करीना कपूर गईं लंदन..लेकिन तैमूर के बिना!

करीना कपूर गईं लंदन..लेकिन तैमूर के बिना!

अब तैमूर तीन महीने के हो गए हैं और यम्मी मम्मी करीना कपूर लंदन के लिए निकल पड़ी हैं जहां वो अपने पति सैफ अली खान को ज्वाइन करेंगी जो शेफ की शूटिंग में व्यस्त हैं। लेकिन इस बार वो तैमूर को साथ लेकर नहीं गईं हैं।

लगभग तीन महीने पहले मां बनीं करीना कपूर ने हमेशा इस बात को साफ रखा है कि वो मां बनने के बाद भी उसी तरह काम करते रहेंगी जैसे वो अपनी प्रेग्नेंसी के दौरान भी कर रही थीं।

अब तैमूर तीन महीने के हो गए हैं और यम्मी मम्मी करीना कपूर लंदन के लिए निकल पड़ी हैं जहां वो अपने पति सैफ अली खान को ज्वाइन करेंगी जो शेफ की शूटिंग में व्यस्त हैं। लेकिन इस बार वो तैमूर को साथ लेकर नहीं गईं हैं।

जी हां करीना कपूर एयरपोर्ट पर हल्के ऑलिव ग्रीन कलर के जैकेट और ब्लू डेनिमर स्पॉट हुईं। कहने की जरूरत नहीं है कि न्यू मम्मी करीना वापस अपने प्रेग्नेंसी के पहले के शेप में वापस लौट रही हैं और वो वाकई इस दौरान बेहद खूबसूरत लग रही थीं।

जहां एक ओर तैमूर का उनके साथ ना होना काफी हैरानी भरा था वहीं करीना कपूर हमेशा से बोलते आ रही हैं कि वो सिर्फ घर परिवार पर ही मां बनने जाने के बाद नहीं ध्यान देंगी। जबकि हमारे देश में बेबी के होने के बाद ज्यादातर महिलाओं से यही उम्मीद रखी जाती है कि वो घर पर रहेंगी लेकिन करीना कपूर कहती हैं कि वो इसमें विश्वास नहीं करती।

एक लीडिंग इंटरनेशनल से बातचीत के दौरान उन्होंने कहा कि “ मैंने हमेशा अपनी शादी और काम के बीच सामंजस्य बना कर रखा। लोगों को लगता था कि मैं ऐसा नहीं कर पाउंगी लेकिन मैंने ये किया। मैं आगे भी जारी रखूंगी। अगर आपके बच्चे हैं, परिवार हैं तो इसका ये मतलब नहीं कि आप घर में बंध कर रह जाइए।“


साथ ही करीना कपूर ने ये भी कहा कि वो हमेशा अपने काम और जिंदगी के बीच इसी तरह से बैलेंस कर रखना चाहती हैं।

उन्होंने ये भी कहा कि “मैं ऐसा कर कुछ प्रूव नहीं करना चाहती हूं। ये मैं हमेशा से करना चाहती थी और मुझे लगता है इसमें कुछ भी छिपाने जैसा नहीं है। प्रेग्नेंसी मेरे लिए एक नॉर्मल चीज थी और यही बेबी के जन्म के बाद भी है।“

बच्चे को पहली बार छोड़कर जाना...

करीना कपूर की तरह वर्किंग मांओं को अक्सर काम से बाहर जाना पड़ता है लेकिन मातृत्व अवकाश के बाद पहली बार या किसी जरूरी काम से पहली बार छोड़कर जा रही हैं।यहां कुछ बातें हमेशा ध्यान में रखिए।

  1. बच्चे को तैयार करें : काम पर लौटने के कुछ सप्ताह पहले से अपने परिवार के किसी सदस्य या बेबीसीटर के पास बच्चे को कुछ देर के लिए जरूर छोड़ें। इससे बेबी भी धीरे धीरे उसके साथ एडजस्ट करेगा जिसके साथ उसे समय गुजारना है।
  2. बच्चों का दूध : अगर आप चाहती हैं कि आप साथ ना हो फिर भी उऩकी ब्रेस्टफीडिंग की आदत ना जाए तो धीरे धीरे बेबी को दूध के बोतल की आदत डालें। उन्हें इस आदत में ढलने में समय लगेगा इसलिए कुछ सप्ताह पहले से ऐसा करना शुरू करें ताकि बेबी का सेंसिटिव डाइजेस्टिव सिस्टम (पाचन तंत्र) इसके अनुरूप ढल जाए।
  3. ट्रॉयल करें : एक बार आपने सब कुछ सही कर लिया है तो इसका ट्रॉयल जरूर लें कि बच्चा इसके लिए रेडी है कि नहीं। पता कीजिए कि क्या तैयारी में कमी रह गई है और अगर आपको आने में कभी लेट हो जाए तो बैकअप प्लान क्या होना चाहिए।
  4. बच्चों को पता होना चाहिए : हम सबको लगता है कि बच्चों को समझ नहीं आता कि मां उनसे दूर हैं खासकर जब वो सो रहे हों लेकिन असल में ऐसा नहीं है। ऐसा करने से वो चिड़चिड़े हो जाएंगे।

इसका सबसे बेहतर उपाय है कि अपने बच्चे से बात करें और उन्हें समझाएं कि आप कुछ घंटों के लिए उनसे दूर रहेंगी।इससे बच्चे मानिसक रूप से तैयार रहेंगे और शांत भी रहेंगे।

इस आर्टिकल के बारे में अपने सुझाव और विचार कॉमेंट बॉक्स में ज़रूर शेयर करें | 

Source: theindusparent