WHAT..आमिर खान की थ्री इडियट्स के स्टाइल में नर्स करवा रही थी डिलीवरी..बच्चे की मौत

lead image

ना सिर्फ आरती और कल्पतरु सामल ने अपने पहले बच्चे को खोया बल्कि उनका गर्भाशय भी बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया।

क्या आपने ब्लॉकबस्टर फिल्म 3 इडियट्स देखी है?

अगर आपने देखी है तो आपको आमिर खान (रैंचो) का वो सीन याद होगा जिसमें वो पिंग-पॉन्ग टेबल पर वैक्युम क्लिनर की मदद से डिलीवरी करवाते हैं। वो अपनी दोस्त डॉ प्रिया (करीना कपूर) को कॉल करते हैं जो डिलीवरी करवाने में उनकी मदद करती है।

यह घटना ओडिशा में रियल लाइफ में हुई है।

बस अंतर इतना है कि यह मां, बेबी और नर्स के लिए काफी डरावना रहा।

 
src=https://www.theindusparent.com/wp content/uploads/2017/10/delivery copy.jpg WHAT..आमिर खान की थ्री इडियट्स के स्टाइल में नर्स करवा रही थी डिलीवरी..बच्चे की मौत

रिपोर्ट्स की माने तो केंद्रापाड़ा के साई अस्पताल की 3 नर्स ने मिलकर प्रेग्नेंट मम्मी आरती सामल की सी-सेक्शन सर्जरी करने की कोशिश की है और इसके लिए वो अपने अस्पताल की विशेषज्ञ डॉक्टर डॉ रश्मिकांत पात्रा से फोन पर बात कर रही थीं।

बदकिस्मती से इसका परिणाम काफी डरावना निकला और बच्चे की मौत हो गई और आरती सामल का गर्भाशय भी बुरी तरह क्षतिग्रस्त हो गया।

ऑपरेशन थियेटर में जो हुआ उसे जानने के बाद आरती सामल के पति कल्पतरु सामल बेबी के शव को लेकर केंद्रापाड़ा पुलिश स्टेशन पहुंचे और अस्पताल के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई।

उन्होंने इंडिया टुडे से बात करते हुए कहा कि जब हमने डॉ रश्मिकांत पात्रा से बात की तो उन्होंने मेरी पत्नी को अस्पताल में भर्ती कराने को कहा। उन्होंने कहा कि वो अस्पताल में नहीं है लेकिन नर्स से कॉर्डिनेट कर लेंगे। जब हम उसे एडमिट कराने अस्पताल पहुंचे तो वो वहां मौजूद नहीं थे और तब तक मेरी पत्नी की स्थिति नाजुक हो गई थी।

हमने अपने पहले बच्चे को खो दिया

बेहद दुखी कल्पतरु सामल ने यह भी बताया कि उन्हें नहीं पता था कि ऑपरेशन रुम में पत्नी का ऑपरेशन कौन कर रहा था।

src=https://www.theindusparent.com/wp content/uploads/2017/10/dead baby copy.jpg WHAT..आमिर खान की थ्री इडियट्स के स्टाइल में नर्स करवा रही थी डिलीवरी..बच्चे की मौत

उन्होंने शेयर किया कि मुझे नहीं पता ये किसने किया लेकिन मेरी पत्नी का ऑपरेशन हुआ और हमने पहले बच्चे को खो दिया। नर्स ने कहा कि वो डॉक्टर के साथ फोन पर बात कर रही हैं और उन्होंने अपना 100 प्रतिशत दिया। लेकिन यह सिर्फ अस्पताल के गैर जिम्मेदाराना रवैये की वजह से हुआ है।

इस मामले पर फिलहाल अस्पताल ने कोई बयान नहीं दिया है लेकिन ऐसा लगता है कि यह जल्दबाजी में सिजेरियन का केस है जिसमें बहुत अधिक सावधानी बरतने की जरुरत होती है। कई लोगों को नहीं पता होता कि इमरजेंसी में क्यों सी-सेक्शन किया जाता है।

इस केस से पता चलता है कि इस विषय को अच्छे से जानने की जरुरत है।

जानिए क्यों आपको इमरजेंसी सीजेरियन की जरुरत पड़ सकती है

कई बार आप सिजेरियन ना चाहते हों लेकिन आपको कुछ समस्याओं की वजह से सिजेरियन करवाना पड़ सकता है। नीचे दी गई बातें इन समस्याओं मे शामिल है।

  • बेबी को जितना जरुरत है उतना ऑक्सीजन नही मिल रहा हो
  • बेबी असामान्य पोजिशन में हो
  • लेबर नहीं बढ़ रहा हो
  • मां के गर्भ में दो से अधिक बेबी हो
  • गर्भनाल में कोई समस्या हो
  • जन्म नली में Fibroid obstruction हो
  • जन्म देने का मार्ग छोटा हो और बेबी बड़ा हो
  • प्रेग्नेंसी के दौरान बेबी या मां को किसी तरह की समस्या हो गई हो
  • बच्चे की हृद्यगति असामान्य हो और ये योनि जन्म के लिए नॉर्मल ना हो

किसी भी बाकी सर्जरी की तरह सिजेरियन में भी कई तरह के जोखिम होते हैं जो बच्चों के लिए काफी जोखिम भरा होता है।