इस मां की वजन कम करने की कहानी सुनिए आप भी..आपको भी मिलेगी प्रेरणा

lead image

तमन्ना सिंगापुर में रहने वाली मॉम है जिन्होंने पिछले साल 40 किलो वजन घटाया। यहां पढ़िए उनकी वजन कम करने की कहानी।

तमन्ना सिंगापुर में रहने वाली मॉम है जिन्होंने पिछले साल 40 किलो वजन घटाया। वो अपने वजन को लेकर काफी संघर्ष कर रही थीं।

उनका वजन 121 किलो हो गया था। उन्होंने शेयर किया कि मैं काफी फूडी थी और बड़े होने के दौरान मैं लोकल फूड और स्वादिष्ट खाने से खुद को दूर नहीं रख पाती थी। मी गोरेंग, चिकन राइस, प्राता मेरी कुछ फेवरिट डिश में से है।

इस अस्वस्थ्य लाइफस्टाइल के कारण काफी मुश्किल हो गई थी। वो दो तरह की डायबिटीज की शिकार हो गईं थी। उन्हें गैस्ट्रिक बैंड सर्जरी भी हो गई थी जो पेट के आकार को कम करने के लिए किया जाता है। सर्जरी के बाद लोगों का हमेशा पेट भरे होने का एहसास होता है और कम खाते हैं जिससे वजन भी कम होता है। 

इस मां की वजन कम करने की कहानी सुनिए आप भी..आपको भी मिलेगी प्रेरणा

कहना आसान होता है और करना मुश्किल, तमन्ना को इसके साइड इफेक्ट भी झेलने पड़े। उन्होंने कहा कि मेरी गैस्ट्रिक बैंड सर्जरी की गई। कई लोगों को लगा ये आसान रास्ता है लेकिन सर्जरी के बाद रिकवरी करना, धीरे धीरे खाना और फेंकना आसान नहीं होता है।

धीरे-धीरे उन्होंने कुछ वजन कम किया है और वो 94 किलो में फिर भी काफी हद तक संतुष्ट थी। लेकिन एक बच्चे को जन्म देने के बाद उन्हें एहसास हुआ कि उन्हें अपने बेबी के लिए मजबूत कदम उठाने पड़ेंगे।

उन्होंने कहा कि मेरा वजन मेरे या मेरे पति के लिए कभी भी चिंता का कारण नहीं था लेकिन बेबी होने के बाद मुझे प्रेरणा मिली कि मैं वजन कम करूं और हेल्दी रहूं। मैं दौड़ना चाहती हूं , उसके साथ खेलना चाहती हूं और हमेशा उसके साथ रहूं, उसका साथ दूं। मुझे पता था कि मुझे अब हेल्दी रहना है।

 
इस मां की वजन कम करने की कहानी सुनिए आप भी..आपको भी मिलेगी प्रेरणा

सबसे पहले उन्होंने एक पर्सनल ट्रेनर की मदद ली। डाइट के साथ साथ वो फिट रहने के लिए ऐसा शुरूआत करना चाहती थी जिससे वो इंज्वॉय कर सकें। मैंने इसके लिए जिम या एरोबिक क्लास की जगह टेनिस खेलना शुरू किया।

उन्होंने बताया कि एक ऐसा खेल चुनो जिसे आप पसंद करते हो और यही आपको प्रेरणा देता है।

इस साल उन्हें आखिरकार गैस्ट्रिक बैंड से छुटकारा मिल गया। उनके अनुसार सच्चाई ये है कि मैं सालों पहले गैस्ट्रिक बैंड सर्जरी करवाकर गलती कर चुकी थी। कई गहरे अल्सर से लेकर बिल्कुल भी ठोस आहार ना ले पाना तक का समय मैंने देखा है। आप कभी भी ये गलती ना करें या फिर आपने भी अगर ये सर्जरी करवाया है तो इस पर काम शुरू कीजिए और हेल्दी रहना सीखें, साफ सुथरा खाना खाएं क्योंकि सर्जरी के बाद जिंदगी आसान नहीं होती है।

 
इस मां की वजन कम करने की कहानी सुनिए आप भी..आपको भी मिलेगी प्रेरणा

बैंड हटाने के बाद वजन को बढ़ने देने से रोकना काफी मुश्किल था लेकिन तमन्ना ने अपना रास्ता खोज लिया।

 
इस मां की वजन कम करने की कहानी सुनिए आप भी..आपको भी मिलेगी प्रेरणा

फिलहाल तमन्ना 80 किलो की हैं लेकिन साथ ही 15 किलो और कम करन चाहती हैं। वो हर दिन व्यायाम करती हैं और अपनी डाइट सही रखती हैं। उनका कहना है कि मेरा संघर्ष बिल्कुल असली है लेकिन अपने बेटे के प्यार से बड़ा प्रेरणास्त्रोत कुछ हो ही नहीं सकता था जो वर्कआउट खत्म होने के बाद मुझे उससे मिलता है।

हम इनके जज्बे को सम्मान करते हैं और हमें पता है कि आप ये कर सकती हैं! #KeepFitSingapore

Written by

theIndusparent