यादा डायपर गीला कर रहा है तो वो अनुमानत: बिल्कुल स्वस्थ हैं।  

उन्होंने पैरेंट्स को सलाह देते हुए एक चेकलिस्ट दी है जो बेहद महत्वपूर्ण है:

  • क्या आपका बेबी दूध पीना चाहता है?
  • क्या वो अच्छे से टॉयलेट और पॉटी कर रहे हैं?
  • क्या वो बिल्कुल साफ या गहरे पीले रंग का टॉयलेट कर रहे हैं?
  • क्या आपके बेबी का आंख चमकीला और अलर्ट दिखता है?
  • क्या उनकी त्वचा का रंग हेल्दी है
  • क्या आपका बच्चा पूरी ताकत के साथ हाथ और पैर को मारता है?
  • क्या उनके हाथ और पैर के नाखुन अच्छे से बढ़ रहे हैं?
  • क्या वो बड़े होने के दौरान सभी महत्वपूर्ण स्टेज को समय पर पूरा कर रहे हैं?
  • क्या आपके बच्चे हमेशा खुश और खेलने के मूड में रहते हैं?
  • जब आपका बेबी जागा होता है तो क्या वो बहुत अधिक सावधानी भी दिखाता है?

अगर ऊपर लिखे सभी सवालों का जवाब हां है तो आपको बतौर पैरेंट्स खुश होना चाहिए।

अपने बेबी के वजन का अध्ययन करने के अलावा आपको कुछ और चीजों को ध्यान में रखना चाहिए जो उनके वजन के लिए महत्वपूर्ण है जैसे लंबाई, हड्डियों का आकार, कहां के रहने वाले हैं, उनके गर्भ में रहने की अवधि, वो स्तनपान करते हैं या फॉर्मुला दूध पीते हैं।

Dr Jay Gordon के अनुसार मैं किसी बेबी को याद नहीं कर पा रहा हूं जिनका 2 से 6 सप्ताह के बीच धीरे-धीरे वजन बढ़ना ही किसी समस्या का एकमात्र संकेत था। 2-12 महीने तक के बच्चे बहुत ही तेजी से और अलग-अलग तरीके से बड़े होते हैं। वजन का बढ़ना ही सिर्फ अच्छे हेल्थ का एक मात्र लक्षण नहीं होना चाहिए।

उन्होंने आगे कहा कि वजन के अलावा क्या आपको बेबी के विकास के बाकी पैमाने जैसे परस्पर क्रिया और बाकी खास लक्षणों पर नजर रखनी चाहिए ।

लेकिन फिर भी अगर आपको बेबी के विकास की चिंता है या कोई दुविधा हो तो हमेशा डॉक्टर की सलाह लें।